Amarnath Cloudburst: ‘भारतीय सेना’ को सल्यूट, खुद की परवाह किए बिना दूसरों को दे रहे जिंदगी

बाबा बर्फानी के द्वार अमरनाथ में आई प्राकृति आपदा के बीच भारतीय सेना के जवान वहां फंसे श्रद्धालुओं के लिए ‘देवदूत’ बनकर आए।

‘भारतीय सेना’ को सल्यूट, खुद की परवाह किए बिना दूसरों को दे रहे जिंदगी
Amarnath Cloudburst

जयपुर | Amarnath Cloudburst: बाबा बर्फानी के द्वार अमरनाथ में आई प्राकृति आपदा के बीच भारतीय सेना के जवान वहां फंसे श्रद्धालुओं के लिए ‘देवदूत’ बनकर आए। भारतीय सेना ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि, देश में कैसी भी भयंकर परिस्थिति हो, सेना के जवान हमेशा अपनी जान पर खेलकर लोगों की मदद करते रहेंगे। भारतीय सेना के जवान, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और आईटीबीपी के जवानों ने अपनी जान जोखिम में डालकर हजारों लोगों को इस आपदा से बाहर निकालकर उनकी जान बचाई है। यहीं वजह है कि, अमरनाथ गुफा से जो भी श्रद्धालु वापस लौटे हैं वह भारत के वीर जवानों के हौंसले की तारीफ करते नहीं थक रहे और बार-बार इंडियन आर्मी के जयकारे लगा रहे हैं।

ये भी पढ़ें:- Rajasthan Rain Alert: राजस्थान में मानसून मेहरबान, आज इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

खुद की परवाह किए बिना दूसरों को दे रहे जिंदगी
गौरतलब है कि शुक्रवार शाम अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने से आए पानी के सैलाब और मलबे में कई लोग दब गए और पानी में बह गए। जिससे 16 लोगों की मौत हो गई और 40 से ज्यादा श्रद्धालु लापता है। ऐसे में भारतीय जवानों ने ठंडी रात में अंधेरे और खराब मौसम के बीच पहाड़ों पर भी लोगों की जान बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। भारतीय जवान खुद की परवाह किए बिना दूसरों की जिंदगी बचाते नजर आए।

ये भी पढ़ें:- Amarnath Cloudburst: अमरनाथ में बरपा कहर! राजस्थान के रिटार्यट पुलिस अधिकारी समेत दो की मौत, कई लापता

राहत और बचाव कार्य में जुटी सेना, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और आईटीबीपी की टीमों ने कई घायलों को मलबे से बाहर निकाला और अपने कंधों से मदद देते हुए बेस अस्पताल तक पहुंचाया। इस दौरान भारतीय वायुसेना ने भी अहम भूमिका निभाई। 

ये भी पढ़ें:- Amarnath Cloudburst: अमरनाथ में हाहाकार! अब तक 16 की मौत, 40 से ज्यादा लापता, 40 तंबू, दो लंगर बहे, रेस्क्यू जारी

Must Read: मुंबई पुलिस को गुजरात में बड़ी कामयाबी, 513 किलो ड्रग्स बरामद, कीमत 1 हजार करोड़ से ज्यादा

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :