विधायक लोढ़ा ने बैठक: सिरोही जिले को 1 हजार एमसीएफटी पानी देने के जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट की समीक्षा की

सिरोही विधानसभा क्षेत्र में बन रहे एनिकट पर चर्चा- सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियंता रंजन कंसारा ने बताया कि सिरोही के मडिया गांव में बन रहे मोतीवाव वाला एनिकट लूनी बेसिन के नाले पर स्थित है। 97 लाख की लागत से एनीकट का निर्माण किया जाएगा। एनीकट की लंबाई 30 मीटर, उंचाई 2 मीटर है। इस परियोजना से 400 परिवार लाभांवित होगे।

सिरोही जिले को 1 हजार एमसीएफटी पानी देने के जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट की समीक्षा की

शिवगंज शहर सहित 178 गांव की पेयजल सुविधा सुदृढ़ होगी

सिरोही | सिरोही जिले को 1 हजार एमसीएफटी पानी दिए जाने से संबंधित जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट के तहत कोटड़ा तहसील में बनाये जाने वाले दो बांधो के निर्माण की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा 2022-23 एवं अन्य सिंचाई परियोजनाओं की प्रगति को लेकर विधायक संयम लोढा ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ सर्किट हाउस में बैठक लेकर समीक्षा की।

कोटडा तहसील के बुजा व चक साण्डमारिया बांधो का निर्माण 1800 करोड की लागत से होगा एवं इन बांधो से जवाई बांध तक पानी लाने के लिए 1200 करोड़ रूपये व्यय करने की घोषणा की गई है। इससे शिवगंज तहसील के अंतर्गत शिवगंज कस्बा एवं 178 गांवो की पेयजल सुविधा सुदृढ हो सकेगी। इसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने की तैयारियों पर चर्चा की। 

मुख्य अभियंता अमर सिंह ने विधायक संयम लोढा को बताया कि बुजा बांध एवं चक साण्डमारिया बांध से पानी प्रेषराईज पाईप लाईन, ग्रेविटी पाईपलाईन तथा टनल के माध्यम से जवाई बांध में छोडा जाना प्रस्तावित है। चक साण्डमारिया बांध से बुजा बांध में पानी 5.42 किमी टनल तथा बुजा बांध 7.4 किमी टनल एवं 7.8 किमी टनल के माध्यम से जवाई बांध में आ सकेगा। साथ ही दोनो जलाशय एवं टनल का निर्माण का जल संसाधन विभाग द्वारा किया जाएगा।

सालगांव बांध पेयजल योजना - बैठक में सालगांव बांध पेयजल योजना पर चर्चा के दौरान अधीक्षण अभियंता मनीष परिहार ने बताया कि सालगांव बांध की भराव क्षमता 155.56 मि.घ. फीट है। राज्य सरकार द्वारा 2 मार्च 2022 को 250.54 करोड की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई। विभाग की वित्त समिति से प्रषासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति प्राप्त करने की कार्यवाही की जा रही है। इस बांध से माउंट आबू पर्वतीय स्थल की लगभग 45 हजार जनसंख्या लाभांवित होगी।

सिरोही विधानसभा क्षेत्र में बन रहे एनिकट पर चर्चा- सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियंता रंजन कंसारा ने बताया कि सिरोही के मडिया गांव में बन रहे मोतीवाव वाला एनिकट लूनी बेसिन के नाले पर स्थित है। 97 लाख की लागत से एनीकट का निर्माण किया जाएगा। एनीकट की लंबाई 30 मीटर, उंचाई 2 मीटर है। इस परियोजना से 400 परिवार लाभांवित होगे।

कंसारा ने बताया कि  ब्रहमाजी एनीकट कालन्द्री के पास ही स्थित है। यह एनीकट 2017 की अतिवृष्टि में क्षतिग्रस्त हो गया था। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एनीकट के लिए अपनी बजट घोषणा में 2022-23 के तहत 40 लाख की राषि स्वीकृत की। इस परियोजना से 400 परिवार लाभांवित होगी। सिरोही विधानसभा में बन रहे भुवनेष्वर महादेव एनीकट भी अतिवृष्टि में क्षतिग्रस्त हो गया था। बजट घोषण 2022-23 में 45 लाख रूपये स्वीकृत किये गये। इस एनीकट की लंबाई 400 मीटर एवं उंचाई 2 मीटर है।

बत्तीसा नाला लघु सिंचाई परियोजना - बैठक में बत्तीसा नाला लघु सिंचाई योजना पर चर्चा के दौरान अधिकारियों ने बताया कि  परियोजना में बांध की कुल भराव क्षमता 577.40 मि.घ.फीट है। सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियंता रंजन कंसारा ने बताया कि बांध निर्माण हेतु डूब क्षेत्र में स्थित रोड वाले भाग में खुदाई का कार्य वर्तमान में पूर्ण कर लिया गया है।

वर्तमान में बांध निर्माण कार्यस्थल पर कुल 14 ब्लॉक में से 9 ब्लॉक कंकरीट कार्य 5 ब्लॉक में खुदाई कार्य पूर्ण किया जाकर जीएसआई जयपुर द्वारा फाउंडेशन मेपिंग का कार्य प्रगतिरत है। परियोजना पर अब तक राषि रूपयें 120.86 करोड का व्यय हुआ है।

बत्तीसा बांध में 70 एमसीएफटी पानी रोका जाना संभव है। इससे 2 हजार हैक्टेयर भूमि पर सिंचाई हो सकेगी। अब तक 53 फीसदी से अधिक कार्य हो चुका है और 31 मार्च 2023 तक पूरा होने की सम्भावना है।

इस अवसर पर सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता अमर सिंह, अधीक्षण अभियंता मनीष परिहार, जवाई खण्ड सुमेरपुर के अधिशासी अभियंता जेतावत एवं सिरोही अधिशासी अभियंता रंजन कंसारा मौजूद रहे।

Must Read: पुलिस ने बरामद किया अंकिता भंड़ारी का शव, गुस्साई भीड़ ने रिजॉर्ट में लगाई आग

पढें राज्य खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :