Rajasthan @ शिक्षा का मंदिर और दुष्कर्म: सरकारी स्कूल के हेड मास्टर ने 11 साल की मासूम को बनाया हवस का शिकार, डरी—सहमी बच्ची ने चाइल्ड लाइन से मांगी मदद, दरिंदा गिरफ्तार

शिक्षा के मंदिर में ही मासूम बच्चियों को हवस का शिकार बनाया जा रहा है। ऐसी ही एक शर्मनाक हरकत जिले के सिंघाना पुलिस थाना इलाके में 11 साल की बच्ची से सरकार स्कूल के कक्ष में स्कूल के ही हेड मास्टर ने दरिंदगी कर दी।

सरकारी स्कूल के हेड मास्टर ने 11 साल की मासूम को बनाया हवस का शिकार, डरी—सहमी बच्ची ने चाइल्ड लाइन से मांगी मदद, दरिंदा गिरफ्तार

जयपुर। 
शिक्षा के क्षेत्र में नाम रोशन करने वाला झुंझुनूं जिले में अब ​हालात इस कदर खराब हो चले कि शिक्षा के मंदिर में ही मासूम बच्चियों को हवस का शिकार बनाया जा रहा है। ऐसी ही  एक शर्मनाक हरकत जिले के सिंघाना पुलिस थाना इलाके में 11 साल की बच्ची से सरकार स्कूल के कक्ष में स्कूल के ही हेड मास्टर ने दरिंदगी कर दी। इतना ही नहीं, आरोपी ने बच्ची को इतना डरा दिया कि बच्ची घरवालों को कुछ नहीं बोल पाई। अंत में परेशान पीड़िता ने चाइल्ड लाइन हेल्प के नंबर पर फोन कर हेडमास्टर की घिनौनी करतूत के बारे में बताया। इस पर चाइल्ड लाइन से आई टीम ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया और पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

सिंघाना थाना एसएचओ भजना राम ने बताया कि 11 साल की बच्ची से 5 अक्टूबर को दुष्कर्म हुआ था। 14 को इस संबंध में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई और पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक सरकारी स्कूल का हेड मास्टर केशव यादव ने 11 साल की 7वीं कक्षा के बच्ची को स्कूल के बाद रोक लिया। 5 अक्टूबर को स्कूल के बाद कक्षा में आरोपी ने दुष्कर्म किया और इसके बाद बच्ची को जान से मारने की धमकी की। इससे बच्ची डर गई और अपने परिजनों को भी कुछ नहीं बताया। इसके बाद बच्ची ने गुरुवार को पढ़ाई के दौरान अचानक किताब के पीछे लिखे चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर आपबीती बताई। इसके बाद चाइल्ड हेल्पलाइन ने घटना के बारे में बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अर्चना चौधरी को बताया। बाल कल्याण समिति की टीम ने बच्ची से मिलकर झुंझुनूं पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी को रेप की जानकारी दी। एसपी ने तुरंत ही सिंघाना थाना पुलिस को कार्रवाई करने करने के निर्देश दिए और आरोपी केशव यादव को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के पिता रिटायर्ड टीचर हैं। पिछले साल दिसंबर में ही आरोपी की शादी हुई थी और उसकी पत्नी भी सरकारी टीचर है।


बच्ची को अश्लील फोटो भेजता था आरोपी
पुलिस के पूछताछ में सामने आया है कि केशव यादव बच्ची को अश्लील फोटो भेजता था और अश्लील बातें भी करता था। दुष्कर्म करने के बाद पिछले दिनों बच्ची को बुलाकर उसके मोबाइल से सारे मैसेज तक डिलीट कर दिए। पुलिस ने बताया कि बाल कल्याण समिति का ईमेल मिलने के बाद पुलिस की टीम का गठन किया और नाकाबंदी करवाकर सरकारी हेड मास्टर केशव यादव को गिरफ्तार कर लिया।

Must Read: Sirohi में सीएमएचओ के पद पर अयोग्य चिकित्सक को कमान, 12 साल न्यूनतम योग्यता लेकिन 4 साल में ही बन गए सीएमएचओ, CMHO को वित्तीय गबन, कार्य में लापरवाही की मिल चुकी चार्जशीट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :