कब लगेगी लगाम: नही थम रही शराब तस्करी की "लाइन", सिरोही जिले से होकर आज भी गुजरती हैं शराब तस्करी की गाड़ियां

नही थम रही शराब तस्करी की "लाइन", सिरोही जिले से होकर आज भी गुजरती हैं शराब तस्करी की गाड़ियां
पालड़ी एम थाना पुलिस की गिरफ्त में ट्रेलर चालक व शराब की पेटियां

सिरोही। पिछले कुछ महीने से शराब तस्करी के लिए सुर्खियों में आया सिरोही जिला आज भी शराब तस्करों की पहली पसंद बना हुआ हैं। राजस्थान से गुजरात में सप्लाई करने के लिए जाने वाली अधिकतर शराब आज भी सिरोही जिले से होकर ही परिवहन की जा रही हैं, इसका ताज़ा उदाहरण आज पालड़ी एम थाना क्षेत्र में अवैध शराब से भरे ट्रेलर को पकड़ने की पुलिसिया कार्रवाई हैं। शराब तस्करो से मिलीभगत के आरोप में भले ही तत्कालीन एसपी से लेकर जिले के करीब 10 थानाधिकारी नप गए। पर इसके बावजूद जिले से शराब तस्करी का सिलसिला अनवरत जारी रहना, पुलिस की कार्यप्रणाली पर बड़ा सवालिया निशान हैं। पूर्व एसपी और 10 थानाधिकारियों के तबादलों के बाद होना यह चाहिए था कि नए पुलिस कप्तान के नेतृत्व में एक के बाद एक कार्रवाई करके इन शराब तस्करों की कमर ही तोड़ देनी चाहिए थी, ताकि इस काले कारोबार का सिरोही जिले से नामोनिशान मिट जाता। पर जिले की कमान संभाले नए एसपी धर्मेंद्रसिंह तो अभी तक बॉर्डर जैसे महत्वपूर्ण थानों में नए थानाधिकारी लगाने की प्रक्रिया भी पूरी नही सके हैं। जिले के पिंडवाड़ा, सरूपगंज, रोहिड़ा, आबूरोड़ सदर, आबूरोड़ सिटी, बरलूट, अनादरा, रेवदर और मंडार जैसे थानों में थानाधिकारी के पद ही खाली पड़े हैं, तो इस शराब तस्करी पर नकेल कैसे लग सकेगी ये सोचने वाली बात हैं।

नए एसपी के आने के बाद शराब तस्करी पर नाममात्र  की हुई कार्रवाईयां

अंधे के हाथ बटेर लगने वाली कहावत तो आपने सुनी ही होगी। और यही कहावत आजकल सिरोही पुलिस पर भी सटीक बैठती नज़र आ रही हैं। जिस जिले से शराब तस्करी के आरोप में पूर्व एसपी के साथ 10 थानों के थानाधिकारियो को जिले से बाहर स्थानांतरित किया गया हो। उस जिले में नए एसपी के आने के बाद करीब दो महीनों में अवैध शराब परिवहन के मामलों में अंगुलियों पर गिनाने वाली मात्र चंद कार्रवाईयां ही हो पाई हो तो पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लाज़मी हैं। और जो कार्रवाई हुई भी हैं, वो मात्र संयोग से ही होना प्रतीत हो रहा हैं। वरना पुलिस अपनी ताकत लगाकर कार्रवाइयां करती तो अब तक इतनी कार्रवाइयां हो जाती कि तस्कर इस जिले से गुजरने में ही तौबा कर देते। 

राजस्थान निर्मित अवैध शराब से भरा ट्रेलर जब्त, चालक गिरफ्तार

नए पुलिस कप्तान धर्मेंद्र सिंह यादव के आने के बाद पालड़ी एम थाना पुलिस ने आज पहली बड़ी कार्रवाई की हैं। जिसमें राजस्थान निर्मित अवैध शराब से भरे ट्रेलर को जब्त कर ट्रेलर चालक को भी गिरफ्तार किया गया हैं।  जब्त ट्रेलर में कुल 855 कार्टून अवैध शराब भरी हुई मिली हैं। जिसमें से 750 कार्टून अंग्रेजी शराब वोदका के पव्वे है, वहीं 105 कार्टून कंट्री क्लब व्हिस्की के पव्वे बरामद किए गए हैं। पुलिस का दावा हैं कि आज पकड़ी गई इस शराब की कीमत करीब 35 लाख के आसपास हैं। इसके साथ ही ट्रेलर चालक कमलेश बिश्नोई पुत्र दयाराम बिश्नोई निवासी शोभाला दर्शन पुलिस थाना सेड़वा जिला बाड़मेर को गिरफ्तार किया गया हैं। अब पालड़ी पुलिस गिरफ्तार ट्रेलर चालक से पूछताछ कर इस शराब तस्करी के मुख्य सरगना तक कब तक पहुंचती हैं ये देखने वाली बात हैं।

Must Read: किसान मोर्चा का आरोप- गोवंश के उपचार में सरकार कर रही है लापरवाही

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :