Rajasthan @पुलिस लोगो लगाना पड़ेगा महंगा: पुलिस महानिदेशक ने निजी वाहनों पर लगे पुलिस लोगो और रेड—ब्लू पट्टी हटाने के दिए निर्देश,अब चलेगा राज्य स्तरीय अभियान

सावधान! अगर आप ने अपने वाहन पर पुलिस का लोगो लगा रखा है या फिर लाल—नीली पट्टी लगाई है तो आप पर जुर्माना लगाया जा सकता है या फिर वाहन सीज भी किया जा सकता है। जी हांं, राजस्थान पुलिस महानिदेशक के निर्देशों के बाद अब प्रदेश भर में ऐसे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।

पुलिस महानिदेशक ने निजी वाहनों पर लगे पुलिस लोगो और रेड—ब्लू पट्टी हटाने के दिए निर्देश,अब चलेगा राज्य स्तरीय अभियान

जयपुर।
सावधान! अगर आप ने अपने वाहन पर पुलिस का लोगो लगा रखा है या फिर लाल—नीली पट्टी लगाई है तो आप पर जुर्माना लगाया जा सकता है या फिर वाहन सीज भी किया जा सकता है। जी हांं, राजस्थान पुलिस महानिदेशक के निर्देशों के बाद अब प्रदेश भर में ऐसे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। पुलिस की समझाइश के बाद सख्ती बरती जाएगी और पुलिस का लोगा तथा लाल—नीली पट्टी हटाई जाएगी। जानकारी के मुताबिक पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर ने गत सप्ताह  आयोजित वीसी में इस मामले को लेकर प्रदेश के पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया था। डीजीपी लाठर ने कहा कि अभी पुलिस का लोगो और लाल—नीली पट्टी लगाने का प्रचलन सा बढ़ गया है। पुलिस अधिकारी और कर्मचारी अपने निजी वाहनों पर पुलिस का लोगो लगाकर चल रहे है। पुलिस अधिकारियों के निजी वाहनों से ये लोगो और लाल—नीली पट्टी को हटाया जाए। इसके लिए सभी पुलिस अधीक्षक इस संबंध में आदेश जारी करें आदेशों की पालना सुनिश्चित करें। अगर किसी पुलिस अधिकारी या कर्मचारी द्वारा आदेशों की अवेहलना की जाती है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में की जाएगी।


पुलिस लोगो या स्टिकर का दुरुपयोग
अमूमन देखा गया है कि स्टिकर का दुरुपयोग गलत लाभ प्राप्त करने या गलत कार्य करने के लिए किया जा रहा है। इन स्टिकर के विशेषाधिकार का उपयोग करने से संबंधित है। नियम तोड़ने से बचने के लिए या चेक होने से बचने के लिए हजारों लोग इन स्टिकर्स को अपने वाहनों में लगाते हैं। इसका एक उदाहरण यह हो सकता है कि चेक पोस्ट पर चेकिंग से बचना इस प्रकार तस्करी करना आसान बनाता है। या किसी और के सही पार्किंग स्थलों का उपयोग करने का एक सरल कार्य भी। 2019 में बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी निजी वाहनों पर इस तरह के स्टिकर पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है। इसके बाद पुलिस ने वाहनों पर व्यापक जांच की और गलत तरीके से इन स्टिकर का इस्तेमाल करने वालों पर शिकंजा कसा।

Must Read: नवीं कक्षा के लड़के का था लड़की से अफेयर, फिर इस हालत में देख लोगों के उड़े होश

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :