रूस का विश्व को आश्वासन: रूस के राष्ट्रपति ने रूसी वैक्सीन स्पूतनिक की तुलना की राइफल AK 47 से

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्पूतनिक वैक्सीन की तुलना राइफल से की है। राष्ट्रपति पुतिन का कहना है कि जितना विश्वास एके 47 से किया जाता है, उतना ही विश्वास कोरोना की रूसी वैक्सीन स्पूतनिक से किया जा सकता है।

रूस के राष्ट्रपति ने रूसी वैक्सीन स्पूतनिक की तुलना की राइफल AK 47 से

नई दिल्ली।
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्पूतनिक वैक्सीन की तुलना राइफल से की है। राष्ट्रपति पुतिन का कहना है कि जितना विश्वास एके 47 से किया जाता है, उतना ही विश्वास  कोरोना की रूसी वैक्सीन स्पूतनिक से किया जा सकता है। उन्होंने कहा की वल्र्ड फेमस कलाश्निकोव राइफल की तरह ही रूस की वैक्सीन विश्वसनीय है। पुतिन ने यह बयान विदेशों से वैक्सीन पर आ रही प्रतिक्रिया पर दिया है।

पुतिन ने उपप्रधानमंत्री तात्याना गोलिकोवा के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक के दौरान यह बयान दिया है। बैठक में राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि हमारा मेडिकेशन टेक्नॉलोजी और दशकों से उपयोग में लाई जा रही पद्धति पर आधारित है। वैक्सीन निश्चित रूप से मॉर्डन और अप टु डेट है। यह विश्वसनीय और सुरक्षित है। यह सिर्फ हम ही नहीं कह रहे, बल्कि यूरोपियन स्पेशलिस्ट का भी कहना है। मुझे भी लगता है, वे बहुत हद तक सही हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाया जा रहा है। विशेषज्ञों के संकेतों के आधार पर ही इसके उपयोग की सिफारिश कर सकते हैं। इसके उपयोग और परिणामों के विश्लेषण के आधार पर लगभग दस साल बाद यह मसला हल हो जाएगा। साथी ही लाइट स्पूतनिक वैक्सीन भी मॉर्डन टेक्नोलॉजी पर आधारित है। पुतिन ने कहा कि दुनियाभर के दवा निर्माताओं के बीच दुनिया के बाजारों में कॉम्पिटिशन देर से हुआ। हमें समझना होगा कि दुनिया भर के प्लेटफॉर्म ने अमेरिका की कंपनी फाइजर की मॉर्डना वैक्सीन को सपोर्ट करने का फैसला लिया। यह बहुत तेजी से दुनिया के बाजारों में प्रतिस्पर्धा कर रही है। अपने एक्सपर्ट, विदेशी सहयोगी और अमेरिका की रिपोर्टों में इसे मॉर्डन और इनोवेटिव ड्रग बताया है। मुझे आशा है कि एक्सपर्ट कोई गलती नहीं कर रहे हैं।

Must Read: चीन में सूखे से खाद्य उत्पादन को खतरा

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :