इकोनॉमी: जून तिमाही में बीएसई-500 शेयरों में प्रमोटर होल्डिंग की वैल्यू 1.5 प्रतिशत तक गिरी: कोटक रिपोर्ट

जून तिमाही में बीएसई-500 शेयरों में प्रमोटर होल्डिंग की वैल्यू 1.5 प्रतिशत तक गिरी: कोटक रिपोर्ट
मुंबई, 20 अगस्त (आईएएनएस)। प्रमोटर होल्डिंग के प्रतिशत के रूप में प्रमोटर प्लेज होल्डिंग का मूल्य (वैल्यू) अप्रैल-जून तिमाही में घटकर 1.5 प्रतिशत हो गया, जो इससे पिछली तिमाही में 1.7 प्रतिशत था।

बीएसई-500 इंडेक्स में 81 कंपनियों के प्रमोटरों ने जून 2022 तिमाही में अपनी हिस्सेदारी का कुछ हिस्सा गिरवी रखा है।

केवल तीन कंपनियों ने अपने प्रमोटरों की 80 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी गिरवी रखी थी। ये कंपनियां हैं- थायरोकेयर टेक्नोलॉजीज, मैक्स फाइनेंशियल सर्विसेज और सुजलॉन एनर्जी।

हालांकि, मेडप्लस हेल्थ सर्विसेज, स्टलिर्ंग एंड विल्सन, जिंदल स्टील एंड पावर, शोभा और स्ट्राइड्स फार्मा साइंस सहित अन्य ने गिरवी रखने वाले प्रमोटर होल्डिंग्स में पर्याप्त वृद्धि देखी है।

रिपोर्ट के अनुसार, गिरवी रखने वाले प्रमोटर होल्डिंग्स का मूल्य 1.7 लाख करोड़ रुपये था।

रिपोर्ट में कहा गया है, हम स्पष्ट करते हैं कि शेयरों को गिरवी रखने का मतलब यह नहीं है कि कोई कंपनी या प्रमोटर वित्तीय तनाव में है, बैंक (ऋणदाता) प्रमोटर शेयरों के रूप में अतिरिक्त सुरक्षा की मांग कर सकते थे।

निफ्टी-50 में 5 फीसदी से ज्यादा गिरवी रखने वाली प्रमोटर होल्डिंग वाली कंपनियां: अडानी पोर्ट्स एंड एसईजेड (13.1 फीसदी), अपोलो हॉस्पिटल्स (16.4 फीसदी), एशियन पेंट्स (11 फीसदी), इंडसइंड बैंक (45.5 फीसदी) और जेएसडब्ल्यू स्टील (16.8 फीसदी)।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Must Read: अडाणी ग्रुप एनडीटीवी में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी का करेगा अधिग्रहण

पढें इकोनॉमी खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :