कन्नड स्टार का निधन: कन्नड के सुपर स्टार पुनीत राजकुमार का हार्ट अटैक से निधन, मुख्यमंत्री ने शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की

जिम में वर्क आउट के दौरान दिल का दौरा पड़ने पर 46 साल के पुनीत राजकुमार को बेंगलुरु के विक्रम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुनीत के निधन की खबर आने के बाद कर्नाटक में शोक छा गया।

कन्नड के सुपर स्टार पुनीत राजकुमार का हार्ट अटैक से निधन, मुख्यमंत्री ने शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की

बेंगलुरु, एजेंसी। 
कन्नड़ सिनेमा जगत में सुपर स्टार और दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित राजकुमार के बेटे स्टार पुनीत का आज निधन हो गया। जिम में वर्क आउट के दौरान दिल का दौरा पड़ने पर 46 साल के पुनीत राजकुमार को बेंगलुरु के विक्रम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुनीत के निधन की खबर आने के बाद कर्नाटक में शोक छा गया। वहीं राज्य के सभी थिएटर बंद कर दिए गए। पुलिस को कई जगहों पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सख्ती करती पड़ी वहीं कई इलाकों में धारा 144 लागू की गई। इधर, सूचना मिलने के बाद कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई भी अस्पताल पहुंच गए।


सोशल मीडिया पर अप्पू को नमन 
कन्नड़ के सुपर स्टार पुनीत राजकुमार के निधन की सूचना के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राजकुमार के निधन पर ट्वीट कर दुख जताया। वहीं केपीसीसी अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने लिखा कि अपने अच्छे दोस्त की मौत पर गहरा सदमा पहुंचा है। अभिनेता महेश बाबू ने भी ट्वीट कर लिखा कि पुनीत के निधन की खबर से उन्हें “गहरा दुख” हुआ है। फिल्म निर्देशक राम गोपाल वर्मा ने ट्वीट किया कि पुनीत की आकस्मिक मृत्यु एक ट्रैजडभ् है। यह एक डरावना और भयानक आंख खोलने वाला सच है कि हम में से कोई भी कभी भी मर सकता हैं

अप्पू फिल्म से प्रशंसकों में अप्पू नाम से मशहूर
पुनीत राजकुमार ने 29 से अधिक कन्नड़ फिल्मों में बतौर अभिनेता के रूम में काम किया है। इसमें अप्पू से प्रशंसकों ने उनका नाम अप्पू ही रख दिया। पुनीत ने अप्पू के अलावा  अभि, वीरा कन्नडिगा, मौर्य, आकाश, अजय जैसे कई अच्छी फिल्में की। बाल कलाकार के तौर पर करियर की शुरूआत करने वाले पुनीत को 1985 में बेत्तादा हूवु में अपने प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता था। पुनीत ने चालिसुवा मोदागालु के साथ येरडु नक्षत्रगलु में बेहतरीन अदाकारी करने पर कर्नाटक राज्य पुरस्कार जीता था। 

Must Read: महाराष्ट्र विधानसभा के मानसून सत्र से पूर्व विपक्ष नेता का बयान शिवसेना हमारी शत्रु नहीं, वैचारिक मतभेद

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :