भारत: एसजीपीसी प्रमुख ने पाकिस्तान में सिख महिला का निकाह करने वाले आरोपियों के लिए सख्त सजा की मांग की

अमृतसर, 22 अगस्त (आईएएनएस)। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के अध्यक्ष अधिवक्ता हरजिंदर सिंह धामी ने पाकिस्तान में एक सिख महिला के अपहरण और उसका निकाह करने की घटना की कड़ी निंदा की है।उन्होंने कहा कि यह अल्पसंख्यक सिखों के साथ घोर

एसजीपीसी प्रमुख ने पाकिस्तान में सिख महिला का निकाह करने वाले आरोपियों के लिए सख्त सजा की मांग की
अमृतसर, 22 अगस्त (आईएएनएस)। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के अध्यक्ष अधिवक्ता हरजिंदर सिंह धामी ने पाकिस्तान में एक सिख महिला के अपहरण और उसका निकाह करने की घटना की कड़ी निंदा की है।

उन्होंने कहा कि यह अल्पसंख्यक सिखों के साथ घोर अन्याय है और इस मामले में दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

एसजीपीसी प्रमुख ने कहा कि पाकिस्तान में इस तरह की सिख विरोधी गतिविधियां लगातार हो रही हैं, लेकिन दुख की बात है कि पाकिस्तान सरकार ध्यान नहीं दे रही है।

धामी ने कहा कि अपहरण के बाद हाल ही में सिख शिक्षिका दीना कौर के निकाह की घटना से सिख समुदाय में नाराजगी है।

धामी ने कहा, यह घटना पूरी तरह से धर्म (धार्मिकता) के मूल्यों के खिलाफ है, और यह सांप्रदायिक सोच को भी बढ़ावा देती है, जो पाकिस्तान सरकार के लिए एक बड़ा सवाल है। अगर ऐसी घटनाओं को नहीं रोका गया, तो पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों में असुरक्षा की भावना बढ़ जाएगी।

एसजीपीसी प्रमुख ने कहा कि भारत सरकार को भी इस गंभीर मामले पर संज्ञान लेना चाहिए।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस. जयशंकर से दोषियों को कड़ी सजा सुनिश्चित करने और सिख महिला को उसके परिवार को सुरक्षित वापस करने के लिए राजनयिक स्तर पर कार्रवाई करने की अपील की।

धामी ने कहा कि केंद्र को भारत में पाकिस्तान के राजदूत को तलब करना चाहिए और घटना के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराना चाहिए।

--आईएएनएस

आरएचए/एएनएम

Must Read: उत्तराखंड पुलिस का ऑपरेशन मुक्ति अभियान, देहरादून एसएसपी ने दिखाई रैली को हरी झंडी

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :