खेल: पोंटिंग और पंत ने दिल्ली कैपिटल्स को बेहद पेशेवर फ्रेंचाइजी बनाया: मनदीप सिंह

पोंटिंग और पंत ने दिल्ली कैपिटल्स को बेहद पेशेवर फ्रेंचाइजी बनाया: मनदीप सिंह
नई दिल्ली, 23 अगस्त (आईएएनएस)। अपने शक्तिशाली स्ट्रोक और बड़े छक्कों के लिए लोकप्रिय मंदीप सिंह ने 2016 में भारत के लिए डेब्यू किया। वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में विभिन्न फ्रेंचाइजी के लिए खेले और अंडर-19 भारतीय क्रिकेट टीम में एक प्रतिष्ठित खिलाड़ी रहे हैं।

हाल ही में, मंदीप ने अपने प्रशंसकों के साथ शेयरचैट आडियो चैटरूम सत्र- क्रिकचैट पावर्ड बाय परिमैच में कई सारी बातें की हैं।

अपने करियर के बारे में चर्चा करते हुए मंदीप ने 2016 में भारतीय टीम में अपने डेब्यू को याद किया।

उन्होंने कहा, मैं आईपीएल में खेल रहा था, जब मुझे अपने चयन के बारे में पता चला। मेरे पिता हमेशा मुझसे कहते थे, अगर मैं क्रिकेट खेलता हूं, तो मुझे भारत के लिए खेलना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा, मैं अपने डेब्यू से एक दिन पहले लिफ्ट में धोनी से मिला और उन्होंने मुझे अगले दिन के लिए तैयार रहने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि आंद्रे को छक्के मारना उनकी अब तक की सबसे बड़ी उपलब्धि है।

मंदीप दिल्ली कैपिटल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) जैसी विभिन्न फ्रेंचाइजी का हिस्सा रहे हैं।

दिल्ली कैपिटल्स के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, रिकी पोंटिंग और ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स को एक बेहद पेशेवर फ्रेंचाइजी बना दिया है। पोंटिंग सभी के साथ समान व्यवहार करते हैं।

कोहली ने भारतीय टीम में फिटनेस का स्तर ही बदल दिया, इस बारे में पूछने पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा, जब मैं आरसीबी में शामिल हुआ, तो मैं विराट कोहली के प्रशिक्षण को देखकर चौंक गया था। उनकी फिटनेस ने उन्हें टी20 क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसने गेंदबाजों को बेहतर बनाने में मदद की और कुल मिलाकर टेस्ट क्रिकेट में आगे बढ़ाया है।

उन्होंने आगे चर्चा की है कि कैसे आईपीएल खेलने से उन्हें वित्तीय स्थिरता और आत्मविश्वास मिला।

चर्चा के दौरान मंदीप ने केएल राहुल के सफर पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि अपने अंडर-19 दिनों के दौरान, केएल राहुल ने अपने खेल पर काम करना और टेस्ट क्रिकेट की तैयारी शुरू कर दी थी।

मंदीप ने एशिया कप को लेकर सूर्यकुमार यादव की जमकर तारीफ की। उन्होंने अपने प्रशंसकों के साथ खुलकर बात करते हुए अपने शुरूआती दिनों की कहानियों को दर्शकों के सामने रखा। प्रसिद्ध क्रिकेट प्रेजेंटर और कमेंटेटर मनीष बटाविया ने चर्चा का संचालन किया।

--आईएएनएस

आरजे/ आरआर

Must Read: अल्टीमेट खो खो: मुंबई के दुर्वेश सालुंके का लक्ष्य अपने अनुभव को युवाओं तक पहुंचाना

पढें खेल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :