तस्करों को पैसे लेकर भगाने का मामला: बर्खास्त थानेदार सीमा जाखड़ जोधपुर से गिरफ्तार

सिरोही में 10 लाख रुपए लेकर तस्कर को छोड़ने के मामले में बर्खास्त सब इंस्पेक्टर सीमा जाखड़ को सिरोही पुलिस ने जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही अन्य बर्खास्त पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी हो सकती है। फिलहाल, सब इंस्पेक्टर से सरूपगंज पुलिस पूछताछ कर रही है।

बर्खास्त थानेदार सीमा जाखड़ जोधपुर से गिरफ्तार

सिरोही। पुलिस ने डोडा पोस्त से भरी लग्जरी कार में सवार दो तस्करों को छोड़ने के मामले में आखिरकार बर्खास्त थानेदार सीमा जाखड़ को रविवार को जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही अब तीन और बर्खास्त कांस्टेबल पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है। इस मामले में अब तक चार जने पकड़े जा चुके हैं।

सिरोही पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि प्रकरण में जोधपुर निवासी बर्खास्त उप निरीक्षक सीमा जाखड़ को गिरफ्तार किया गया है। उसके जोधपुर में होने की सूचना पर सिरोही पुलिस की एक टीम भेजी गई। वह घर पर नहीं मिली। लोकेशन के आधार पर उसे जोधपुर शहर से हिरासत में लिया गया। सिरोही के स्वरूपगंज थाने लाकर पूछताछ के बाद शाम को सीमा जाखड़ को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे तस्कर को भगाकर मदद करने के आरोप में पकड़ा गया है।

प्रकरण में इससे पहले रमेश, हेमाराम व शंकरलाल को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भिजवाया जा चुका है। सिरोही में बरलूट थाने के बर्खास्त कांस्टेबल ओमप्रकाश, सुरेश कुमार व हनुमानाराम की गिरफ्तारी बाकी है। वहीं, लाखों रुपए के लेन-देन के बदले मौके से भगाए गए तस्करी के आरोपी केरिया हालीवाव निवासी दिनेश कुमार खींचड़ भी अभी तक पकड़ में नहीं आया है। उसकी भी तलाश की जा रही है।

गत वर्ष 14 नवम्बर की रात 8 बजे बतौर बरलूट थानाधिकारी सीमा जाखड़ ने गुजरात नम्बर की लग्जरी कार में डोडा पोस्त पकड़ा था, लेकिन थाने में 15 नवम्बर सुबह 5.50 बजे की कार्रवाई दिखाई गई थी। रोजनामचे में सुबह 4.50 बजे नाकाबंदी में जावाल नदी से डोडा पोस्त से भरी कार की सूचना मिलना दिखाया गया था। उसने सुबह 5.10 बजे थाने से रवानगी दिखाई थी। सुबह 5.50 बजे कार के आने व नाकाबंदी तोड़कर भागने और पीछा कर डोडा पोस्त से भरी कार पकड़़ना व तस्करों के फरार होना बताया था। जबकि जांच में सामने आया था कि पुलिस ने जावाल नदी में नाकाबंदी से फरार तस्करों की कार पीछा कर पकड़ी थी। रमेश फरार हो गया था। तस्करी के आरोपी दिनेश खींचड़ को पुलिस ने रेस्टोरेंट-ढाबा के पास से पकड़ लिया था। बाद में उसे जावाल-बरलूट नदी के पुल पर नाकाबंदी में निजी बस रोककर बैठा कर भगा दिया था। इन्हें भगाने में लाखों रुपए के लेन-देन की आशंका जताई गई थी। आइजी ने सीमा जाखड़ और तीनों कांस्टेबल को एसपी ने 26 नवम्बर को बर्खास्त किया था।

Must Read: पाली के एसपी की बना दी फर्जी आईडी, कोतवाली पुलिस ने चार दिन में दबोच लिया

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :