firstbharat.in की खबरों पर लगी की मोहर : सिरोही पुलिस अधीक्षक रहे हिम्मत अभिलाष टांक ही करवा रहे थे अवैध शराब तस्करी, विजिलेंस और एसओजी की जांच में खुलासा , firstbharat.in टांक की भूमिका पर पहले दिन से ही उठा रहा था सवाल

आखिर कार सिरोही से अवैध शराब तस्करी के मामले में फर्स्ट भारत डॉट इन की खबरों पर राजस्थान पुलिस की विजिलेंस और एसओजी टीम ने भी सत्यता की मोहर लगा दी। सूत्रों के मुताबिक सिरोही जिले से हरियाणा निर्मित शराब की गुजरात में होने वाली तस्करी में तत्कालीन पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक भी शामिल थे।

सिरोही पुलिस अधीक्षक रहे हिम्मत अभिलाष टांक ही करवा रहे थे अवैध शराब तस्करी, विजिलेंस और एसओजी की जांच में खुलासा , firstbharat.in टांक की भूमिका पर पहले दिन से ही उठा रहा था सवाल

सिरोही।
आखिर कार सिरोही से अवैध शराब तस्करी के मामले में फस्र्ट भारत इन की खबरों पर राजस्थान पुलिस की विजिलेंस और एसओजी टीम ने भी सत्यता की मोहर लगा दी। सूत्रों के मुताबिक सिरोही जिले से हरियाणा निर्मित शराब की गुजरात में होने वाली तस्करी में तत्कालीन पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक भी शामिल थे। पुलिस मुख्यालय की विजिलेंस टीम और एसओजी टीम की जांच में यह साबित हो रहा है कि आबू रोड बॉर्डर से अवैध शराब तस्करी के रैकेट को सिरोही के तत्कालीन एसपी हिम्मत अभिलाष टांक ही चलवा रहे थे।  


सिरोही के एसपी के साथ थानों के थानेदार तक शामिल
अवैध हरियाणा निर्मित शराब तस्करी के मामले में सिरोही जिले के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक सहित रोहड़ा, रीको, आबूरोड सदर व स्वरूपगंज थाने के पुलिसकर्मी भी शामिल बताए जा रहे है। इतना ही नहीं, आईपीएस टांक ने तस्करी रोकने वालों को गांव में ड्यूटी दी। नहीं माने तो उन्हें झूठे आरोप लगाकर फंसाया। यह खुलासा विजिलेंस और एसओजी की जांच में सामने आया है।  

https://firstbharat.in/Sirohi-SP-was-accused-by-the-police-department-along-with-the-MP-MLA 

आबकारी की कार्रवाई के बाद फंस गए थे टांक
मामला तो 29 मई को ही उठ गया था जब  आबकारी आयुक्त के निर्देशन में आबकारी विभाग की पांच जिलों की सीके्रट टीमों ने सिरोही जिले के रोहिड़ा थाना क्षेत्र के भुजेला राजमार्ग पर अवैध शराब तस्करी पर बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध शराब का बड़ा जखीरा पकड़ा था। उसी के बाद से एसपी हिम्मत अभिलाष टांक पर शराब तस्करों के साथ मिलीभगत व गठजोड़ को लेकर आरोप लग रहे है। मजे की बात तो यह है कि आबकारी की सीके्रट टीमों की कार्रवाई के बाद सिरोही के तत्कालीन एसपी हिम्मत अभिलाष टांक के निर्देशन में सरुपगंज पुलिस ने अगले ही 12 घण्टों में अवैध शराब से भरे एक कंटेनर को जब्त करने के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया था। सरुपगंज पुलिस की इस कार्रवाई के बाद उड़वारिया टोल प्लाजा पर लगे कैमरे ने भी पुलिस की इस कार्रवाई पर सवालिया निशान लगा दिए थे। दरअसल पुलिस की इस कारवाई में जिस कंटेनर को जब्त किया है वह उसी दिन दोपहर में आबूरोड की तरफ से उड़वारिया टोल होते हुए सिरोही की तरफ दोपहर में ही निकला था और रात 11 बजे उसी कंटेनर को पुलिस हरियाणा से आना बता रही है ऐसे में पुलिस की इस कार्रवाई से कई सवाल खड़े हो गए थे।

https://firstbharat.in/After-all-who-is-saving-Sirohi-SP-Himmat-Abhilash-Tank 

सांसद, विधायक व खाकी के ही एक सिपाही ने भी लगाए आरोप
सिरोही एसपी हिम्मत अभिलाष टांक पर  सांसद  हनुमान बेनीवाल ने भी गंभीर आरोप लगाए थे साथ ही पिंडवाड़ा आबू विधायक समाराम  गरासिया ने भी सिरोही जिले से अवैध शराब की तस्करी की एक लाइन चल रही है ऐसे में उन्होंने सिरोही एसपी पर कई गंभीर आरोप लगा दिए थे। राजनेताओं से घिरे एसपी हिम्मत अभिलाष टांक की मुसीबतें और उस वक़्त बढ़ गई जब अपने ही पुलिस महकमे के एक सिपाही ने एसपी पर रिश्वत मांगने के गंभीर आरोप लगाए साथ ही एसपी के खास हैड कांस्टेबल द्वारा रुपये की डिमांड का एक ऑडियो भी वायरल कर दिया। एसपी हिम्मत अभिलाष टांक पर बढ़ते आरोपों के बीच पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर ने पुलिस महानिरीक्षक को जांच करवाने के निर्देश दिए। 

https://firstbharat.in/The-container-Sirohi-police-seized-for-smuggling-illegal-liquor 

https://firstbharat.in/Sirohi-police-is-taking-revenge-action-toll-workers-are-being-harassed-for-giving-important-clues-exposing-false-police-action   


रिटायर्ड एएसआई की कॉल डिटेल में एसपी व शराब ठेकेदार के बीच बातचीत के रिकॉर्ड
जांच में शराब ठेकेदार आनंदपाल सिंह सहित दो जनों का नाम सामने आया है। टांक इन ठेकेदारों से रिटायर्ड एएसआई नैनाराम और मौजूदा हैडकांस्टेबल तेजाराम के मार्फत संपर्क में रहते थे। रिटायर्ड एएसआई की एसपी के पास लगातार आवाजाही से संदेह हुआ और उसकी कॉल डिटेल में ठेकेदार व टांक से लगातार बातचीत का भी रिकॉर्ड मिला है। तेजाराम भी टांक के इशारे पर मदुरई गए दो पुलिसकर्मियों को फंसा रहा था। वह इन दोनों से मिलने की बात नहीं मान रहा था लेकिन वहां के एक रजिस्टर में दोनों की इंट्री मिली है।   

https://firstbharat.in/After-the-action-of-the-Excise-Police-in-Sirohi-district-to-save-the-credibility-the-police-caught-a-cache-of-illegal-liquor-after-just-12-hours-but-the-complicity-of-the-police-was-exposed-Sirohi-Superintendent-of-Police-in-questions 

Must Read: अलवर में दिनदहाड़े बैंक डकैती, हथियारबंद लुटेरे लूट ले गए कटे-फटे नोट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :