पावापुरी ट्रस्ट ने किया एमओयु : सिरोही में के.पी. संघवी चेरीटेबल ट्रस्ट बनाएगा विधि महाविद्यालय भवन

के पी संघवी चेरीटेबल ट्रस्ट ने सिरोही जिले मे उच्च शिक्षा को बढावा देने के लिए बुधवार को जयपुर में एक एमओयू साईन कर सिरोही में जिला मुख्यालय पर विधि महाविद्यालय भवन बनाने का फैसला करके जिले को दूसरी सौगात दे दी है।

सिरोही में के.पी. संघवी चेरीटेबल ट्रस्ट बनाएगा विधि महाविद्यालय भवन
काॅलेज शिक्षा आयुक्तालय जयपुर में एमओयू की प्रति प्रदान करते आयुक्त संदेश नायक व ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी महावीर जैन। 

सिरोही | के पी संघवी चेरीटेबल ट्रस्ट ने सिरोही जिले मे उच्च शिक्षा को बढावा देने के लिए बुधवार को जयपुर में एक एमओयू साईन कर सिरोही में जिला मुख्यालय पर विधि महाविद्यालय भवन बनाने का फैसला करके जिले को दूसरी सौगात दे दी है। ट्रस्ट के चेयरमैन किशोर एच. संघवी ने बताया कि इस फैसले के लिए मैनेजिंग ट्रस्टी महावीर जैन ने और सरकार की ओर से काॅलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक आईएएस ने हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर बी एल गोयल अतिरिक्त आयुक्त, डा. दीपाली भार्गव सयुंक्त निदेशक (आयेाजना ) ट्रस्ट के प्रबन्धक सुरेन्द्र जैन व विधि महाविद्यालय सिरोही के प्राचार्य विजय कुमार उपस्थित थे।


इससे पूर्व रेवदर उपखण्ड पर 5 करोड़ की लागत से मातुश्री शांताबा हजारीमलजी के.पी. संघवी राजकीय महाविद्यालय भवन का निर्माण करवा के राज्य सरकार को सुपुर्द किया था। इस भवन का ई. लोकापर्ण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 11 सितम्बर 2020 को किया था।   विधि कालेज के एमओयू के बारे में प्रबंध न्यासी महावीर जैन ने बताया कि ट्रस्ट राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत व अनुमोदित मानचित्र के आधार पर 20 हजार वर्गफीट पर यह नया भवन बनायेगा। इस काॅलेज का नाम माॅ अम्बे के. पी. संघवी राजकीय विधि महाविद्यालय, सिरोही रखा जाएगा। यह भवन टांकरिया खोबा वीर बावजी के सामने आवंटित 14 बीघा भूमि पर बनेगा। इसकी ऐप्रोच रोड बारीघाटा व टरनल के बीच फोरलेन पर होगी। काॅलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक ने कहा कि सिरोही जैसे पिछडे जिले में उच्च शिक्षा को बढावा देने के लिए के. पी. संघवी ट्रस्ट पावापुरी की यह पहल शिक्षा के क्षेत्र मे एक उत्कृष्ट उदाहरण हैं। सयुंक्त निदेशक डा. दीपाली भार्गव ने ट्रस्ट के चेयरमैन किशोर भाई संघवी को दुबई फोन करके उन्हें इस सुकृत कार्य के लिए बधाई दी ओर कहा कि शिक्षा के क्षेत्र मे किए गए कार्यों का लाभ पीढ़ी दर पीढ़ी मिलता हैं।


सिरोही के विधायक संयम लोढ़ा ने के पी संघवी परिवार की उदारता की सराहना करते हुऐ कहा कि विधि महाविद्यालय का स्वतंत्र भवन नहीं होने के कारण उसकी मान्यता खतरे में पड़ गई थी ऐसे हालात मे के. पी. संघवी परिवार के आगे आने से विधि शिक्षा ग्रहण करने वालों को स्थायी राहत मिलेगी जिसके लिए संघवी परिवार को हमेशा याद किया जाएगा।
विधि काॅलेज भवन बनाने की सहमति देने पर सिरोही के पूर्व आईएएस जयन्तीलाल मोदी, पूर्व कलक्टर बन्नालाल, पूर्व कलक्टर सुरेन्द्र कुमार सोंलकी, विधायक जगसीराम कोली, सभापति महेन्द्र मेवाडा, कलक्टर भगवती प्रसाद, मालगांव जैन संघ के अध्यक्ष पुखराज बाफना, उपाध्यक्ष प्रकाश एल. संघवी, पूर्व सम्भागीय आयुक्त आईएएस आर के जैन सहित अनेक प्रमुख प्रवासी लोगो ने ट्रस्ट के चेयरमेन किशोर भाई संघवी एवं ट्रस्ट को इस नेक कार्य के लिए बधाई दी।