ये पुत्र मोह के धागे...: CM गहलोत के बाद मंत्री महेश जोशी भी पुत्रमोह में, वक्फ सम्पत्ति पर बना दी क्रिकेट की पक्की पिच, तनाव की आशंका

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बाद उनके एक मंत्री महेश जोशी भी अब पुत्रमोह में पड़ गए हैं। बेटा सांसद का टिकट नहीं मांग रहा है, बल्कि वह क्रिकेट लीग कराना चाहता है। गहलोत अपने बेटे को सांसद नहीं बना पाए तो जोड़—तोड़ से आरसीए का चेयरमैन पद दिलवा दिया। परन्तु जोशी एक क्रिकेट लीग के लिए बेटे के मोह में ऐसे पड़े हैं कि वक्फ...

CM गहलोत के बाद मंत्री महेश जोशी भी पुत्रमोह में, वक्फ सम्पत्ति पर बना दी क्रिकेट की पक्की पिच, तनाव की आशंका

जयपुर | मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बाद उनके एक मंत्री महेश जोशी भी अब पुत्रमोह में पड़ गए हैं। बेटा सांसद का टिकट नहीं मांग रहा है, बल्कि वह क्रिकेट लीग कराना चाहता है। गहलोत अपने बेटे को सांसद नहीं बना पाए तो जोड़—तोड़ से आरसीए का चेयरमैन पद दिलवा दिया।

परन्तु जोशी एक क्रिकेट लीग के लिए बेटे के मोह में ऐसे पड़े हैं कि वक्फ बोर्ड की संपत्ती पर पिच का निर्माण करवा दिया। इस निर्माण के लिए अनुमति लेने की जरूरत भी नहीं समझी गई। यदि स्थिति कायम रही तो जयपुर में साम्प्रदायिक तनाव के हालात पैदा हो सकते हैं।

आपको बता दें कि जयपुर के आमेर रोड स्थित करबला मैदान पर क्रिकेट लीग के आयोजन को लेकर आयोजक और स्थानीय लोग आमने-सामने हैं। विरोध के बावजूद आयोजक कर्बला मैदान पर क्रिकेट लीग कराने पर अड़े हैं। क्रिकेट लीग का आयोजन शाम 5 बजे से होना है। स्थानीय बाशिंदों और अल्पसंख्यक संगठनों के विरोध को देखते हुए पुलिस भी अलर्ट है।

वहीं कर्बला मैदान पर विरोध के बावजूद आयोजकों की ओर से क्रिकेट लीग कराए जाने को लेकर अल्पसंख्यक संगठनों ने जलदाय मंत्री और क्षेत्रीय विधायक महेश जोशी के इस्तीफे की मांग की है।

दरअसल यह पूरा मामला रोहित जोशी से जुड़ा है जो कि क्रिकेट लीग के आयोजक हैं और जलदाय मंत्री महेश जोशी के बेटे हैं। अल्पसंख्यक संगठनों और स्थानीय लोगों ने मंत्री और मंत्री पुत्र खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

कर्बला मैदान पर ये है विरोध का कारण
दअसल कर्बला मैदान पर विरोध की वजह यह है कि कर्बला मैदान राजस्थान वक्फ बोर्ड की प्रॉपर्टी है। बावजूद इसके मंत्री पुत्र और आयोजकों ने क्रिकेट लीग के लिए वक्फ बोर्ड से न तो क्रिकेट लीग के आयोजन की परमिशन ली और बिना मंजूरी के ही कर्बला मैदान की वक्फ संपत्ति पर पक्का पिच निर्माण भी करा दिया, जिसको लेकर लोगों में ज्यादा रोष है।

Must Read : Rajasthan में 17 जनवरी से 5 फरवरी तक स्कूल स्तर पर ही होगी बोर्ड की प्रायोगिक परीक्षाएं
अतिक्रमण की कोशिश है यह

स्थानीय बाशिंदों और अल्पसंख्यक संगठनों कहना है कि क्रिकेट लीग के आयोजकों की ओर से वक्फ संपत्ति पर पक्का निर्माण करके अतिक्रमण करने का प्रयास किया गया है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। करबला ग्राउंड में पिछले 200 सालों से मोहर्रम पर्व पर जयपुर और आसपास के क्षेत्रों के ताजिए दफन किए जाते हैं। करबला मैदान अल्पसंख्यक वर्ग की धार्मिक आस्था का केंद्र है, उसे खेल नहीं बनाना चाहिए।

वक्फ बोर्ड भी मंत्री के दबाव में
इधर अल्पसंख्यक संगठनों के विरोध के बाद राजस्थान वक्फ बोर्ड ने भी पक्के पिच निर्माण को अतिक्रमण मानते हुए उसे तोड़ने के निर्देश दिए थे लेकिन बावजूद अभी तक पक्का निर्माण नहीं तोड़ा गया। ऐसे में अंदर खाने चर्चा है कि वक्फ बोर्ड भी मंत्री के दबाव में है।

विरोध की आशंका के चलते पुलिस अलर्ट
कर्बला मैदान पर होने वाली क्रिकेट लीग का आगाज मंगलवार शाम 5 बजे से होने जा रहा है। क्रिकेट लीग में 100 टीमों को बुलाया गया है। वहीं क्रिकेट लीग के आगाज के दौरान अल्पसंख्यक संगठनों की ओर से विरोध की चेतावनी मिलने के बाद पुलिस भी अलर्ट हो गई है। कर्बला मैदान के आसपास पुलिस को तैनात किया गया। आयोजन के दौरान कोई अनहोनी ना हो इसके भी निर्देश दिए गए हैं।

हाशिए पर चल रहे कांग्रेस नेताओं ने शुरू की क्रिकेट लीग
वहीं कांग्रेस गलियारों में चर्चा है कि इन दिनों पार्टी में हाशिए पर चल रहे कुछ कांग्रेस के नेताओं की ओर से राजधानी जयपुर में क्रिकेट लीग का आयोजन शुरू किया गया है। इसका उद्घाटन रविवार को मानसरोवर क्रिकेट ग्राउंड में किया गया था और अब राजधानी जयपुर के सभी विधानसभा क्षेत्रों में इस क्रिकेट लीग का अलग-अलग आयोजन किया जा रहा है। हवामहल विधानसभा क्षेत्र में होने वाले क्रिकेट लीग का आयोजन जलदाय मंत्री महेश जोशी के पुत्र रोहित जोशी के हाथों में है।

इनका कहना है
पुत्रमोह में मंत्री महेश जोशी अल्पसंख्यक वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत भड़काने का काम कर रहे हैं, सरकार इस मामले में तुरंत संज्ञान ले अन्यथा विरोध के दौरान कानून व्यवस्था बिगड़ती है तो फिर उसकी जिम्मेदारी मंत्री जोशी की होगी।
- यूनुस चौपदार, अध्यक्ष, मुस्लिम परिषद संस्थान

पूर्व राज्यमंत्री नियाजी ने भी जताया विरोध
पूर्व राज्यमंत्री व मीर कुर्बान अली दरगाह के सज्जादानशीन हबीबुर्रहमान नियाजी ने कर्बला मैदान में बनाए गए पक्के क्रिकेट पिच को लेकर बयान दिया है। नियाजी ने कहा कि सरकार अल्पसंख्यकों को कुछ दे या ना दे पर कम से कम उनसे छीनने की कोशिश तो ना करे। गौरतलब है कि जयपुर के कर्बला मैदान में क्रिकेट की पक्की पिच बनाई गई है। इसे लेकर विरोध शुरू हो गया है। हबीबुर्रहमान नियाजी ने कहा कि गहलोत सरकार अल्पसंख्यकों को कुछ दे तो नहीं रही है। लेकिन जो है उसको छीनने की कोशिश ना करे। नियाजी ने कहा 'मुझे जैसे ही यह मालूम चला कि कर्बला मैदान में अवैध रूप से निर्माण करवाकर टूर्नामेंट करवाया जा रहा है मैं इसका विरोध कर रहा हूं। विरोध करता रहूंगा।

Must Read: भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने आरएएस भर्ती परीक्षा में शिक्षा मंत्री के रिश्तेदारों के चयन पर उठाए सवाल

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :