इकोनॉमी: एप्पल के कर्मचारियों ने दफ्तर में वापसी के रुख पर शुरू किया अभियान

एप्पल के कर्मचारियों ने दफ्तर में वापसी के रुख पर शुरू किया अभियान
सैन फ्रांसिस्को, 23 अगस्त (आईएएनएस)। एप्पल के कर्मचारियों ने रिटर्न-टू-ऑफिस के आदेशों पर पलटवार किया है और एक अभियान शुरू किया है जिसमें कहा गया है कि फर्म ने घर से काम करने की उनकी क्षमता को सीमित कर विविधता और कर्मचारियों की भलाई को जोखिम में डाल दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स में यह जानकारी दी गई है।

न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, ये अभियान सीईओ टिम कुक के सभी कर्मचारियों को दिए एक ज्ञापन के जवाब में है, जिन्होंने पिछले हफ्ते कहा था कि सितंबर से सप्ताह में कम से कम तीन दिन कर्मचारियों को कार्यालय में आना होगा।

हालांकि, एप्पल टुगेदर नाम से काम करने वाले कर्मचारियों के एक समूह ने कुक के आदेशों के खिलाफ एका अभियान शुरू कर दिया जिसमें कहा गया है कि अधिक लचीलेपन से कंपनी के भीतर विविधता को बढ़ावा मिलेगा।

इसमें कहा गया, हम मानते हैं कि एप्पल को एक अधिक विविध और सफल कंपनी बनाने के लिए फ्लिेक्सिबल वर्क को प्रोत्साहित करना चाहिए, जहां हम एक साथ अलग सोचने के लिए सहज महसूस कर सकें।

समूह ने सोमवार को याचिका से जुड़े एक ट्वीट में कहा, क्या आप एक कार्यालय-आधारित एप्पल कर्मचारी हैं? क्या आप आरटीओ (रिटर्न टु ऑफिस) आदेश से खुश नहीं हैं? इस पत्र पर हस्ताक्षर करें, आइए एक साथ खड़े हों।

एप्पल टुगेदर कथित तौर पर इस सप्ताह हस्ताक्षरों को सत्यापित करने और उन्हें आईफोन निर्माताओं के अधिकारियों को भेजने से पहले एकत्र करने का इरादा रखता है।

जबकि अन्य तकनीकी कंपनियों जैसे ट्विटर और फेसबुक ने महामारी की शुरुआत में नीतियां पेश की थीं, जो कर्मचारियों को स्थायी रूप से घर से काम करने की अनुमति देती हैं। एप्पल ने अपना रुख बनाए रखा है कि यह कर्मचारियों से दफ्तर में काम करने की उम्मीद करता है।

--आईएएनएस

एसकेके/एसकेपी

Must Read: 2021 में भारत के लिए 44,600 करोड़ रुपये का आर्थिक मूल्य उत्पन्न हुआ : उबर

पढें इकोनॉमी खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :