राजस्थान विधानसभा चुनाव : राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में 33 पर नाम तय होने की खबर! सिरोही बनी हॉट सीट।

राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में 33 पर नाम तय होने की खबर! सिरोही बनी हॉट सीट।

राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में 33 पर नाम तय होने की खबर! सिरोही बनी हॉट सीट।
राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में 33 पर नाम तय होने की खबर!

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में 33 सीटों पर नाम तय माने जा रहे हैं जिसकी पहली सूची जल्दी जारी हो जाएगी। सामने आई खबर में सिरोही का नाम सम्मिलित नहीं है, सिरोही सीट पर भाजपा जोखिम लेने के मुड़ में नहीं है।

एक तरफ राजस्थान में 33 सीटों पर नाम तय माने जा रहे है तो दूसरी तरफ सिरोही सीट पर विवाद सामने आया है। लंबे समय से सिरोही से टिकट की दावेदारी कर रहे भाजपा के पूर्व अध्यक्ष नारायण पुरोहित के विरुद्ध उनके ही युवा नेता हेमंत पुरोहित का वीडियो सामने आया है जिसमे उन्होंने नारायण पुरोहित को टिकट दिए जाने पर निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा की है।

इस वीडियो के सामने आने से पूर्व जिलाध्यक्ष नारायण पुरोहित केलिए टिकट मिलने की संभावना में कमी यकीनन आयेगी। सिरोही में भाजपा केलिए यह अच्छी खबर नहीं मानी जा सकती। वैसे भी इस सीट से कई साधु संतों के नाम सामने आ रहे हैं।

राजस्थान के 200 विधानसभा में 33 सीटों पर नाम तय माने जा रहे हैं, जिनकी घोषणा शीघ्र हो सकती है। एक साइट पर छपी खबर के अनुसार जिन 33 सीटों पर नाम तय माने जा रहे हैं उनमें गाढ़ी से कैलाशचंद्र मीणा, सलूंबर से अमृतलाल, मावली से धर्मनारायण जोशी, गाढ़ी से कैलाशचंद्र मीणा, मनोहर थाना से गोविंद प्रसाद, रामगंज मंडी से मदन दिलावर, कुंभलगढ़ से सुरेंद्रसिंह राठौड़, राजसमंद से दीप्ति महेश्वरी, चित्तौड़ से चंद्रभान, डग से कालूराम,  लाडपुरा से कल्पना देवी का नाम सामने आया है, इन नामों पर मुहर लग सकती है।

इन सीटों के अतिरिक्त वसुंधरा राजे सिंधिया, अनिता भदेल, जोगेश्वर गर्ग, पूराराम चौधरी, हेमाराम गरासिया, सुरेश रावत,राजेंद्र राठौड़, सतीश पूनिया, बिहारीलाल बिश्नोई, आदि लोग तय उम्मीदवार माने जा रहे हैं। हेमाराम गरासिया पिंडवाड़ा विधानसभा से आते हैं, खबर के अनुसार इनकी घोषणा हो सकती है। सुमेरपुर से जोराराम कुमावत, पाली से ज्ञानचंद परख, बाली से पुष्पेंद्र सिंह, सोजत से शोभा चौहान के नाम भी तय माने जा रहे हैं।

माना जा रहा है कि केंद्र नेतृत्व मध्यप्रदेश की तर्ज पर कुछ विधानसभा क्षेत्रों में सांसदों व केंद्रीय मंत्रियों को उतार सकती है। भाजपा इस बार किसी भी प्रकार की कमी नहीं रखना चाहती तथा कुछ सांसदों को मैदान में उतार सकती है। भाजपा किसी भी प्रकार का जोखिम उठाने को तेयार नहीं है।

खबर के अनुसार अक्टूबर के प्रथम सप्ताह तक पहली सूची जारी हो सकती है। केंद्रीय नेतृत्व अमित शाह व जेपी नड्डा गुरुवार को भाजपा के साथ संघ के नेताओं से बैठक कर पहली सूची जारी कर सकते हैं। दोनो नेताओं के आज ही जयपुर पहुंचने की बात की जा रही हैं।

Must Read: सरकार ने 1 माह में 29 जिलों की 3877 ग्राम पंचायतों में लगाए शिविर, 3 लाख से अधिक नामान्तरण, राजस्व रिकॉर्ड की 4 लाख प्रतियों का वितरण

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :