सीएम को मरीज की शिकायत, एक्शन में मंत्री: मरीज के परिजनों की सीएम से शिकायत के बाद एक्शन में आए चिकित्सा मंत्री, 2 वार्ड बॉय गिरफ्तार,अब बैड पर ही मिलेगी दवाइयां

राजधानी के सवाई मान सिंह अस्पताल में अव्यवस्थाओं की शिकायत चिकित्सा मंत्री के सामने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को करने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया। चिकित्सा मंत्री ने मामले को गंभीरता से लेते हुए अब ​मरीज को वार्ड में ही दवा पहुंचाने के निर्देश ​दे दिए।

मरीज के परिजनों की सीएम से शिकायत के बाद एक्शन में आए चिकित्सा मंत्री, 2 वार्ड बॉय गिरफ्तार,अब बैड पर ही मिलेगी दवाइयां

जयपुर। 
राजधानी के सवाई मान सिंह अस्पताल में अव्यवस्थाओं की शिकायत चिकित्सा मंत्री के सामने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को करने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया। चिकित्सा मंत्री ने मामले को गंभीरता से लेते हुए अब ​मरीज को वार्ड में ही दवा पहुंचाने के निर्देश ​दे दिए। चिकित्सा मंत्री ने अधिकारियों की साथ ट्रोमा सेंटर के स्टाफ की क्लास ली। वहीं दूसरी ओर मरीजों की शिकायत के बाद ट्रोमा सेंटर के 2 वार्ड बॉय को गिरफ्तार करवाया गया। इन दोनों पर 300—300 रुपए लेने के आरोप है।
चिकित्सा मंत्री के दौरे के दौरान प्रमुख शासन सचिव वैभव गालरिया, एसएमएस अस्पताल के प्रिंसिपल और अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।


चिकित्सा मंत्री मीणा ने सभी डॉक्टर्स और एचओडी को यह निर्देश दिए कि चिकित्स जो दवाइयां लिखे, उसे वार्ड में ही मरीज के बैड तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि सरकार 969 से ज्यादा दवा नि:शुल्क उपलब्ध करवा रही है। 
चिकित्सा मंत्री ने यहां तक कहा कि जो दवा नि:शुल्क स्टॉक में नहीं आती है, उसे अस्पताल परिसर के अंदर ही लाइफ लाइन या दूसरे स्टोर से उपलब्ध करवाई जाए। ताकि दवा की पर्ची लेकर मरीज के परिजनों को भटकना नहीं पड़े।


मुख्यमंत्री को घेर परिजनों ने की थी शिकायत
गौरतलब है कि गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और चिकित्सा मंत्री मीणा एसएमएस अस्पताल गए थे। इस दौरान ट्रोमा सेंटर के बाद मरीजों के परिजनों ने दवा बाहर से खरीदने तथा पैसे मांगने के आरोप लगाए थे। इसके साथ ही अन्य शिकायत की थी। इस पर मुख्यमंत्री ने शिकायतों का निस्तारण के लिए आश्वासन दिया था।


प्लास्टर बांधने के नाम पर मांगे रुपए, सीएम से की शिकायत
मुख्यमंत्री से कुछ मरीज के परिजनों ने प्लास्टर रूम में  कार्यरत वार्ड बॉय पर रुपए मांगने का आरोप लगाए थे।  मेडिकल टीम की जांच के बाद वार्ड बॉय आरिफ खान पुत्र मोहम्मद जिलानी तथा जयलाल मेघवाल पुत्र देवाराम मेघवाल को गिरफ्तार करवाया। ये दोनों पिछले पांच छह सालों से वार्ड बॉय का काम कर रहे है और इनके खिलाफ रुपए वसूलने के आरोप थे। 

Must Read: शरद पवार की पार्टी रांकापा राजस्थान में अपने उम्मीदवार उतारेगी

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :