Sirohi प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव समारोह : सिरोही के गुडा गांव में वैदिक मंत्रोउच्चार के साथ हुई धोणारी वीर मोमाजी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा

सिरोही विधायक संयम लोढा ने कहा कि तन के लिए जितनी आवश्यकता सांस की होती है, उतना ही महत्व जीवन में विश्वास का होता है। जीवन की दिशा व दशा बदलनी है तो गुरु से ज्ञान लेना अति आवश्यक है।

सिरोही के गुडा गांव में वैदिक मंत्रोउच्चार के साथ हुई धोणारी वीर मोमाजी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा

सिरोही।
सिरोही विधायक संयम लोढा ने कहा कि तन के लिए जितनी आवश्यकता सांस की होती है, उतना ही महत्व जीवन में विश्वास का होता है। 
जीवन की दिशा व दशा बदलनी है तो गुरु से ज्ञान लेना अति आवश्यक है। हमेशा सत्य के मार्ग पर चलते हुए समाज व माता पिता का नाम रोशन करना चाहिए। 
लोढा नवारा पंचायत के गुडा गांव में रोवाडा ठाकुर सार्दुलसिंह एवं धोणारी वीर मोमाजी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। 
विधायक लोढा ने कहां कि युवाओं को नशे की लत से दूर रहना चाहिए। इससे कई जिंदगिया बर्बाद हो जाती है। हम बहुत सौभाग्यशाली है कि हमे मानवरूपी जीवन मिला है। 
हमे अच्छे संस्कार व विवेक से कार्य करना चाहिए। देह और आत्मा दानों भिन्न तत्व है। आत्मा अजर, अमर और अविनाशी है जबकि देह नश्वर है। शरीर और आत्मा का संबंध जुड़ा हुआ है इसलिए शरीर की सार संंभाल करना जरूरी हो जाता है।
उन्होंने कहा कि एक साधक पहला सुख निरोगी काया उक्ति अनुसार शरीर का भी ध्यान रखता है शरीर स्वस्थ होता है तो हम धार्मिक कार्यक्रम के साथ साथ अन्य कार्य कर सकते है।
उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने भी अपने भक्तों का उद्धार व पृथ्वी को दैत्य शक्तियों से मुक्त कराने के लिए अवतार लिया था। जब-जब पृथ्वी पर धर्म की हानि होती है, तब-तब भगवान धरती पर अवतरित होते हैं। 
भगवान भोलेनाथ के परिवार में सभी लोगों की सवारी एक दूसरे का भोजन है। महादेवजी ने इसके माध्यम से यही संदेश दिया है कि एक दूसरे का भोजन होने के बाद भी हमे सभी को एक साथ लेकर चलना चाहिए। प्राणी मात्र को भी साथ लेकर चलो।
भगवान शिव ने एक प्रेम, करूणा का भाव पैदा किया है। लोढा ने कहां कि जिन भामाशाहों ने अपनी मेहनता की कमाई के पैसे यह भव्य प्रतिष्ठा का आयोजन किया है उसके लिए मैं भामाशाह का आभार प्रकट करता हूं।
उन्होंने कहा कि पैसा बहुत लोगों के पास होता है लेकिन हर कोई खर्च नहीं करता है। हमे अच्छे भाव रखकर कोई भी खर्च करते है उससे हमें दोगुणा पुण्य मिलता है। हमें नाम, सम्पति सभी समाज ने दिया है। 
इसलिए हमारे पैसे का कुछ भाग समाज के हित में खर्च करना चाहिए। कार्यक्रम से पूर्व विधायक लोढा का ढोल नगाडो के साथ स्वागत किया। 
लोढा ने धोणारी वीर मोमाजी मंदिर पर पूजा अर्चना कर ध्वजा चढाई। इस अवसर पर नवारा सरपंच नरपत सिंह, बरलूट सरपंच भरत माली, कपूरचंद प्रजापत, चुन्नीलाल प्रजापत, महाराज सेवागिरी, भोपाजी सरदार सिंह, गंगाराम प्रजापत सहित ग्रामीण मौजूद रहे। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन अनोप सिंह ने किया।

Must Read: सिरोही में स्वच्छ भारत मिशन के तहत लाभार्थियों की सूची सार्वजनिक करते हुए लिखनी थी दीवारों पर, लिख दिए स्वच्छता के नारे, खर्च होना था 13 लाख कर दिया 56 लाख रुपए

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :