भारत के अमरूद निर्यात में उछाल: भारतीय अमरूद के निर्यात में जोरदार उछाल, वर्ष 2013 से लेकर अब तक 260 फीसदी की वृद्धि दर्ज

भारत से अमरूद के निर्यात में वर्ष 2013 से लेकर अब तक 260 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। अमरूद का निर्यात अप्रैल-जनवरी 2013-14 के 0.58 मिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर अप्रैल-जनवरी 2021-22 में 2.09 मिलियन अमेरिकी डॉलर के स्‍तर पर पहुंच गया।

भारतीय अमरूद के निर्यात में जोरदार उछाल, वर्ष 2013 से लेकर अब तक 260 फीसदी की वृद्धि दर्ज

नई दिल्ली, एजेंसी। 
भारत से अमरूद के निर्यात में वर्ष 2013 से लेकर अब तक 260 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। 
अमरूद का निर्यात अप्रैल-जनवरी 2013-14 के 0.58 मिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर अप्रैल-जनवरी 2021-22 में 2.09 मिलियन अमेरिकी डॉलर के स्‍तर पर पहुंच गया।
भारत से ताजे फलों के निर्यात में भी उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। समस्‍त ताजे खाद्य पदार्थों की श्रेणी में सर्वाधिक निर्यात ताजे अंगूर का होता है।
वर्ष 2020-21 के दौरान ताजे अंगूर का निर्यात कुल मिलाकर 314 मिलियन अमेरिकी डॉलर का हुआ। 
अन्य ताजे फलों का निर्यात 302 मिलियन अमेरिकी डॉलर, ताजे आम का निर्यात 36 मिलियन अमेरिकी डॉलर और अन्य (पान के पत्ते और मेवा) का निर्यात 19 मिलियन अमेरिकी डॉलर का हुआ।


वर्ष 2020-21 के दौरान भारत से ताजे फलों के कुल निर्यात में ताजे अंगूर और अन्य ताजे फलों की हिस्सेदारी 92 प्रतिशत थी।
वर्ष 2020-21 के दौरान भारत से ताजे फलों का निर्यात प्रमुख रूप से बांग्लादेश (126.6 मिलियन अमेरिकी डॉलर), नीदरलैंड (117.56 मिलियन अमेरिकी डॉलर), संयुक्त अरब अमीरात (100.68 मिलियन अमेरिकी डॉलर), ब्रिटेन (44.37 मिलियन अमेरिकी डॉलर), नेपाल (33.15 मिलियन अमेरिकी डॉलर), ईरान (32.54 मिलियन अमेरिकी डॉलर), रूस (32.32 मिलियन अमेरिकी डॉलर), सऊदी अरब (24.79 मिलियन अमेरिकी डॉलर), ओमान (22.31 मिलियन अमेरिकी डॉलर) और कतर (16.58 मिलियन अमेरिकी डॉलर) को किया गया।

वर्ष 2020-21 में भारत से ताजे फलों के निर्यात में शीर्ष दस देशों की हिस्सेदारी 82 प्रतिशत रही है। 
दही और पनीर (भारतीय कॉटेज चीज) के निर्यात में भी 200 प्रतिशत की जोरदार वृद्धि दर्ज की गई है जो अप्रैल-जनवरी 2013-14 के 10 मिलियन अमेरिकी डॉलर से काफी बढ़कर अप्रैल-जनवरी 2021-22 में 30 मिलियन अमेरिकी डॉलर के स्‍तर पर पहुंच गया है।
उल्‍लेखनीय है कि पिछले पांच वर्षों से डेयरी निर्यात 10.5 प्रतिशत की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर से बढ़ रहा है। वर्ष 2021-22 (अप्रैल-नवंबर) में भारत से 181.75 मिलियन अमेरिकी डॉलर मूल्य के डेयरी उत्पादों का निर्यात किया गया और चालू वित्त वर्ष में यह पिछले वर्ष के कुल निर्यात मूल्य को पार कर जाने की प्रबल संभावना है।
वर्ष 2020-21 में भारत से डेयरी उत्पादों का निर्यात प्रमुख रूप से यूएई (39.34 मिलियन अमेरिकी डॉलर), बांग्लादेश (24.13 मिलियन अमेरिकी डॉलर), अमेरिका (22.8 मिलियन अमेरिकी डॉलर), भूटान (22.52 मिलियन अमेरिकी डॉलर), सिंगापुर (15.27 मिलियन अमेरिकी डॉलर), सऊदी अरब (11.47 मिलियन अमेरिकी डॉलर), मलेशिया (8.67 मिलियन अमेरिकी डॉलर), कतर (8.49 मिलियन अमेरिकी डॉलर), ओमान (7.46 मिलियन अमेरिकी डॉलर) और इंडोनेशिया (1.06 मिलियन अमेरिकी डॉलर) का किया गया।
 2020-21 में भारत से डेयरी निर्यात में शीर्ष दस देशों की हिस्सेदारी 61 प्रतिशत से भी अधिक रही है।

Must Read: 12374 जनसंख्या वाले दूनिया के तीसरे सबसे कम आबादी वाले देश के विदेश मंंत्री ने जलवायु परिवर्तन की गंभीरता को समझाने का किया प्रयास

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :