स्टिंग आपरेशन: सांचौर के चुनावों में परोसी जा रही है शराब, कायदों की उड़ रही धज्जियां, ठेकों के पीछे से चल रहा खेल

सांचौर के चुनावों में परोसी जा रही है शराब, कायदों की उड़ रही धज्जियां, ठेकों के पीछे से चल रहा खेल
सरकारी ठेके की पिछली दीवार से शराब देता सेल्समैन

जालोर | जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों के चलते भले ही सरकारी स्तर पर ड्राई डे घोषित हो। सरकार निष्पक्ष चुनाव के दावे ठोक रही हो, लेकिन जिला परिषद पंचायत समिति चुनाव, सांचौर में शराब माफिया उड़ा रहे नियमों की धज्जियां।

माखुपुरा ठेके  पर खुलेआम बिक रही है शराब, दुकान के पीछे सजा रखी है महफिल। सांचौर के कई गांवों में भी शराब बिक रही है।

होटलों व ढाबों पर भी अवैध रूप से परोसी जा रही है शराब, सांचौर का आबकारी विभाग इस मामले में पर मौन है। इससे साफ है कि सरकारी अमले की मिलीभगत के बिना यह संभव नहीं है। फर्स्ट भारत की टीम के स्टिंग में यह साबित हुआ है कि खुले आम शुष्क दिवस पर गैरकानूनी तरीके से शराब उपलब्ध करवाई जा रही है।

इस शराब वितरण और शराब पीने के लिए जगह उपलब्ध करवाने वाले ठेकेदारों को अफसरों की ही शह है। वहीं निर्वाचन विभाग की भी इस पर न तो नजर है और न ही चुनावों में प्रलोभन देकर वोट खरीदने वालों पर किसी तरह की नकेल है। इससे साफ साबित होता है कि सरकार खुद ही चुनावों को प्रभावित करने वाले ऐसे तत्वों को शह दे रही है।