पत्रकार से यौन उत्पीडऩ मामला : सीनियर पत्रकार के खिलाफ दुष्कर्म के केस में फैसला 19 मई को

तहलका मैगजीन के तत्कालीन संपादक तरुण तेजपाल पर उनके साथ काम करने वाली महिला ने यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था। उन पर मैगजीन के एक कार्यक्रम के दौरान गोवा के एक फाइव स्टार होटल की लिफ्ट में यौन उत्पीडऩ करने का आरोप लगा था।

सीनियर पत्रकार के खिलाफ दुष्कर्म के केस में फैसला 19 मई को

नई दिल्ली। 
तहलका मैगजीन (Tehelka magazine) के पूर्व संपादक तरुण तेजपाल (Tarun Tejpal) के खिलाफ दुष्कर्म केस में गोवा की कोर्ट (Court of goa) अब 19 मई को फैसला सुनाएगी। इससे पहले कोर्ट ने 27 मार्च को इस केस की सुनवाई 12 मई को करने का आदेश दिया था। तरुण तेजपाल को 30 नवंबर 2013 को अपनी जूनियर पत्रकार के यौन उत्पीडऩ (Sexual harassment) के मामले में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि उस समय उन्होंने गोवा की भाजपा सरकार पर राजनीतिक बदले की भावना से काम करने का आरोप लगाते हुए अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज कर दिया था।

अधिक खबरों के लिए https://firstbharat.in/   पर क्लिक करें

तहलका मैगजीन के तत्कालीन संपादक तरुण तेजपाल पर उनके साथ काम करने वाली महिला ने यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था। उन पर मैगजीन के एक कार्यक्रम के दौरान गोवा के एक फाइव स्टार होटल की लिफ्ट में यौन उत्पीडऩ करने का आरोप लगा था। गोवा की कोर्ट ने 29 सितंबर 2017 को तेजपाल के खिलाफ दुष्कर्म और यौन उत्पीडऩ (Rape and sexual harassment) समेत कई धाराओं में आरोप तय किए थे। इसके खिलाफ उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील कर अपने खिलाफ लगे आरोप खारिज करने की मांग की थी। हालांकि सुप्रीम कोर्ट से उन्हें राहत नहीं मिली थी। तेजपाल को इस मामले में जमानत मिल चुकी है और फिलहाल वे बेल पर हैं।

क्या है तहलका 

तहलका दिल्ली स्थित एक समाचार पत्र समूह था, जो अपनी खोजी और तथ्यपरक पत्रकारिता के लिए जाना जाता था। तहलका समूह के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल रहे ।  यह समूह दो पत्रिकाएं प्रकाशित करता था। तहलका की अंग्रेजी पत्रिका की संपादक शोमा चौधरी और हिंदी पत्रिका के संपादक संजय दुबे रहे थे। तहलका वर्ष 2001 में ऑपरेशन वेस्टएंड (Operation westend) के जरिए पहली बार चर्चा में आया  था। इसमें तहलका ने तब के भाजपा के अध्यक्ष बंगारू लक्ष्मण (Bangaru laxman) को रक्षा सौदों में मदद के लिए रिश्वत लेते हुए कैमरे में रंगे हाथों कैद किया था। शुरुआत में तहलका सिर्फ एक समाचार पोर्टल था। इसकी अंग्रेजी पत्रिका की शुरुआत वर्ष 2004 में तथा तहलका की हिंदी पत्रिका की शुरुआत वर्ष 2008 में हुई थी।

आखिर कौन है तेजपाल
तेजपाल का जन्म 15 मार्च 1963 को पंजाब (Punjab) के जालंधर (Jalandhar) शहर में हुआ था। उनके पिता भारतीय सेना में थे, जिसके चलते उन्हें देश के अलग-अलग हिस्सों में रहने का मौका मिला। तेजपाल ने चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में स्नातक (Graduate) की पढ़ाई की है। तेजपाल की शादी साल 1985 में हुई थी और उनकी पत्नी का नाम गीता बत्रा है। दोनों कॉलेज में साथ थे। 56 साल के तरुण तेजपाल भारत के प्रसिद्ध पत्रकार(Journalist), लेखक (Writer)और उपन्यासकार (novelist) रहे हैं। उनके पास पत्रकारिता का 30 साल से ज्यादा का अनुभव है। साल 1980 में द इंडियन एक्सप्रेस गु्रप में नौकरी करते हुए उन्होंने अपने पत्रकारिता जीवन की शुरुआत की थी। इसके बाद कई अखबारों में और मैगजीन में काम करते हुए उन्होंने मार्च 2000 में एक अन्य पत्रकार अनिरुद्ध बहल के साथ मिलकर ऑनलाइन इंवेस्टिगेटिव वेबसाइट ‘तहलका डॉट कॉम’ (Tehelka.com)शुरू की। साल 2004 में ये एक टैब्लॉइड न्यूजपेपर में तब्दील हो गई, वहीं 2007 में इसे मैगजीन का रूप दे दिया गया।

Must Read: भारत के पश्चिम बंगाल की जीआई टैग मिठाई मिहिदाना की पहली खेप हुई बहरीन में निर्यात, अलजजीरा ग्रुप ने आयात की मिठाई

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :