वन्यजीव का सुरक्षित रेस्क्यू ऑपरेशन: पिंडवाडा के अम्बेश्वर फली की आबादी में आया भालू, वन विभाग की टीम ने किया सुरक्षित रेस्क्यू

सिरोही जिले के पिंडवाड़ा फारेस्ट रेंज में आज तड़के आबादी में एक भालू आ गया। लोगों की भीड़ को देखकर भालू पेड़ पर चढ़ गया। भालू का वन विभाग पिंडवाड़ा के नेतृत्व में सफल रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया। जानकारी के अनुसार पिंडवाड़ा के समीप आपरिखेड़ा ग्राम पंचायत की अम्बेश्वर फली की आबादी में अलसुबह एक भालू पीपल के पेड़ पर चढ़ा हुआ बैठा था

पिंडवाडा के अम्बेश्वर फली की आबादी में आया भालू, वन विभाग की टीम ने किया सुरक्षित रेस्क्यू

पिंडवाड़ा।
सिरोही जिले के पिंडवाड़ा फारेस्ट रेंज में आज तड़के आबादी में एक भालू आ गया। लोगों की भीड़ को देखकर भालू पेड़ पर चढ़ गया। भालू का वन विभाग पिंडवाड़ा के नेतृत्व में सफल रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया। जानकारी के अनुसार पिंडवाड़ा के समीप आपरिखेड़ा ग्राम पंचायत की अम्बेश्वर फली की आबादी में अलसुबह एक भालू पीपल के पेड़ पर चढ़ा हुआ बैठा था। जिसे स्थानीय लोगों ने देख लिया एवं मौके पर भीड़ जमा हो गयी।

रीछ  आने की सूचना कार्यवाहक क्षेत्रीय वन अधिकारी दौलत सिंह, वनपाल को मिलते ही तुरंत वन विभाग की रेस्क्यू इंचार्ज अंजू चैहान व वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। इस दौरान  भीड़ को नियंत्रित किया गया। मौका स्थिति की पूरी जानकारी लेकर टीम ने उपवन सरंक्षक पी. सी. कुमावत से बात की। इस दौरान एसीएफ सुनील गुप्ता ने भी लगातार फोन द्वारा मार्गदर्शन दिया।


रेस्क्यू इंचार्ज अंजू चैहान ने बताया कि रीछ शहद खाने पेड़ पर चढ़ा था। जो किसी कारणवश समय पर जंगल नहीं लौट सका। सुबह ही ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठी होने से वह पेड़ पर दुबका रहा। मौके पर विभाग की टीम ने जाकर भीड़ को नियंत्रण में किया। इसके बाद भीड़ कम होते ही रीछ स्वतः पेड़ से नीचे उतर कर जंगल की तरफ चला गया। इस दौरान पूर्व सरपंच रतनलाल गरासिया, वार्ड पंच हीराराम गरासिया ने मौके पर विभाग के साथ रहकर पूरा सहयोग किया। रेस्क्यू ऑपरेशन में नाका इंचार्ज मोरस के सहायक वनपाल अचला राम, पशु रक्षक सामीराराम, चैकीदार देवी सिंह, एवं वन्यजीव प्रेमी धीरज माली भी साथ रहे।