Rajasthan-Gujarat @ पेट्रोल—डीजल की रेट : राजस्थान के सिरोही जिले में पेट्रोल 112.63 रुपए लीटर तो गुजरात में मिल रहा है 95.68 रुपए लीटर, डीजल में भी 10 रुपए तक का अंतर

सिरोही जिले व गुजरात राज्य में मिलने वाला डीजल-पेट्रोल की कीमतों में अंतर बढ़ गया हैं। यही कारण है कि गुजरात राज्य से राजस्थान के सीमावर्ती जिले के इलाकों में डीजल-पेट्रोल की तस्करी बढ़ती जा रही हैं। सिरोही जिले व गुजरात राज्य में एक लीटर पेट्रोल पर करीब 18 रुपए का अंतर हैं वहीं एक लीटर डीजल पर भी करीब 10 रुपए का फर्क है

राजस्थान के सिरोही जिले में पेट्रोल 112.63 रुपए लीटर तो गुजरात में मिल रहा है 95.68 रुपए लीटर, डीजल में भी 10 रुपए तक का अंतर


गणपतसिंह मांडोली / गौरव अग्रवाल

फर्स्ट भारत-सिरोही। (firstbharat.in )

सिरोही जिले व गुजरात राज्य में मिलने वाला डीजल-पेट्रोल की कीमतों में अंतर बढ़ गया हैं। यही कारण है कि गुजरात राज्य से राजस्थान के सीमावर्ती जिले के इलाकों में डीजल-पेट्रोल की तस्करी बढ़ती जा रही हैं। सिरोही जिले व गुजरात राज्य में एक लीटर पेट्रोल पर करीब 18 रुपए का अंतर हैं वहीं एक लीटर डीजल पर भी करीब 10 रुपए का फर्क हैं। यही कारण है कि गुजरात सीमा पर लगते पेट्रोलपंपों पर डीजल-पेट्रोल की बिक्री बढ़ी है वहीं सिरोही जिले के पेट्रोलपंपों पर डीजल-पेट्रोल की बिक्री घट गई हैं। गुजरात के पेट्रोलपंप पर वाहनों की कतारें लग रही है तो वहीं सिरोही जिले के पेट्रोलपम्प सुने नजर आ रहे हैं। आगामी समय में भी अगर यही हाल रहा तो जिलेभर में कई पेट्रोलपंप बंद होने के कगार पर पहुंच जाएंगे।

वाहनों की टंकी फूल करवाने जाते है गुजरात

पडौसी राज्य गुजरात में पेट्रोल-डीजल के भावों में काफी अंतर होने से पैसा बचाने के लिए सीमावर्ती क्षेत्र के लोग चारपहिया ही नहीं बल्कि दुपहिया वाहन चालक भी अपने वाहन की टंकी फूल करवाने के लिए गुजरात के चक्कर लगा रहे हैं। पडौसी राज्य में कीमतों में काफी अंतर होने से इसकी तस्करी भी बढ़ गई हैं। गुजरात में कम दाम में डीजल व पेट्रोल मिल जाता हैं ऐसे में तस्कर गाड़ियों में ड्रमों में भरकर सिरोही जिले में बेचकर अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। यही कारण है कि पिछले काफी समय से पेट्रोल पंप संचालकों को इसका काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। नतीजतन सीमावर्ती क्षेत्र के गांवों में किराणा दुकानों पर भी धड़ल्ले से बिक रहा हैं। सिरोही जिला पेट्रोलपंप एसोसिएशन अध्यक्ष संदीप जायसवाल की माने तो सिरोही जिले के पेट्रोलपंपों की बिक्री 50 फीसदी से भी ज्यादा घट गई है। वहीं पडौसी राज्य में पेट्रोल-डीजल की कीमत में अंतर होने से करीब तीन गुना बिक्री बढ़ गई है। इस तरह से ही अगर तस्करी बढ़ती रही और स्थिति यही रही तो सिरोही जिले के काफी पंप बंद हो जाएंगे।

राजस्थान के मंत्री का गुजरात के पंप पर वाहन की टंकी फूल करवाने का वीडियो हुआ था वायरल

राजस्थान सरकार के कैबिनेट मंत्री और हाल ही में पडौसी राज्य गुजरात के प्रभारी बनाए गए मंत्री जी गुजरात प्रवास से लौटते वक्त गुजरात के ही एक पेट्रोलपंप पर अपनी गाड़ी का टैंक फूल करवाते नजर आए थे। दरअसल पिछले दिनों गुजरात प्रवास पर गए मंत्री लौट रहे थे तो उन्होंने अपनी कार का फ्यूल टैंक फुल करवाया गया था जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था जो कि काफी चर्चा का विषय रहा था।

कीमतों में अंतर होने का मुख्य कारण


केंद्र से घटी एक्साइज ड्यूटी लेकिन राजस्थान में वैट बरकरार 

राजस्थान व गुजरात में पेट्रोल-डीजल की कीमत में बड़ा अंतर हैं हालांकि ये अंतर पहले से है लेकिन हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा घटाई गई एक्साइज ड्यूटी के बाद गुजरात सरकार ने भी अपने वैट टैक्स को भी सात रुपए कम किया है वहीं राजस्थान सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर लगाए जा रहे वैट में राहत नहीं देने से यह अंतर काफी बढ़ गया हैं। गौरतलब है कि केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी घटाने के बाद कई प्रदेश सरकारों ने भी वैट टैक्स को कम किया हैं। ऐसे में अब प्रदेशवासियों को भी पेट्रोल-डीजल पर वैट कम होने का इंतजार हैं।

इससे पहले बायोडीजल ने उड़ाई थी पेट्रोलपंप संचालकों की नींद
इससे पहले अवैध बायोडीजल बिक्री ने जिलेभर के पेट्रोलपंप संचालकों की नींद उड़ा दी थी। पहले जब राजस्थान-गुजरात में पेट्रोल डीजल की कीमतों में अंतर कम था तब सिरोही जिले में बायोडीजल की खुद तस्करी और बिक्री हुई जिससे पेट्रोलपंप संचालकों को काफी नुकसान हुआ।राजमार्ग के होटल-ढाबों पर गुजरात राज्य से सस्ते दाम में बायोडीजल मंगवाकर वाहन चालकों को बेचा जाता था। जिला पेट्रोलपंप एसोसिएशन ने इस बाबत जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर कार्रवाई की मांग की गई थी। प्रशासन ने बाद में अवैध बायोडीजल पर अभियान चलाकर कई कार्रवाई को अंजाम दिया था।जिले के पंप संचालको को बायोडीजल से थोड़ी राहत मिली थी कि अब पडौसी राज्य गुजरात मे दाम घटे तो अब वाहन चालक गुजरात जाकर वाहनों में तेल भरगाकर आ रहे हैं।गुजरात के पेट्रोलपंपों पर जिले समेत राजस्थान के वाहन अधिक डीजल-पेट्रोल भरवाते नजर आ रहे है।

इनका कहना है-

गुजरात व राजस्थान में पेट्रोल के दाम में करीब 18 रुपये व डीजल के दाम में करीब 10 रुपये का अंतर हो गया हैं।ऐसे में राज्य सरकार को इस तरफ ध्यान देना चाहिए।जिले के पेट्रोलपंपों की बिक्री 50 फीसदी से भी ज्यादा घट गई हैं।जिलेभर में सरेआम डीजल-पेट्रोल की तस्करी हो रही हैं।
संदीप जायसवाल,
अध्यक्ष,जिला पेट्रोलपंप एसोसिएशन सिरोही

Must Read: Jalore के हाडेचा में विद्यालय के जर्जर भवन को देख आगे आए समाज के भामाशाह भंसाली, विद्यालय और पशु चिकित्सालय भवन बनाने की जताई इच्छा

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :