राजस्थान पटवारी परीक्षा में नकल गिरोह : जालोर की वि‍श्नोंई गैंग राजधानी में पटवारी परीक्षा में करवा रही थी नकल, डमी परीक्षार्थी बैठाने के मामले में 2 अभियुक्त गिरफ्तार

राजधानी जयपुर की कमिश्नरेट पुलिस ने डमी परीक्षाथी बैठाने के मामले में जालोर के विश्नोई गैंग के दो बदमाशों को पकड़ा है।मुल्जिम सुनील कुमार पढाई लिखाई में होशियार है एवं खुद भी एलडीसी के पद पर राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय,भीमगुङा थाना चितलवाना जालौर में पदस्थापित है। उक्त गैंग का सरगना रामलाल पुत्र जगमाला राम निवासी रणोधर

जालोर की वि‍श्नोंई गैंग राजधानी में  पटवारी परीक्षा में करवा रही थी नकल, डमी परीक्षार्थी बैठाने के मामले में 2 अभियुक्त गिरफ्तार


जयपुर।
राजस्थान में पटवारी भर्ती परीक्षा शनिवार से शुरू हुई। शनिवार को दो पारी की परीक्षा हुई,लेकिन राजधानी सहित प्रदेश के कई जिलो में पुलि​स ने कई मुन्नाभाई को गिरफ्तार किया हैं। राजधानी जयपुर की कमिश्नरेट पुलिस ने डमी परीक्षाथी बैठाने के मामले में जालोर के विश्नोई गैंग के दो बदमाशों को पकड़ा है। पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण हरेन्द्र महावर ने बताया कि पटवारी लिखित परीक्षा 2021 में विश्नोई गैंग के बदमाश फर्जी अभ्यर्थी बनकर अन्य अभ्यर्थियों के स्थान पर परीक्षा देने के मामले में सुनील गोदारा पुत्र जालाराम जाति विश्नोई उम्र 28 साल निवासी नयावास रणोधर तहसील व पुलिस थाना चितलवाना जिला जालौर और ओमप्रकाश पुत्र जालाराम जाति विश्नोई उम्र 28 साल निवासी नयावास रणोधर तहसील व पुलिस थाना चितलवाना जिला जालौर को गिरफ्तार किया गया। 
महावर ने बताया कि पुलिस टीम को डमी अभ्यर्थी बैठाने की सूचना मिली थी, इस पर गैंग के दो बदमाशों की लोकेशन श्री कुमावत क्षत्रिय सीनियर सैकेण्डरी स्कुल सोडाला के आस पास होने की आसूचना प्राप्त हुई। इस पर पुलिस टीम द्वारा फर्जी अभ्यर्थी बन अन्य अभ्यर्थियों के स्थान पर परीक्षा देने वाली विश्नोई गैंग की तलाश की गई। कुमावत स्कुल परीक्षा केन्द्र के कमरा नंबर 06 में रोल नंबर 3252074 पर पटवारी परीक्षा देने वाला अभ्यर्थी संदिग्ध प्रतीत होने पर मौके पर अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त दक्षिण व सहायक पुलिस आयुक्त सोडाला ने जांच की तो उक्त रोल नंबर के अभ्यर्थी के परीक्षा प्रवेश पत्र एवं परीक्षा देने वाले अभ्यर्थी के आधार कार्ड पर लगी हुई फोटो में भिन्नता पाई गई। प्रवेश पत्र पर अभ्यर्थी भूपेन्द्र कुमार मीणा पुत्र बाबुलाल जाति मीणा उम्र 25 साल निवासी ठेकङा पोस्ट रामगढ तहसील महुवा जिला दौसा, रोल नंबर 3252074 की जगह पर परीक्षा कक्ष में परीक्षा देने वाला अभ्यर्थी सुनील गोदारा पुत्र जालाराम जाति विश्नोई उम्र 28 साल निवासी नयावास रणोधर तहसील व पुलिस थाना चितलवाना जिला जालौर डमी पाया गया। जिस सन्दर्भ में केन्द्राधीक्षक द्वारा रिपोर्ट पेश करने पर राजस्थान सार्वजनिक परीक्षा (अनुचित साधनों पर रोक) 1992 दर्ज कर अनुसंधान शुरु किया गया। फर्जी अभ्यर्थी सुनील गोदारा को डिटेन कर पुछताछ करने पर उक्त विश्नोई गैंग का अन्य साथी ओमप्रकाश पुत्र जालाराम जाति विश्नोई उम्र 28 साल निवासी नयावास रणोधर तहसील व पुलिस थाना चितलवाना जिला जालौर को कुमावत स्कुल के बाहर से डिटेन किया गया। दोनों से पुछताछ की जाकर जुर्म प्रमाणित पाया जाने पर गिरफ्तार किया गया। 
एलडीसी पद पर कार्यरत है सुनील कुमार

मुल्जिम सुनील कुमार पढाई लिखाई में होशियार है एवं खुद भी एलडीसी के पद पर राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय,भीमगुङा थाना चितलवाना जालौर में पदस्थापित है। उक्त गैंग का सरगना रामलाल पुत्र जगमाला राम निवासी रणोधर तहसील व थाना चितलवाना जिला जालौर है। मुल्जिमानों के कब्जे से पूर्व में दी गई परीक्षा व कल प्रस्तावित पटवारी परीक्षा के सम्बन्ध में आधार कार्ड एवं फर्जी प्रवेश पत्र मिले हैं जिन पर आधार कार्ड में नाम पता किसी अन्य व्यक्ति का है एवं फोटो मुल्जिम सुनील कुमार की है।मुल्जिमान से अनुसंधान में सामने आया कि  मुल्जिम सुनील विश्नोई द्वारा अपने भाई ओमप्रकाश की जगह कल 24.10.2021 को जालौर में प्रथम पारी में पटवारी की परीक्षा देने वाला था। मुल्जिम सुनील विश्नोई द्वारा दिनांक 24.10.2021 को प्रथम पारी में ओमप्रकाश की जगह बैठकर परीक्षा देकर द्वितीय पारी में किसी श्रवण कुमार पुत्र हीराराम निवासी दूठवा जालौर की जगह जोधपुर में पटवारी भर्ती परीक्षा देने वाला था।
 गिरफ्तारशुदा मुल्जिम सुनील विश्नोई द्वारा इससे पूर्व अपनी गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर किसी अरविन्द कुमार पुत्र सुण्डाराम निवासी भालनी जालौर की रीट लेवल प्रथम की परीक्षा दिनांक 26.09.2021 को राजकीय उच्च माध्यमिक परीक्षा बीलवा सांगानेर जयपुर में डमी अभ्यर्थी बन कर परीक्षा देना सामने आया है। मुल्जिम ओमप्रकाश का रीट लेवल- 2 की परीक्षा महारानी कॉलेज जयपुर में किसी अन्य व्यक्ति द्वारा दिया जाना अनुसंधान से सामने आया है।

Must Read: महेन्द्रसिंह धोनी को देखने आए थे, पिटकर लौट आए जालोर के भोले लोग

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :