राजस्थान कांग्रेस: राहुल गांधी का बयान बना कांग्रेस के गले की हड्डी, अशोक गहलोत के बाद दूसरे नेता दे रहे सफाई।

राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस में टक्कर बताने वाला राहुल गांधी का बयान कांग्रेस के गले की हड्डी बन गया है तथा कांग्रेस नेताओं को बार-बार सफाई देनी पड़ रही है। मुख्यमंत्री गहलोत के ब्यान के बाद आज कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने भी अपने नेता के बयान पर टिप्पणी कर अपनी सफाई दी है।

राहुल गांधी का बयान बना कांग्रेस के गले की हड्डी, अशोक गहलोत के बाद दूसरे नेता दे रहे सफाई।
राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने भी अपने नेता के बयान पर टिप्पणी कर अपनी सफाई दी है।

जयपुर। राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस में टक्कर बताने वाला राहुल गांधी का बयान  कांग्रेस के गले की हड्डी बन गया है तथा कांग्रेस नेताओं को बार-बार  सफाई देनी पड़ रही है। मुख्यमंत्री गहलोत के ब्यान के बाद आज कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने भी अपने नेता के बयान पर टिप्पणी कर अपनी सफाई दी है।  कांग्रेस की एक और नेता ममता भूपेश ने भी इसी विषय पर बयान दिया है। 

राजस्थान में कांग्रेस भवन शिलान्यास के बाद जयपुर दिल्ली पहुँचे राहुल गांधी ने राजस्थान के बारे में बयान दिया था कि राजस्थान में कांटे की टक्कर है। राहुल गांधी ने कहा था कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस जीत रही है लेकिन राजस्थान में मुकाबला करीबी हो सकता है।

राहुल गांधी का यह बयान इस बात को लेकर था कि शायद वह राजस्थान में कांग्रेस की जीत से आश्वस्त नजर नहीं आ रहे थे।  राहुल गांधी के बयान के बाद सामने आकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को स्वयं सामने आकर बयान देना पड़ा था।

अशोक गहलोत ने कहा था कि उनके बयान को चुनौती के रूप में स्वीकार करते हैं। अशोक गहलोत ने कहा था कि उनके नेता का बयान आप जीतकर दिखाओं, हम इसे चुनौती मानकर स्वीकार करते हैं। राजस्थान में कांग्रेस जीत रही है।

अब कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने भी अपने नेता राहुल गांधी के बयान पर सफाई दी है और कहा है कि एक नेता का अपने कार्यकर्ताओं से यह कहना कि आप टक्कर में हो, इस बात का परिचायक है कि आप ओवर कोन्फिडेंस में आकर घर मत बैठ जाना। आप यह सोच लेते हैं कि सरकारी तो हमारी बन रही है तो किस बात का डर है? 

अलका लांबा ने जयपुर प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा था कि हम राजस्थान में इस बार इतिहास रचेंगे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में पांच-पांच साल में सरकार बनने का इतिहास रहा है, इस बार हम सरकार बनाकर इतिहास रचेंगे।

उन्होंने राहुल गांधी के बयान पर सफाई देते हुए कहा कि -‘‘कई नेता जानबूझकर इस तरह की बातें किया करते हैं ताकि कार्यकर्ता का पैर जमीन पर पड़ा रहें और वह काम में जुटा रहें।

ज्ञात हो कि महिला बाल विकास मंत्री ममता भूपेश ने भी अपने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि हमारे नेता को मैं और हम सब कार्यकर्ता विश्वास दिलाते हैं कि राजस्थान में हमारी टक्कर में कोई नहीं है। राजस्थान में कांग्रेस की सरकारी आएगी।

Must Read: सीएम गहलोत अब गुजरात में दिखाएंगे जादुगिरी, चुनाव 2022 के लिए मिली बड़ी जिम्मेदारी

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :