UP@ महंत नरेंद्र गिरि आत्महत्या मामला: उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे प्रयागराज, महंत नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि अर्पित, दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश

उत्तर प्रदेश में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत को लेकर अभी तक सस्पेंस बना हुआ है। वहीं दूसरी ओर आज  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज पहुंचकर नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि अर्पित की।

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे प्रयागराज, महंत नरेंद्र गिरि को  श्रद्धांजलि अर्पित, दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश

नई​ दिल्ली, एजेंसी।
उत्तर प्रदेश में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत को लेकर अभी तक सस्पेंस बना हुआ है। वहीं दूसरी ओर आज  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज पहुंचकर नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि अर्पित की। अखाड़ा परिषद के सदस्यों की राय के बाद नरेंद्र गिरि का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए बाघंबरी पीठ में रखा गया। इसके बाद पोस्ट मॉर्टम होगा और फिर धार्मिक संस्कारों के अनुरूप समाधि का कार्यक्रम किया जाएगा। महंत नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे सीएम योगी ने कहा कि नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में कई वरिष्ठ अधिकारियों की टीम मिलकर काम कर रही है। कई अहम सबूत तक जुटाए गए है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश होगा। जांच एजेंसियों को निष्पक्ष जांच करने और दोषियों को कड़ी सजा दिलवाने के निर्देश दिए। महंत के निधन पर योगी ने कहा कि महंत गिरि का नहीं रहना एक दुखद घटना है। इस लिए अपने संत समाज और प्रदेश सरकार की ओर से श्रदांजलि अर्पित करने के लिए मैं स्वयं उपस्थित हुआ हूं।

महंत के चेले आनंद गिरि से पूछताछ
वहीं दूसरी ओर महंत नरेंद्र गिरि की मौत के बाद चेले आनंद गिरि को यूपी पुलिस हरिद्वार से लेकर प्रयागराज आ गई। आनंद से पुलिस लाइन में पूछताछ की जा रही है। गौरतलब है कि सोमवार को प्रयागराज के बाघंबरी मठ में नरेंद्र गिरि का शव संदिग्ध हालत में लटका मिला था। मठ के कमरे में ही एक सुसाइड नोट का भी जिक्र है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नरेंद्र गिरि को ब्लैकमेल किया जा रहा था। उनके किसी वीडियो की सीडी तैयार की गई थी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि पुलिस ने यह सीडी भी बरामद कर ली है। इस मौत मामले में प्रदेश के राजनीतिक दलों से जुड़े कुछ लोगों के साथ-साथ आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया गया है।
अखिलेश यादव भी पहुंचे बाघंबरी मठ
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि देने बाघंबरी मठ पहुंचे हैं। इस मामले को लेकर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने CBI जांच की मांग की है। इस मामले में प्रयागराज के DM और SSP को बर्खास्त करने की भी मांग की जा रही है। सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने भी प्रयागराज पहुंची। उन्होंने कह कि यह एक संत की आत्महत्या का मामला है, इसकी तह तक जाया जाएगा और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 
नरेंद्र के शिष्य पर मुकदमा
नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत मामले में उनके ही शिष्य आनंद गिरि (45) के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया गया है। इस संबंध में लेटे हनुमान मंदिर के व्यवस्थापक अमर गिरि की ओर से रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। इसमें आरोप हैं कि आनंद की प्रताड़ना की वजह से ही महंत नरेंद्र गिरि ने जान दी है। वहीं आनंद गिरि ने खुद को बेगुनाह बताते हुए इसे बड़ी साजिश बताया है। आनंद ने मुख्यमंत्री योगी से निष्पक्ष जांच की मांग की है। महंत नरेंद्र गिरि का शव बाघंबरी मठ के कमरे में लटका मिला था। IG रेंज केपी सिंह ने बताया कि मौके से 7 पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। इसे महंत नरेंद्र गिरि ने वसीयतनामे की तरह लिखा है और इसमें उनके शिष्य आनंद गिरि का भी जिक्र है। नरेंद्र गिरि ने सुसाइड नोट में यह जिक्र भी किया है कि किस शिष्य को क्या देना है? कितना देना है? साथ ही लिखा है कि वे अपने कुछ शिष्यों के व्यवहार से बहुत ही आहत और दुखी हैं और इसीलिए सुसाइड कर रहे हैं।

सीएम गहलोत ने की संवेदना व्यक्त
महंत नरेंद्र गिरि के निधन की सूचना पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी संवेदना व्य​क्त की है। सीएम गहलोत ने लिखा कि अखाड़ा परिषद के प्रमुख महंत नरेन्द्र गिरी जी का आकस्मिक देहावसान समाज के लिए अपूर्णीय क्षति है। उनका पूरा जीवन धर्म व आध्यात्म के प्रति समर्पित रहा। मैं ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं व उनके अनुयायियों के प्रति शोक संवेदनाएं व्यक्त करता हूं।ओम शान्ति।

Must Read: श्रीनगर में पुलिस के सर्च आपरेशन में आतंकी से मुठभेड़, 4 आतंकियों को किया ढेर

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :