कप्तान बदलते ही अवैध शराब पर कार्रवाई : सिरोही जिले के नए पुलिस अधीक्षक ने आते ही शुरू हुई अवैध शराब के खिलाफ कार्रवाई, 795 अंग्रेजी तो 224 देशी शराब के कर्टन जब्त

शराब तस्करों से सांठगांठ के आरोपों से घिरी सिरोही पुलिस ने नए कप्तान के पदभार ग्रहण करने के साथ ही अपना रूख भी बदल लिया। सिरोही जिले के सरूपगंज थाना पुलिस ने शराब तस्करी के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए जहां हरियाणा निर्मित 795 कर्टन अंग्रेजी शराब बरामद करते हुए एक ट्रेलर को जब्त किया,

सिरोही जिले के नए पुलिस अधीक्षक ने आते ही शुरू हुई अवैध शराब के खिलाफ कार्रवाई, 795 अंग्रेजी तो 224 देशी शराब के कर्टन जब्त

सिरोही (Sirohi)। 
शराब तस्करों से सांठगांठ के आरोपों से घिरी सिरोही पुलिस ने नए कप्तान के पदभार ग्रहण करने के साथ ही अपना रूख भी बदल लिया। सिरोही जिले के सरूपगंज थाना पुलिस (Sarupangaj Police )ने शराब तस्करी के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए जहां हरियाणा निर्मित 795 कर्टन अंग्रेजी शराब बरामद करते हुए एक ट्रेलर को जब्त किया, वहीं अवैध रूप से शराब परिवहन करने के जुर्म में दो आरोपियों को भी गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की हैं। इधर जिले के अनादरा पुलिस ने भी अवैध देशी मदिरा की भी करीबन 300 पेट्टियां जब्त की है। आप को बता दें कि नवनियुक्त एसपी धर्मेंद्र सिंह यादव (Dharmendra Singh) के आने के बाद पूरे जिले के पुलिस थाना पुलिस को अवैध गतिविधियों पर कार्रवाई के सख्त निर्देश दिए गए थे। नए कप्तान के निर्देशों के बाद सिरोही पुलिस की यह पहली बड़ी कार्रवाई है। 
सरूपगंज टोल प्लाजा के नजदीक जब्त की शराब 
सरूपगंज थानाधिकारी छगन डांगी ने बताया कि मुखबिर की सूचना के आधार पर देर रात करीब 1 बजे सरूपगंज टोल प्लाजा के पास नाकाबंदी की गई। जहां से गुजर रहे एक ट्रेलर को रुकवाकर तलाशी ली तो  चावल की भूसी की आड़ में अवैध शराब की बड़ी खेप ले जाई जा रही थी। इसे मौके पर ही पकड़ कर ट्रेलर में सवार दोनों आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के अनुसार ये शराब हरियाणा के करनाल से भर कर लाई गई थी। इसे पड़ोसी राज्य गुजरात में सप्लाई की जानी थी। लेकिन इससे पहले ही सरूपगंज थाना पुलिस ने इस बड़ी खेप को पकड़ कर शराब तस्करों के मंसूबों पर पानी फेर दिया। इस शराब की कीमत करीब 50 लाख बताई जा रही हैं।

अनादरा पुलिस ने देशी शराब के 224 कर्टून से भरी पिकअप को किया जब्त, चालक गिरफ्तार


अनादरा थाना पुलिस ने भी बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए राजस्थान निर्मित देशी मदिरा से भरी पिकअप गाड़ी को जब्त कर 224 कर्टन देशी शराब बरामद करते हुए एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया हैं। अनादरा थानाधिकारी पदमपाल सिंह ने बताया कि एसपी धर्मेंद्रसिंह यादव के निर्देशन में शराब तस्करी के विरुद्ध चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत आज मुखबिर की सूचना पर कृष्णगंज पुलिस चौकी के सामने नाकाबंदी करवाई गई। जहां सरूपगंज की तरफ से आ रही पिकअप गाड़ी को रोककर तलाशी ली गई। इसमें राजस्थान निर्मित देशी शराब के 224 कर्टून भरे मिले। चालक के पास शराब को परिवहन करने के कोई भी दस्तावेज मौजूद नहीं होने से गाड़ी को जब्त कर चालक को भी गिरफ्तार कर अनादरा थाने लाया गया। प्रारम्भिक पूछताछ में उक्त शराब सरूपगंज स्थित एक सरकारी शराब की दुकान से भरकर अन्यंत्र सप्लाई की जानी थी। लेकिन इसकी मुखबिर के जरिए इत्तला मिलने से इसे कृष्णगंज में ही जब्त हो गई। 

कार्रवाई की सूचना मिलते ही एसपी स्वयं पहुंचे मौके पर
सरूपगंज थाना पुलिस द्वारा देर रात 1 बजे की गई इस कार्रवाई की और सूचना पुलिस कप्तान को दी गई। इस पर एसपी धर्मेंद्रसिंह यादव कुछ ही देर में मौके पर पहुंच गए। जिले के कप्तान का इस तरह देर रात सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचना, जिले के पुलिसकर्मियों को एक साफ संदेश हैं कि उनका मुखिया रात को भी अलर्ट रहते हैं और किसी भी वक्त किसी भी थाने में पहुंचकर पुलिस की कार्यप्रणाली की जांच परख कर सकते हैं। यानी अब जिले की पुलिस को अब रात दिन अलर्ट रहना पड़ेगा।
 एसपी बदलते ही जिले की पुलिस ने हुआ ऊर्जा का संचार
लगता हैं पिछले छह महीने से सुसुप्त अवस्था में चली गई सिरोही जिले की पुलिस में एसपी बदलते ही नई ऊर्जा का संचार होने लगा हैं। तभी तो लम्बे समय से शांत बैठी सिरोही पुलिस अब एक के बाद एक लगातार कार्रवाई कर रही हैं। पुराने एसपी हिम्मत अभिलाष की कार्यप्रणाली को लेकर जिले की पुलिस भी सन्तुष्ट नहीं थी। यदि किसी थाने में शराब तस्करों या अवैध गतिविधियों के विरुद्ध पुलिस कार्रवाई करती थी, तो एसपी हिम्मत अभिलाष इनाम के तौर पर उन्हें निलम्बित कर लाइन भेज देते थे। इसके कारण जिले का कोई भी पुलिस अधिकारी या कर्मचारी कार्रवाई करने से ही डरने लगे थे।  ऐसे में जिले से शराब तस्करी की एक प्रकार से लाइन ही शुरू हो गई। जिसको लेकर भाजपा विधायक समाराम गरासिया, पुलिस के एक  कांस्टेबल ने एसपी हिम्मत अभिलाष पर खुलकर मिलीभगत के आरोप लगाए थे। मीडिया द्वारा लगातार समाचार प्रकाशित होने से एसपी हिम्मत अभिलाष सहित सिरोही पुलिस की काफी किरकिरी भी हुई थी। इसको लेकर राज्य सरकार को मजबूरन एसपी हिम्मत अभिलाष का तबादला किया। 

Must Read: डर के साए में जी रहा पीड़िता का परिवार, पहले किया था जानलेवा हमला, गुप्तांग में डाल दिया था मिर्ची पाऊडर, अब मुकदमा वापस लेने के लिए दे रहे धमकियां

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :