अयोध्या से भक्तों की लिए अच्छी खबर: रामभक्त दिसंबर 2023 में कर सकेंगे रामलला के दर्शन, गर्भगृह में विराजमान होंगे प्रभु राम

भगवान श्रीराम के भक्तों के लिए अयोध्या से अच्छी खबर आई है। रामभक्त अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर बनने वाले मंदिर में दिसंबर 2023 से रामलला के दर्शन कर सकेंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों की माने तो रामलला 2023 तक गर्भगृह में विराजमान हो जाएंगे।

रामभक्त दिसंबर 2023 में कर सकेंगे रामलला के दर्शन, गर्भगृह में विराजमान होंगे प्रभु राम

नई दिल्ली।
भगवान श्रीराम(Lord Shri Ram) के भक्तों के लिए अयोध्या (Ayodhya)से अच्छी खबर आई है। रामभक्त अयोध्या(Ram Bhakt Ayodhya) में श्रीराम जन्मभूमि पर बनने वाले मंदिर में दिसंबर 2023 से रामलला(Ram Lalla) के दर्शन कर सकेंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों की माने तो रामलला 2023 तक गर्भगृह में विराजमान हो जाएंगे। रामलला के विराजते ही मंदिर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया जाएगा। हालांकि मंदिर से जुड़ा कार्य लगभग 2025 में पूरा हो जाएगा। हालांकि, मंदिर से जुड़े बाकी काम 2025 तक पूरे होंगे। ट्रस्टियोें के मुताबिक गत वर्ष 5 अगस्त को श्रीराम मंदिर शिलापूजन के बाद निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया था। गणेशोत्सव(Ganeshotsav) के दौरान मंदिर की नींव(Temple foundation) का काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद अगले चरण का काम शुरू होगा। 2023 में दिसंबर महीने से पहले रामलला का गर्भगृह बनकर तैयार हो जाएगा। जुलाई में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट(Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust) की बैठक में भी इस पर चर्चा की गई थी। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय (General Secretary Champat Rai) ने उस समय भी कहा था कि 2023 के आखिर तक लोग राम मंदिर में दर्शन कर सकेंगे।


सीएम योग गुरुवार को जाएंगे अयोध्या
आपको बता दें कि 5 अगस्त को राम मंदिर के शिलापूजन(shila pujan) के एक साल बाद यानि की कल गुरुवार को  उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) अयोध्या पहुंच रहे हैं। सीएम योगी रामलला(CM Yogi Ramlala) के दरबार में विशेष अनुष्ठान में शामिल होंगे। दोपहर 2.15 बजे योगी रामलला के दर्शन करेंगे। उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ 50 महीने में 29 बार अयोध्या पहुंचे हैं। उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ अयोध्या के वासुदेव घाट पर दोपहर 12:15 बजे अन्न योजना की शुरुआत भी करेंगे। योगी यहां दो घंटे तक रुकेंगे । बताया जा रहा है कि अयोध्या में संत भूमिपूजन की सालगिरह को दीपावली जैसा उत्सव मनाने की तैयारी कर रहे हैंl श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट सावन में रामलला को चांदी के सिंहासन पर बैठाने की तैयारी कर रहा है। 500 साल बाद रामलला के लिए चांदी का झूला बनवा रहे ट्रस्ट ने सिंहासन की नापतौल भी करा ली है। रामादल ट्रस्ट ने रामलला के मंदिर में सोने की चौखट देने की घोषणा की है।

ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित कल्किराम (President Pandit Kalkiram)ने कहा कि भूमि पूजन के बाद उन्होंने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय को सोने की चौखट देने का संकल्प पत्र सौंपा था। अब मंदिर का मॉडल बदलने के बाद रामादल ट्रस्ट ने एक बार फिर मंदिर की चौखट की माप मांगी है।

Must Read: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टोक्यो पैरालिंपिक्स गेम्स के पदकवीरों से की मुलाकात, राजस्थान के देवेंद्र ने किया खिलाड़ियों का प्रतिनिधित्व

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :