Jalore में मानसून का कहर: जालोर में मानसून की बेरूखी के चलते खराब हुई फसलें, सर्वे टीम को मिली 100 प्रतिशत फसल खराब

मानसून की बेरूखी किसानों के लिए चिंता का विषय बन गई। हालात यह है कि खेतों में फसल जल कर नष्ट हो गई। हालांकि जिला कलेक्टर के आदेशानुसार जालोर तहसीलदार द्वारा गठित टीम की ओर से शुक्रवार को किए सर्वे में किसानों को 100 फीसदी फसल खराब होने की रिपोर्ट देने का आश्वासन दिया गया

जालोर में मानसून की बेरूखी के चलते खराब हुई फसलें, सर्वे टीम को मिली 100 प्रतिशत फसल खराब

जालोर।
मानसून की बेरूखी किसानों के लिए चिंता का विषय बन गई। हालात यह है कि खेतों में फसल जल कर नष्ट हो गई। हालांकि जिला कलेक्टर के आदेशानुसार जालोर तहसीलदार द्वारा गठित टीम की ओर से शुक्रवार को किए सर्वे में किसानों को 100 फीसदी फसल खराब होने की रिपोर्ट देने का आश्वासन दिया गया। सर्वे टीम  नारणावास पंचायत क्षेत्र के  नारणावास के खसरा 1790 ,1708, 2046 , नया नारणावास के खसरा नंबर 110 , 111, 112, 250 , 265  व धवला के खसरा नंबर 21, 22, 76 , 81 , 202 ,207 में  मूंग , ग्वार , तिल , बाजरे आदि  फसलों का सर्वे किया गया। इसमें 100 प्रतिशत फसल खराब पाई गई। इस मौके पर नारणावास सरपंच जशोदा कंवर , आरआई मोहन सिंह , पटवारी पूरण मल मीणा, बीमा कंपनी के प्रतिनिधि नीरज कुमार, कृषि पर्यवेक्षक नेमीचंद मीणा , चक्रवर्ती सिंह राठौड़  , किसान  फका राम , जोग सिंह , चतरा राम मेघवाल , ईश्वर सिंह आदि मौजूद थे।

किसानों की उम्मीदों पर फिरा पानी
नारणावास सरपंच जशोदा कंवर ने बताया कि  आरम्भ  में एक बार अच्छी वर्षा होने से किसानों ने अपने खेतों में खरीफ की ग्वार , बाजरे, तिल , मूंग ,  आदि फसलो की बुवाई अपने खेतों में की थी लेकिन  वर्षा नही होने से किसानों की फसलें पूरी तरह के सुक कर चौपट  हो गई ऐसे में किसानों को काफी आर्थिक नुकसान होने से किसानों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। 

Must Read: भीनमाल इलाके में रातभर धड़ल्ले से बिक रही है अवैध शराब, पुलिस और आबकारी विभाग मौन

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :