बेख़ौफ अपराधी: डर के साए में जी रहा पीड़िता का परिवार, पहले किया था जानलेवा हमला, गुप्तांग में डाल दिया था मिर्ची पाऊडर, अब मुकदमा वापस लेने के लिए दे रहे धमकियां

अपराधियों का हौसला देखिए, पीड़िता के घर के बाहर मोटरसाइकिल लेकर मंडराते रहते हैं। साथ ही धमकियां भी दे रहे कि मुकदमा वापस ले वरना अंजाम भुगतने को रहे तैयार। पीड़िता ने पुलिस थाने से लेकर एसपी तक सभी पुलिस अधिकारियों से सुरक्षा की  मांग की हैं।

डर के साए में जी रहा पीड़िता का परिवार, पहले किया था जानलेवा हमला, गुप्तांग में डाल दिया था मिर्ची पाऊडर, अब मुकदमा वापस लेने के लिए दे रहे धमकियां

पाली। पाली जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र में पिछले दिनों एक युवती को घर की रसोई में खाना बनाते हुए को जोर जबरदस्ती खींचते हुए बीच सड़क पर लाकर मारपीट कर उसके गुप्तांग में मिर्ची पाऊडर डालने के प्रकरण के बाद पुलिस की लचर कार्यप्रणाली के चलते आरोपियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि अब इन आरोपियों ने पीड़िता और उसकी मां को उक्त मुकदमा वापस लेने के लिए अंजाम भुगतने तक की धमकियां दी जा रही हैं। पीड़िता ने इन आरोपियों से अपनी व अपने परिवार की जान माल की सुरक्षा के लिए पुलिस थाना सहित डिप्टी, एडिशनल एसपी और एसपी को प्रार्थना पत्र भेजकर सुरक्षा की गुहार लगाई हैं।

पीड़िता ने पुलिस के तमाम आलाधिकारियों को भेजे प्रार्थना पत्र में लिखा हैं कि घटना के बाद से ही आरोपी चंद्र प्रकाश, मनोहर देवड़ा, सुकनराज व 4-5 अन्य लोग पीड़िता के परिवार को अनावश्यक दबाव डालकर ऐलानिया धमकियां देते हुए मुकदमें को वापस लेने की बात कह रहे हैं। साथ ही ऐसा नही करने पर अंजाम भुगतने को भी तैयार रहने की धमकी दे रहे हैं। पीड़िता ने अपनी प्रार्थना में साफ लिखा हैं कि आरोपियों ने उसके घर के आगे कुछ गुंडा लोगो को लगा रखा हैं जो पूरे दिन मोटरसाइकिल लेकर उसके घर के बाहर चक्कर लगाते रहते हैं। जिसके कारण उनको घर से बाहर आने में भी डर सताता रहता हैं। पीड़िता ने कहा कि उसके परिवार में सिर्फ महिलाएं ही हैं, पीड़िता के अलावा उसकी बूढ़ी मां और एक दिव्यांग बहिन हैं। आरोपियों द्वारा उनके घर के बाहर लगाए गए गुंडों के डर से पीड़िता अपना इलाज़ करवाने के लिए भी अस्पताल जाने से डरती हैं क्योंकि अस्पताल जाते समय या बाजार से दवाई लाने जाते समय ये गुंडे इनका पीछा करते हैं। साथ ही उसे बार बार मुकदमा वापस लेने की धमकियां देते हैं। ऐसे में पीड़िता को खुद की व उसकी मां की जान को खतरा महसूस हो रहा हैं।

मामले से जुड़ी पूर्व में प्रकाशित खबर

12 दिन से पीड़िता अस्पताल में लड़ रही जिंदगी की जंग, लेकिन पुलिस कर रही पूरे मामले में लीपापोती -

Must Read: 'अपना घर आश्रम’ में दुखद घटना, तीन लोगों की मौत, कई अस्पताल में भर्ती

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :