कोरोना पर डब्ल्यूएचओ की चेतावनी: विश्व की 70 फीसदी आबादी को टीका लगने के बाद ही समाप्त हो सकता है कोरोना वायरस:WHO

दुनियाभर में कोरोना का आतंक बढ़ता जा रहा है। चीन से निकला कोरोना वायरस से दुनियाभर में करीबन  35 लाख से अधिक लोगों की मौतें हो गई, जबकि भारत सहित दुनिया में 16 करोड़ से अधिक लोग इस संक्रमण की चपेट में आ गए। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन () ने चेतावनी जारी की है कि दुनिया से कोरोना महामारी जल्द खत्म नहीं होने जा रही है

विश्व की 70 फीसदी आबादी को टीका लगने के बाद ही समाप्त हो सकता है कोरोना वायरस:WHO

नई दिल्ली।
दुनियाभर में कोरोना (Corona) का आतंक बढ़ता जा रहा है। चीन से निकला कोरोना वायरस से दुनियाभर में करीबन  35 लाख से अधिक लोगों की मौतें हो गई, जबकि भारत सहित दुनिया में 16 करोड़ से अधिक लोग इस संक्रमण की चपेट में आ गए। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चेतावनी जारी की है कि दुनिया से कोरोना महामारी जल्द खत्म नहीं होने जा रही है। WHO के यूरोप के डायरेक्टर हांस कुल्गे (Hans Kulge) ने कहा कि जब तक 70 फीसदी आबादी को कोरोना वायरस का टीका नहीं लगा दिया जाता है, तब तक यह महामारी खत्म नहीं होगी।
हांस कुल्गे ने इस बात पर चिंता जताई कि कोरोना वैक्सीन लगाने की रफ्तार बेहद धीमी चल रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के खात्मे के लिए जरूरी है कि 70 फीसदी आबादी को टीका लगाया जाए। कुल्गे ने कहा कि उनकी चिंता की अब मुख्य वजह कोरोना वायरस के ज्यादा संक्रामक वेरिएंट हैं। उन्होंने कहा कि इसे इस उदाहरण से समझा जा सकता है कि भारत में मिला कोरोना वायरस वेरिएंट बी.1617 ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस के स्ट्रेन बी.117 से ज्यादा संक्रामक है। रोचक बात यह है कि ब्रिटेन में मिला स्ट्रेन अपने पूर्ववर्ती स्ट्रेन से पहले ही ज्यादा संक्रामक है। बेल्जियम में डॉक्टर हांस कुल्गे ने कहा कि महामारी में स्पीड ही सबसे महत्वपूर्ण होता है। कुल्गे ने कहा कि हमारा सबसे अच्छा मित्र स्पीड है और समय हमारे खिलाफ चल रहा है। टीकाकरण की रफ्तार अभी भी बहुत धीमी है। हमें इसकी गति और वैक्सीन की संख्या को बढ़ाने की जरूरत है। दुनियाभर में अभी कोरोना वायरस के प्रतिदिन कुल नए मामलों में 13 फीसदी की कमी आई है। हालांकि इन आंकड़ों का कम या ज्यादा होना लगातार बना हुआ है। पूरे विश्व में कोरोना संक्रमण के आधिकारिक मामले बढक़र 16 करोड़ को पार कर गए हैं। इस महामारी से अब तक कुल 35 लाख लोगों की मौत हो गई हैं। डब्ल्यूएचओ (WHO) के मुताबिक दुनिया के सबसे ज्यादा मामले और मौतों की संख्या के मामले में America सबसे अधिक प्रभावित देश बना हुआ है। कोरोना संक्रमण के मामले में India दूसरे स्थान पर है। कोरोना से हुई मौतों के मामले में America के बाद ब्राजील(Brazil) दूसरे नंबर पर और India तीसरे नंबर पर है। भारत में 3 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से मारे गए हैं। उधर, WHO का मानना है कि आधिकारिक आंकड़ों के उलट कोरोना वायरस से तीन गुना ज्यादा लोग अब तक मारे गए हैं।

Must Read: जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भाषण के दौरान गोली मारकर हत्या

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :