America@ क्वाड की साझेदारी से वैक्सीनेशन: भारत में अगले साल तक क्वाड की साझेदारी से बनाएंगे 100 करोड़ डोज:अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन

ग्लोबल कोविड समिट में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना वैक्सीन को लेकर चर्चा की। अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि क्वाड के चारों देश अमेरिका, भारत, आस्ट्रेलिया, जापान की साझेदारी से 2022 तक भारत में 100 करोड़ वैक्सीन डोज बनाने की राह पर चलेगा।

भारत में अगले साल तक क्वाड की साझेदारी से बनाएंगे 100 करोड़ डोज:अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन

नई दिल्ली, एजेंसी।
ग्लोबल कोविड समिट(Global Covid Summit) में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन(Joe Biden) ने कोरोना वैक्सीन को लेकर चर्चा की। अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि क्वाड के चारों देश अमेरिका, भारत, आस्ट्रेलिया, जापान की साझेदारी से 2022 तक भारत में 100 करोड़ वैक्सीन डोज बनाने की राह पर चलेगा। उन्होंने कहा कि आज के दौर में कोरोना को हराने से ज्यादा अहम कुछ और नहीं हैं।अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि हम क्वाड के साथ पार्टनर देशों, फार्मा कंपनियों और मैन्युफैक्चरर के साथ मिलकर वैक्सीन बनाने की क्षमता को बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं। बाइडेन ने बताया कि दक्षिणी अफ्रीका में वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग बढ़ाने में सहयोग करने के साथ आर्थिक सहायता भी दी जा रही है। अफ्रीका में जॉनसन एंड जॉनसन की 50 करोड़ वैक्सीन डोज तैयार करने का काम चल रहा है। 
अमेरिका गरीब देशों को दान करेगा वैक्सीन: बाइडेन
अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने घोषणा की कि विश्व के गरीब और मध्यम आय वर्ग के देशों के लिए अमेरिका वैक्सीन दान करेगा। अमेरिका की ओर से 50 करोड़ अमेरिकी फाइजर वैक्सीन डोज खरीकर जरूरतमंद देशों तक पहुंचाई जाएगी। फिलहाल अमेरिका 100 देशों तक 16 करोड़ वैक्सीन डोज उपलब्ध करा चुका है।

भारत में कोरोना की दूसरी लहर में विश्व ने की मदद:मोदी
ग्लोबल कोविड समिट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि जब भारत कोरोना की दूसरी लहर से गुजर रहा था तो उस समय दुनिया ने भारत की मदद की थी। मोदी ने कहा कि दुनियाभर के देशों को वैक्सीन प्रमाणपत्र को आसान बनाना चाहिए। इसके साथ ही देशों को इस बात का भी ध्यान रखा जाना चाहिए कि वैक्सीन के लिए कच्चे माल की आपूर्ति किसी प्रकार से बाधित नहीं हो। मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन की वैक्सीन डोनेशन डबल करने की पहल की भी सराहना की। गौरतलब है कि बाइडेन ने बुधवार शाम घोषणा की थी कि अमेरिका 50 करोड़ वैक्सीन डोनेशन को अब 1 अरब करेगा। कोविड समिट में मोदी ने कहा कि भारत के फार्मा उद्योगों ने कम कीमत में डायग्नोस्टिक किट, दवाएं, मेडिकल उपकरण और पीपीई किट का प्रोडक्शन किया है। इस उत्पादन से कई देशों को सस्ता सामान खरीदने का विकल्प मिला है। 

Must Read: नाइजीरिया और चीन ने समकक्ष अस्पतालों के लिए एक सहयोग तंत्र की स्थापना के लिए आशय पत्र पर हस्ताक्षर किया

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :