बाबा रामदेव का विवादित बयान: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बाबा रामदेव पर 1 हजार करोड़ रुपए का मानहानि का किया दावा 

योग गुरू बाबा रामदेव अब परेशानी में आ गए है। विवादित बयान देने के बाद बाबा पर 1 हजार करोड़ रुपए की मान हानि का दावा किया गया है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Association) उत्तराखंड ने बुधवार को योग गुरु बाबा रामदेव पर 1000 करोड़ रुपए का मानहानि का केस दर्ज कराया है।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बाबा रामदेव पर 1 हजार करोड़ रुपए का मानहानि का किया दावा 

नई दिल्ली।
योग गुरू बाबा रामदेव अब परेशानी में आ गए है। विवादित बयान देने के बाद बाबा पर 1 हजार करोड़ रुपए की मान हानि का दावा किया गया है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Association) उत्तराखंड ने बुधवार को योग गुरु बाबा रामदेव पर 1000 करोड़ रुपए का मानहानि का केस दर्ज कराया है। एसोसिएशन ने यह केस सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे बाबा रामदेव के उस वीडियो के आधार पर किया है, जिसमें बाबा एलोपैथी को बकवास और दिवालिया साइंस कह रहे हैं। हालांकि, बाबा ने बाद में अपना बयान वापस ले लिया था। इस पर एसोसिएशन का कहना है कि रामदेव ने जो बयान दिया है उसके जवाब में अगर वे अगले 15 दिनों में वीडियो जारी नहीं करते और लिखित रूप से माफी नहीं मांगते, तो वे उनसे 1000 करोड़ रुपए की क्षतिपूर्ति की डिमांड करेंगे। इससे पहले इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने शनिवार को बाबा रामदेव पर एलोपैथी इलाज के खिलाफ झूठ फैलाने का आरोप लगाया था। आईएमए ने रामदेव को एक लीगल नोटिस भेजा था। डॉक्टर्स की संस्था ने रामदेव पर मुकदमा चलाने की मांग भी की थी। हालांकि, रामदेव की संस्था पतंजलि ने बयान जारी कर आरोपों को गलत बताया था। एसोसिएशन ने लिखा था कि बाबा रामदेव ने ये दावा किया है कि रेमडेसिविर, फेवीफ्लू और डीजीसीआई से अप्रूव व दूसरी ड्रग्स की वजह से लाखों लोगों की मौत हुई। उन्होंने ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया और स्वास्थ्य मंत्री की साख को चुनौती दी है। कोरोना मरीजों के इलाज में रेमडेसिविर के इस्तेमाल की मंजूरी केंद्र की संस्था सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन ने जून-जुलाई 2020 में दी थी। ये भ्रम फैलाने और लाखों लोगों की जान खतरे में डालने के लिए बाबा रामदेव पर मुकदमा चलाया जाना चाहिए। रामदेव ने फेवीपिराविर को बुखार की दवा बताया था। इससे पता चलता है कि मेडिकल साइंस को लेकर उनका ज्ञान कितना कम है।

Must Read: सिरोही के चंद्रप्रकाश द्विवेदी, चूरू में देवेंद्र झाझड़िया सहित राजस्थान के पांच हस्तियों को राष्ट्रपति ने पद्म अवार्ड से किया सम्मानित

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :