बस में मिला खजाना: निजी बस में मिला करोड़ों का सोना—चांदी, हीरे तो अफसरों की आंखें फटी रह गई

सरुपगंज पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता,करोड़ो रूपये की कीमती धातु बरामद,निजी बस को किया जब्त,तीन लोगों को लिया हिरासत में

निजी बस में मिला करोड़ों का सोना—चांदी, हीरे तो अफसरों की आंखें फटी रह गई

गणपत सिंह मांडोली / गौरव अग्रवाल . फर्स्ट भारत।

एक निजी बस में करोड़ों का सोना—चांदी और हीरे मिले तो पुलिस अफसरों की आंखें भी फटी रह गई। सिरोही जिले के सरुपगंज थाना पुलिस को रविवार को उस समय बड़ी सफलता हाथ लगी जब उड़वारिया टोल प्लाजा के समीप नाकेबंदी में एक निजी बस से करोड़ों की कीमती धातु हाथ लगी। दरअसल सरुपगंज थानाधिकारी छगन डांगी ने मुखबिर की सूचना पर उड़वारिया टोल प्लाजा के समीप नाकेबंदी कर रखी थी। उसी दौरान एक निजी बस टोल नाके पहुंची जिस पर पुलिस ने बस की तलाशी ली। इस दौरान बस में एक विशेष चेम्बर में छुपकर रखी 3.56 क्विंटल चांदी, 540 ग्राम सोना, 942 ग्राम डायमंड, 2800 ग्राम स्टोन व 11 हजार रुपए की नकदी मिली। 
सरुपगंज थानाधिकारी छगन डांगी ने पूरी कार्रवाई की सूचना एसपी पूजा अवाना,एएसपी मिलन जोहिया व पिंडवाड़ा डिप्टी किशोरसिंह चौहान को दी। पुलिस ने निजी बस को जब्त कर ड्राइवर,परिचालक व खलासी को हिरासत में ले लिया है। सूचना पर एएसपी मिलन जोहिया, पिंडवाड़ा डिप्टी किशोरसिंह चौहान भी सरुपगंज थाने पहुंचे। सूचना मिलते ही सेल्स टैक्स विभाग के एसीटीओ महेंद्रसिंह भी सरुपगंज थाने पहुंचे। पूरे मामले का पिंडवाड़ा वृत्ताधिकारी किशोरसिंह चौहान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुलासा किया। हिरासत में लिए गए तीनों लोगों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

विशेष चेम्बर में छुपकर ले जाई जा रही थी सोना,चांदी व डायमंड की खेप
पुलिस अधिकारियों की आंखों से बचाकर सोना,चांदी व डायमंड जैसी कीमती धातु की तस्करी की कोशिशें खत्म होने का नाम नही ले रही है।तस्कर पुलिस से बचने के लिए कई नायाब तरीके अपना रहे है। पुलिस की रविवार को हुई कार्रवाई के भी बस में विशेष चेम्बर बनाकर कीमती धातु की तस्करी का भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस अधिकारी तस्करों की कोशिशों को विफल करने में जुट गए है। रविवार को भी तस्कर निजी बस में विशेष चेम्बर बनाकर सोना,चांदी, डायमंड छुपाकर ले जाने की फिराक में थे लेकिन पुलिस ने तस्करों के मंसूबो पर पानी फेर दिया और थानाधिकारी छगन डांगी की टीम ने कार्रवाई करते हुए माल बरामदगी के साथ ड्राइवर,परिचालक व खलासी को हिरासत में लिया है। 

आगरा से गुजरात ले जाई जा रही थी करोड़ों की कीमती धातु की खेप
पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में ड्राइवर, परिचालक व खलासी ने बताया कि सोना,चांदी,डायमंड व स्टोन्स की खेप आगरा से गुजरात ले जाई जा रही थी। उन्होंने बताया कि गुजरात के राजकोट,सुरत समेत अलग अलग स्थानों पर इन कीमती धातुओं की सप्लाई की जानी थी। ऐसे में अब पुलिस हर पहलू से पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

थानाधिकारी के मजबूत मुखबिर तंत्र के चलते पुलिस के खाते में आई बड़ी कार्रवाई
सरुपगंज थानाधिकारी छगन डांगी जो कि इससे पूर्व जिला स्पेशल पुलिस टीम के इंचार्ज भी रहे थे। ज़िला स्पेशल पुलिस के इंचार्ज रहते हुए छगन डांगी ने अपराध पर काबू पाने के लिए मुखबिरों का जाल बुना था। यही कारण है कि स्पेशल टीम के इंचार्ज रहते हुए भी छगन डांगी ने एक के बाद एक कार्रवाई को अंजाम दिया और आज हुई बड़ी कार्रवाई के भी उनका मुखबिर तंत्र का अहम रोल रहा। पुलिस का मुखबर तंत्र हमेशा ऑफिसर टू ऑफिसर डिपेंड रहता है और सब इंसेक्टर छगन डांगी ने हमेशा अपने मुखबिर तंत्र को मजबूत बनाने पर जोर दिया है।

Must Read: राजस्थान में बारिश का कहर! कोटा संभाग में बाढ़ के हालात, स्कूलों में छुट्टी घोषित, मकान छह फीट तक पानी में डूबे

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :