स्वास्थ्य से खिलवाड़: ब्रांडेड कंपनी के डिब्बों की आड़ में नकली घी के उपयोग का खुलासा, पुलिस द्वारा मौके से 180 किलो नकली घी भी जब्त

अंबाजी में भादरवी पूनम मेले में प्रसाद बनाने में ब्रांडेड कंपनी के डिब्बों की आड़ में नकली घी के उपयोग का खुलासा, प्रसाद बनाने वाली कैटर्स फर्म संचालक गिरफ्तार, सप्लायर्स फरार, पुलिस द्वारा मौके से 180 किलो नकली घी भी जब्त किया गया है।

ब्रांडेड कंपनी के डिब्बों की आड़ में नकली घी के उपयोग का खुलासा, पुलिस द्वारा मौके से 180 किलो नकली घी भी जब्त
ब्रांडेड कंपनी के डिब्बों की आड़ में नकली घी के उपयोग का खुलासा

सिरोही।  भादरवी पूनम मेलें में समीपवर्ती गुजरात के अंबाजी मंदिर में प्रसाद को तैयार करने के काम में लिया गया जिस अमूल के लेबल वाले घी का उपयोग किया गया था वह जांच में नकली पाया गया है।  इस पर संबंधित कैटर्स संचालक को गिरफ्तार किया गया है। हालांकि, घी सप्लायर्स फर्म संचालक फरार हो गया।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार आरोपी से अब तक की प्राप्त जानकारी के अनुसार कैटर्स फर्म द्वारा यह घी अहमदाबाद की फर्म से सप्लाई किया गया था। देश के शक्तिपीठों में शामिल अबाजी का मोहनथाल फिर सुर्खियों में आ गया है।

इस बार इसकी वजह नकली घी है। अंबाजी में आयोजित भादरवी पूनम मेले के दौरान श्रद्धालुओं को प्रसाद बनाने का काम मोहिनी कैटरर्स को दिया गया था। मोहिनी कैटरर्स द्वारा मोहन थाल प्रसाद के निर्माण इस्तेमाल किए गए घी के नमूने जांच में फेल पाए गए गए हैं। जांच के दौरान कैटरर्स के यहां से 180 किलो नकली घी मिला था।

इस पूर मामले को लेकर साबर डेयरी ने कैटरिंग फर्म के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। इस नकली घी को अमूल के ब्रांडिंग वाले डिब्बों में पैक किया गया था। 

गुणवता मानकों में फेल हुए नकली घी के सैंपल -
पुलिस के अनुसार बनासकांठा जिले के अंबाजी मंदिर में मोहन थाल प्रसाद तैयार करने के लिए नकली घी की आपूर्ति करने के आरोप में मोहिनी कैटरर्स कंपनी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। कंपनी ने 'अमूल' का लेबल लगे नकली घी की आपूर्ति की थी।

अधिकारियों ने कहा कि गुजरात खाद्य एवं औषधि नियंत्रण प्रशासन (जीएफडीसीए) ने अंबाजी मंदिर में आरोपी कंपनी की ओर से आपूर्ति किए गए घी के नमूने एकत्र किए थे, जो प्रयोगशाला परीक्षण के दौरान आवश्यक गुणवत्ता मानकों को पूरा करने में विफल रहे। 

प्रसाद बनाने वाली फर्म ने नीलकंठ ट्रेडर्स से खरीदा था घी -
पुलिस के अनुसार इस मामले मोहिनी कैटर्स के संचालक अहमदाबाद निवासी जातिनशाह को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई तो सामने आया कि फर्म द्वारा अहमदाबाद की नीलकंठ ट्रेडर्स के दुष्यंत सोनी से यह 300 किलो घी खरीदा गया था। उसमे से 120 किलो का उपयोग भी हो गया था। मामले की अग्रिम जांच जारी है।

Must Read: एकतरफा प्यार में युवक ने छात्रा पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगायी, हालत गंभीर

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :