Taliban की भारत को धमकी: अफगानिस्तान पर कब्जा कर रहा तालिबान ने भारत को दी धमकी, कहा अफगानिस्तान में सेना भेजी तो अच्छा नहीं होगा...

अफगानिस्तान पर कब्जा कर रहे तालिबान ने भारत को धमकी दी है।  अफगानिस्तान के कंधार सहित 19 प्रांतों पर कब्जा कर चुके तालिबानी आतंकियों ने अब भारत को अफगानिस्तान की मदद नहीं करने की अपील की है। तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद सुहैल शाहीन ने यहां तक कहर दिया अगर भारत ने अफगानिस्तान में सेना भेजी तो यह अच्छा नहीं होगा।

अफगानिस्तान पर कब्जा कर रहा तालिबान ने भारत को दी धमकी, कहा अफगानिस्तान में सेना भेजी तो अच्छा नहीं होगा...

नई दिल्ली।
अफगानिस्तान(Afghanistan) पर कब्जा कर रहे तालिबान(Taliban) ने भारत को धमकी दी है। अफगानिस्तान के कंधार(Kandahar) सहित 19 प्रांतों पर कब्जा कर चुके तालिबानी आतंकियों(Taliban militants) ने अब भारत को अफगानिस्तान की मदद नहीं करने की अपील की है। तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद सुहैल शाहीन(Mohammad Suhail Shaheen) ने यहां तक कहर दिया अगर भारत ने अफगानिस्तान में सेना भेजी तो यह अच्छा नहीं होगा। अफगानिस्तान में दूसरे देशों की सेना का हाल आप देख चुके है। वहीं तालिबान के इस बयान के बाद भारत ने भी दो टूक में जवाब देते हुए कह दिया कि अफगानिस्तान में ताकत के बल पर बनी सरकार को मान्यता नहीं देंगे। भारत के अलावा जर्मनी, कतर, तुर्की और कई अन्य देशों ने अफगानिस्तान में हिंसा और हमले तुरंत रोकने की अपील की है।


आजा सुबह शरना पर कब्जे का दावा
तालिबान (Taliban) लगातार अगफानिस्तान पर कब्जा करता जा रहा है। ऐसा बताया जा रहा है कि शनिवार सुबह अफगान के शरना पर भी तालिबानियों ने कब्जा कर लिया। तालिबान प्रवक्ता शाहीन(Taliban spokesman Shaheen) ने कहा कि  यहां भीषण लड़ाई के बाद कब्जा हुआ है। वहीं दूसरी ओर शाहीन ने यह भी दावा किया है कि अफगान में दूसरे देशों के दूतावासों और अधिकारियों को तालिबान से कोई खतरा नहीं है। ये बात हम कई बार कह चुके हैं और ये हमारा कमिटमेंट है।  भारतीय डेलिगेशन(Indian delegation) से बातचीत की रिपोर्ट की पुष्टि नहीं की है। उसने कहा है कि बीते दिन दोहा में हुई एक मीटिंग में भारतीय डेलिगेशन शामिल जरूर हुए थे,लेकिन अलग से हमारी कोई मीटिंग नहीं हुई है। तालिबानी प्रवक्ता ने यहां तक कहा कि अफगानी जमीन(Afghani land) का इस्तेमाल किसी भी देश के खिलाफ नहीं होगा। उन्होंने पाकिस्तान(Pakistan) के आतंकी संगठनों से गहरे रिश्तों की बात को गलत बताया है। आरोप सिर्फ कुछ तय नीतियों और राजनीति लक्ष्यों की वजह से लगाए जाते हैं। तालिबान ने दावा किया है कि उसने शनिवार सुबह पक्तिया प्रांत की राजधानी शरना को भी कब्जे में ले लिया है। यहां पर भारी हथियार बरामद किए गए हैं। तालिबान काबुल एयरपोर्ट(Kabul Airport) के अब महज एक घंटे की दूरी पर है। दो दिन पहले तक कयास लगाए जा रहे थे कि तालिबान को काबुल पहुंचने में 90 दिन लगेंगे, लेकिन वह काफी तेजी से आगे बढ़ते हुए अब काबुल पर कब्जा करने के करीब है।

Must Read: अफगानिस्तान के काबुल में क्रिकेट मैच के दौरान आत्मघाती हमला, अफरा-तफरी के बीच भागे खिलाड़ी

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :