अब पंचायत चुनावों की तैयारी में सरकार: सरकार ने माना कम हो गया कोरोना तो फिर करवा लिया जाए पंचायत चुनाव, जयपुर में निकाली लॉटरी, जोधपुर, सिरोही सहित 12 जिलो में होने है चुनाव

एक ओर देश विदेश में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है और राजस्थान में चुनाव की तैयारी शुरू हो गई। आश्चर्य देखों कि एक ओर माना जा रहा है कि अक्टूबर—नवंबर तक कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है, वहीं दूसरी ओर सरकार पंचायत चुनाव करवाना चाहती है।

सरकार ने माना कम हो गया कोरोना तो फिर करवा लिया जाए पंचायत चुनाव, जयपुर में निकाली लॉटरी, जोधपुर, सिरोही सहित 12 जिलो में होने है चुनाव

जयपुर।
एक ओर देश विदेश में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है और राजस्थान में चुनाव की तैयारी शुरू हो गई। आश्चर्य देखों कि एक ओर माना जा रहा है कि अक्टूबर—नवंबर तक कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है, वहीं दूसरी ओर सरकार पंचायत चुनाव करवाना चाहती है। आप को बता दें कि देश एक बार पहले भी चुनावों का परिणाम भुगत चुका, अस्पतालों में बेड्स नहीं मिले, एकाएक आक्सीजन की कमी और हजारों की मौत जैसे हालात से गुजर चुका है। फिर एक बार अपर्याप्त संसाधनों के बीच चुनावों की तैयारी सरकार की ही मंशा पर सवाल खड़े कर रही है!
​जयपुर, जोधपुर, सिरोही सहित 12 जिलों में चुनाव 
जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों के 12 जिलों में चुनाव करवाए जाने है। इसमें जयपुर के अलावा अलवर, बारां, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, जोधपुर, कोटा, करौली, सवाई माधोपुर, सिरोही और श्रीगंगानगर शामिल है। इससे पहले राजस्थान में पिछले साल जनवरी में पंचायती राज चुनाव करवाए गए थे, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते इन पर विराम लग गया था। इन चुनावों से पहले प्रदेश के सभी जिलों के जिला प्रमुखों की आरक्षण लॉटरी निकाली गई थी। प्रदेश में जिला प्रमुख की 17 सीट सामान्य वर्ग की रखी थी, जबकि 6 एससी, 5 एसटी और 5 सीटों ओबीसी के लिए आरक्षित हुई। 33 में से 16 जिला प्रमुख के पद महिलाओं के लिए आरक्षित हुए हैं। जयपुर में सामान्य महिला के लिए जिला प्रमुख का पद आरक्षित है।
राजधानी में निकाली लॉटरी


जयपुर में आज जिला परिषद के सभी 51 वार्डो के अलावा पंचायत समिति बस्सी के 27 और पावटा के 23 वार्डो की आरक्षण लॉटरी निकाली गई। जिला निर्वाचन अधिकारी जयपुर की मौजूदगी में निकाली गई इस लॉटरी में जिला परिषद में 13, बस्सी पंचायत समिति (Bassi Panchayat Samiti) 7 और पावटा पंचायत समिति (Pawta Panchayat Samiti) में 6 वार्ड सामान्य रहे है। इन वार्डो में किसी भी वर्ग का व्यक्ति उम्मीदवारी पेश कर सकता है। जिला निर्वाचन अधिकारी अंतर सिंह नेहरा की मॉनटरिंग में जयपुर जिला कलेक्ट्रेट में ये लॉटरी निकाली गई। लॉटरी में चौंमू विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामलाल शर्मा और जमवारामगढ़ क्षेत्र के विधायक गोपाल मीणा के अलावा किसी भी क्षेत्र के विधायक वहां नहीं पहुंचे।
51 में से 13 वार्ड सामान्य के
जिला निर्वाचन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला परिषद जयपुर के 51 में से 13 वार्ड सामान्य है। वहीं 13 वार्ड सामान्य (महिला), 5 वार्ड अनुसूचित जाति (SC), 4 SC (महिला), अनुसूचित जनजाति (ST) के 6 वार्डो में से 3 ST महिला और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के 10 में से 5 महिला OBC के लिए आरक्षित किए गए है। इसी तरह बस्सी पंचायत समिति की लॉटरी में 27 में से केवल 7 वार्ड सामान्य, 7 सामान्य (महिला), एक OBC, ST के लिए आरक्षित 6 वार्डो में से 3 ST महिला के लिए और 6 SC के लिए आरक्षित वार्डो में से 3 SC महिला के लिए रिजर्व रखे गए है। इसके अलावा पावटा पंचायत समिति के 23 वार्डो में से 6 सामान्य, 7 सामान्य (महिला), 5 OBC में से 2 महिलाओं के लिए, ST के लिए आरक्षित 2 वार्डो में से 1 महिला के लिए और 3 SC के लिए आरक्षित वार्डो में से 1 SC महिला के लिए रिजर्व रखे गए है।

Must Read: Sirohi जिले के रेवदर इलाके में तेज रफ्तार ट्रोले से बाइक सवार युवक की मौत, ट्रक चालक पुलिस हिरासत में

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :