भारत में रूसी विदेश मंत्री का दौरा: रूस &यूक्रेन युद्ध के बीच रूसी विदेश मंत्री की भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात, पीएम मोदी ने यूक्रेन मामले पर की चर्चा

विदेश मंत्री लावरोव ने प्रधानमंत्री को वर्तमान में चल रही शांति वार्ता समेत यूक्रेन की संपूर्ण परिस्थिति के बारे में जानकारी दी। प्रधानमंत्री ने हिंसा की शीघ्र समाप्ति के अपने आह्वान को दोहराया और शांति प्रयासों में किसी भी योगदान के लिए भारत की प्रतिबद्धता से अवगत कराया।

रूस &यूक्रेन युद्ध के बीच रूसी विदेश मंत्री की भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात, पीएम मोदी ने यूक्रेन मामले पर की चर्चा


नई दिल्ली, एजेंसी। 
विदेश मंत्री लावरोव ने प्रधानमंत्री को वर्तमान में चल रही शांति वार्ता समेत यूक्रेन की संपूर्ण परिस्थिति के बारे में जानकारी दी। प्रधानमंत्री ने हिंसा की शीघ्र समाप्ति के अपने आह्वान को दोहराया और शांति प्रयासों में किसी भी योगदान के लिए भारत की प्रतिबद्धता से अवगत कराया।
रूस के विदेश मंत्री ने दिसंबर 2021 में आयोजित भारत-रूस द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के दौरान लिए गए विभिन्न निर्णयों की प्रगति के बारे में भी प्रधानमंत्री को जानकारी दी।  
पीएमओ की ओर से जारी एक बयान में बताया कि लावरोव ने पीएम मोदी को यूक्रेन में चल रही शांति वार्ता सहित वहां की स्थिति की जानकारी दी। 
इस दौरान नरेंद्र मोदी ने यूक्रेन में हिंसा समाप्त करने की अपील को दोहराया। मोदी ने कहा कि भारत शांति प्रयासों में किसी भी योगदान के लिए तैयार है। रूसी विदेश में लावरोव तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर करीब 40 मिनट तक चर्चा की गई। 
भारत में रूसी विदेश मंत्री का दौरा अभी इस लिए भी महत्वपूर्ण बताया जा रहा है क्योंकि ब्रिटेन, आस्ट्रिया, ग्रीस, ब्रिटेन तथा मेक्सिको ​सहित करीबन एक दर्जन देशों के मंत्री, सलाहकार भारत दौरा कर चुके।
ऐसे में रूसी विदेश मंत्री का दौरे को लेकर यह कयास लगाए जा रहे है कि भारत रूस तथा यूक्रेन के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभा सकता है। 
लावरोव ने भी भारत की इस भूमिका को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी थी। रूसी विदेश मंत्री की ओर से कहा गया कि भारत एक महत्वपूर्ण देश है।
 भारत ऐसी भूमिका निभा सकता है, जिसमें वो तार्किक रहते हुए अंतरराष्ट्रीय मसलों को सुलझाने के सुझाव दे सके। आपको बता दें कि दो दिन पहले ही यूक्रेन के विदेश मंत्री ने जंग रोकने के लिए भारत को रूस के साथ अपने प्रभाव का उपयोग करने की बात कही थी। 

Must Read: विदेश मंत्रालय : भारत ने सलमान रुश्दी पर हमले की निंदा की, उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :