Rajasthan मुख्य सचिव की कमान महिला को: 1985 बैच की आईएएस उषा शर्मा को राजस्थान का मुख्य सचिव किया नियुक्त, निरंजन आर्य होंगे सीएम के सलाहकार

राजस्थान के प्रशासनिक बेडे की कमान महिला के हाथों में आ गई। 1985 बैच की महिला आईएएस उषा शर्मा को राजस्थान की मुख्य सचिव बनाया गया है। सचिवालय के कार्मिक विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है।

1985 बैच की आईएएस उषा शर्मा को राजस्थान का मुख्य सचिव किया नियुक्त, निरंजन आर्य होंगे सीएम के सलाहकार

जयपुर। 
राजस्थान के प्रशासनिक बेडे की कमान महिला के हाथों में आ गई। 1985 बैच की महिला आईएएस उषा शर्मा को राजस्थान की मुख्य सचिव बनाया गया है। 
सचिवालय के कार्मिक विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है। वहीं मुख्य सचिव पद से रिटायर्ड हुए निरंजन आर्य को मुख्यमंत्री का सलाहकार बनाया गया है। 
इसी के साथ निरंजन आर्य का नाम आरपीएससी अध्यक्ष की दौड़ से बाहर हो गया। 
आईएएस उषा शर्मा को केंद्र सरकार ने रविवार को ही राज्य सरकार के आग्रह पर डेपुटेशन से रिलीव कर दिया था। 
इधर, उषा शर्मा ने मुख्य सचिव का चार्ज संभालने के बाद मुख्यमंत्री निवास पर अशोक गहलोत से मुलाकात की। उषा शर्मा युवा मामले एवं खेलकूद मंत्रालय में नियुक्त थीं।


इससे पहले गहलोत सरकार ने पिछले कार्यकाल में कुशल सिंह को मुख्य सचिव बनाया था। अब उषा शर्मा का कार्यकाल करीबन डेढ साल का रहेगा। शर्मा जून 2023 तक इस पद पर रहेंगी। 
चुनाव से छह माह पहले ही उषा शर्मा रिटायर्ड हो जाएंगी। सरकार को चुनाव से पहले फिर एक बार नया मुख्य सचिव नियुक्त करने का मौका मिलेगा। हालांकि इसमें एक्सटेंशन का विकल्प भी खुला रहेगा। 
गौरतलब है कि उषा शर्मा राजस्थान के अजमेर तथा बूंदी में कलेक्टर के पद पर रह चुकी हैं। 
इसके अलावा कॉपरेटिव सोसायटी की रजिस्ट्रार, स्टेट प्लानिंग बोर्ड की मेंबर सेक्रेट्री, स्पिनफेड और राजस्थान हैंडलूम डवलपमेंट कॉर्पोरेशन की सीएमडी सहित कई पदों पर सेवाएं दी हैं।
मुख्य सचिव उषा शर्मा विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी की रिश्तेदार बताई जा रही हैं। वहीं इनके पति बीएन शर्मा रिटायर्ड आईएएस हैं। बीएन शर्मा केंद्र व राज्य में कई पदों पर रहे हैं।
 फिलहाल राजस्थान इलेक्ट्रिसिटी रेग्युलेटरी कमीशन के चेयरमैन के पद पर कार्यरत हैं। इधर, उषा शर्मा की नियुक्ति के साथ ही प्रदेश में लंबे अरसे बाद सीनियरिटी का ध्यान रखा गया। 
1985 बैच की आईएएस उषा शर्मा के  बैच के केवल एक आईएएस रवि शंकर श्रीवास्तव हैं जो पहले से ही सचिवालय से बाहर तैनात हैं। इनके अलावा सभी उषा शर्मा से जूनियर हैं। 
निरंजन आर्य 1987 बैच के थे, तब बहुत से अधिकारियों की सीनियरिटी तो साइड में रखकर इन्हें मुख्य सचिव बनाया गया था।

Must Read: सिरोही के पिंडवाड़ा में वैद्य डॉक्टर की उपाधि के साथ लिख रहा है एलोपेथी दवा, स्वास्थ्य विभाग अनजान

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :