Amarnath Yatra 2022: अमरनाथ यात्रा अब और भी होगी सुगम, सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, मिलेगा RIFD कार्ड

बाबा बर्फानी के भक्तों के लिए अच्छी खबर है। बाबा अमरनाथ यात्रा 2022 (Amarnath Yatra 2022) फिर से शुरू होने जा रही है। इसके लिए सभी तैयारियां जोरों पर चालू है। इस बार यह यात्रा 30 जून से शुरू होकर 11 अगस्त तक चलेगी।

अमरनाथ यात्रा अब और भी होगी सुगम, सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, मिलेगा RIFD कार्ड
Amarnath Yatra 2022

नई दिल्ली | बाबा बर्फानी के भक्तों के लिए अच्छी खबर है। बाबा अमरनाथ यात्रा 2022 (Amarnath Yatra 2022) फिर से शुरू होने जा रही है। इसके लिए सभी तैयारियां जोरों पर चालू है। इस बार यह यात्रा 30 जून से शुरू होकर 11 अगस्त तक चलेगी। हर साल बाबा बर्फानी के दर्शनों के लिए लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। लेकिन पिछले दो सालों से कोरोना महामारी के चलते ये यात्रा बंद थी। इस बार पहली बार हर अमरनाथ यात्री को एक आरआईएफडी कार्ड दिया जाएगा और 5 लाख रुपये का बीमा करवाया जाएगा।

यात्रा को लेकर आज अमित शाह ने ली हाई लेवल मीटिंग
दो सालों से यात्रा शुरू होने का इंतजार कर रहे लाखों भक्तों को बाबा बर्फानी 30 जून से फिर से दर्शन देने वाले हैं। ऐसे में अमरनाथ यात्रा को सुचारू रूप से संपन्न करने के लिए आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में एक हाई लेवल मीटिंग की। इस मीटिंग में शाह ने सभी अधिकारियों से यात्रा के संबंध जानकारी ली और जरूरी निर्देश दिए। बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह सचिव, आसूचना ब्यूरो के निदेशक, जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव और सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। बैठक में गृह मंत्री ने कहा कि अमरनाथ यात्रा में आने वाले यात्रियों को दर्शन सुगम हो और उन्हें किसी समस्या का सामना न करना पड़े यह मोदी सरकार की प्राथमिकता है।

ये भी पढ़ें:- जैसलमेर के लोंगेवाला युद्ध में पाकिस्तान को धूल चटाने वाले कर्नल धर्मवीर का निधन, पाक सैनिकों-टैंकों को किया था नेस्तनाबूत

यात्रियों के लिए एंबुलेंस और हेलीकॉप्टर रहेंगे तैनात
इस बार अमरनाथ यात्रा में यात्रियों को किसी भी आपात चिकित्सा स्थिति से निपटने के लिए एंबुलेंस और हेलीकाप्टर की भी व्यवस्था रहेगी। गृह मंत्री अमित शाह ने अमरनाथ यात्रा के दौरान पर्याप्त संख्या में ऑक्सीजन सिलेंडर रखने, 6000 फीट से अधिक की ऊंचाई पर पर्याप्त चिकित्सा बेड रखने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा बैठक में अमरनाथ यात्रियों के आवागमन, ठहरने, बिजली, पानी, संचार और स्वास्थ्य समेत सभी आवश्यक सुविधाओं की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें:- Gyanvapi Case: ज्ञानवापी मामले में सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला- नमाज पढ़ने से लोगों को नहीं रोका जाएं

Must Read: सिद्ध योग में महाशिवरात्रि पर श्रद्धालुओं ने किया बाबा का जलाभिषेक

पढें अध्यात्म खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :