Corona वैक्सीनेशन का ऐतिहासिक मुकाम: India में 16 जनवरी 2021 को शुरू हुआ वैक्सीनेशन अभियान 150 करोड़ पार, प्रधानमंत्री ने ऐतिहासिक मुकाम पर दी बधाई

भारत ने 7 जनवरी 2022 को 150 कोरोना वैक्सीन डोज लगा दी। देश की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी को बधाई दी है और देश के वैज्ञानिकों, वैक्सीन निर्माताओं के साथ हेल्थ सेक्टर के कार्मिकों का आभार जताया है।

India में 16 जनवरी 2021 को शुरू हुआ वैक्सीनेशन अभियान 150 करोड़ पार, प्रधानमंत्री ने ऐतिहासिक मुकाम पर दी बधाई

नई दिल्ली, एजेंसी।  
भारत में कोरोना की तीसरी लहर के बीच एक अच्छी खबर वैक्सीनेशन को लेकर आई है। भारत ने कोरोना वैक्सीनेशन का एक बड़ा मुकाम हासिल करते हुए इतिहास रच दिया। 
भारत ने  7 जनवरी 2022 को 150 कोरोना वैक्सीन डोज लगा दी। देश की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी को बधाई दी है और देश के वैज्ञानिकों, वैक्सीन निर्माताओं के साथ हेल्थ सेक्टर के कार्मिकों का आभार जताया है।
 कोविन डेशबोर्ड के मुताबिक भारत में आज दोपहर 2.30 बजे तक देश में 1,50,17,23,911 डोज लगा दी गई। 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की इस उप​लब्धि पर कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अच्छा उत्साह है। 
देश में 90प्रतिशत वयस्कों की आबादी ने कोरोना की दोनों डोज लगा ली। वहीं इस साल 3 जनवरी से शुरू किए गए बच्चों के अभियान में भी 1.68 करोड़ को पहली डोज लग गई।


यह उपलब्धि देश के लिए अच्छे सकेत है। मोदी ने ट्वीट किया कि देश के वैज्ञानिकों, वैक्सीन निर्माताओं और स्वास्थ्य मंत्रालय को इसके लिए आभार। 
इन सभी के मिले-जुले प्रयासों का नतीजा है कि हम शून्य से इस शिखर तक पहुंच गए हैं।
भारत में 16 जनवरी 2021 को वैक्सीनेशन का अभियान शुरू किया गया था। सरकार ने पिछले साल दिसंबर तक 216 करोड़ वैक्सीन लगाने का टारगेट तय किया था, इसके अनुपात में 150 करोड़ वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी है। 
अब बताया जा रहा है कि अप्रेल 2022 तक 216 करोड़ का भी टारगेट पाया जा सकता है। देश में पहली 20 करोड़ डोज लगाने के लिए 131​ दिन का समय लग गया था।


इसके बाद अगले 20 करोड 52 दिन में, 40 से 60 करोड़ होने में 39 दिन, 60 से 80 होने में 24 दिन का समय लगा। भारत ने 100 से 150 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने में 78 दिन का समय लगा है। बाद में कोरोना वैक्सीन की रफ्तार धीमे हो गई। 
अब देश में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए 10 जनवरी से 60 साल से उपर वाले बुजुर्गों को, फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थकेयर को कोरोना की बूस्टर डोज दी जाएगी।

Must Read: डीआरडीओ की तैयार 2 डीजी दवा से कोरोना मरीजों को जल्द आराम

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :