ताउ ते तूफान का असर सिरोही में भी: अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ताउ ते का असर, सिरोही में बारिश ने बदला मौसम का मिजाज, कल तेज बारिश की संभावना

अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान 'ताउ ते' का असर सोमवार को राजस्थान में दिखने लगा। जहां राजधानी में दिन भर बादलों की आवाजाही रही, वहीं दूसरी ओर गुजरात से सटे सिरोही जिले में सुबह से मौसम बदला हुआ है। तेज हवा, आंधी के बाद जिले में कहीं तेज तो कहीं हल्की बारिश शुरू हो गई है।

अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ताउ ते का असर, सिरोही में बारिश ने बदला मौसम का मिजाज, कल तेज बारिश की संभावना

सिरोही।
अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान 'ताउ ते' (Tau te) का असर सोमवार को राजस्थान में दिखने लगा। जहां राजधानी में दिन भर बादलों की आवाजाही रही, वहीं दूसरी ओर गुजरात से सटे सिरोही जिले में सुबह से मौसम बदला हुआ है। तेज हवा, आंधी के बाद जिले में कहीं तेज तो कहीं हल्की बारिश शुरू हो गई है। माउंटआबू में मौसम सुहाना बना हुआ है। मौसम बदलने से तापमान तीन से चार डिग्री गिर गया है। उधर, मौसम विभाग ने मंगलवार को जोधपुर और उदयपुर संभाग में भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसके बाद प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। डूंगरपुर, बांसवाड़ा सहित अन्य जिलों में NDRF की टीमें तैनात की गई हैं। डूंगरपुर में प्रशासन ने ग्रामीणों से घरों से बाहर न निकलने की अपील की है। मुख्य सचिव ने सभी जिला कलेक्टरों से कहा है कि इन एरिया के अस्पतालों में बिजली और ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए खास इंतजाम किए जाएं। 
तेज आंधी चलने की आशंका
मौसम विभाग (Director of Meteorological Department) के निदेशक राधेश्याम शर्मा (Radheshyam Sharma) के मुताबिक, इस चक्रवात का राजस्थान के दक्षिण-पूर्वी एरिया उदयपुर और दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र जोधपुर संभाग पर ज्यादा असर देखने को मिलेगा। उदयपुर, पाली, जालौर, राजसमंद, सिरोही और डूंगरपुर जिलों में 18 मई को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में 60 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलने की भी आशंका जताई है। मौसम विभाग की मानें तो यहां 200 मिमी तक बारिश हो सकती है। इन जिलों के अलावा जोधपुर, बाड़मेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, टोंक, अजमेर, बांसवाड़ा, जयपुर, दौसा, अलवर, कोटा, बूंदी सहित अन्य जिलों के लिए भी 18 और 19 मई के लिए अलर्ट जारी किया गया है। इन एरिया में भी मौसम विभाग ने तेज बारिश के साथ 40-50 किलोमीटर गति में हवा चलने की आशंका जताई है। गौरतलब है कि मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला कलेक्टरों के साथ बैठक की। इसमें चक्रवाती तूफान से होने वाले नुकसान की आशंका को देखते हुए सभी जरूरी तैयारियां करने के निर्देश दिए। उन्होंने विशेष तौर पर कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन और बिजली का बैकअप रखने के लिए कहा, ताकि बिजली या ऑक्सीजन की सप्लाई रुकने से किसी मरीज की जान न जाए। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियों से कोऑर्डिनेशन करने और हर अस्पताल में जनरेटर की व्यवस्था रखने के लिए कहा। चक्रवात के कारण बदले मौसम से आज सिरोही-माउंट आबू में सुबह से रूक-रूक कर बारिश का दौर जारी है। देर शाम आबू में झमाझम बारिश हुई। बारिश के कारण आबू में मौसम सुहावना हो गया और वहां गर्मी से लोगों को राहत मिली।

Must Read: सिरोही के संजीवनी अस्पताल में किया जा रहा था लिंग जांच, डिकॉय ऑपरेशन में चिकित्सक और दलाल गिरफ्तार

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :