सिरोही: टेंडर प्रक्रिया में गाली गलौज: सिरोही के रेवदर ग्राम पंचायत में निविदा प्रक्रिया में वार्ड पंच ने जमकर मचाया उत्पात, सचिव को दी मां—बहन की गाली, टेंडर बॉक्स तक ले भागा, देखें ​वीडियो

सिरोही की रेवदर ग्राम पंचायत में टेंडर प्रक्रिया के दौरान एक वार्ड पंच की दादागिरी और ग्राम विकास अधिकारी से अभद्र भाषा के इस्तेमाल का मामला सामने आया है। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो भी वायरल हो रहे हैं।

गणपत सिंह मांडोली

सिरोही। 
सिरोही की रेवदर ग्राम पंचायत में टेंडर प्रक्रिया के दौरान एक वार्ड पंच की दादागिरी और ग्राम विकास अधिकारी से अभद्र भाषा के इस्तेमाल का मामला सामने आया है। 
इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो भी वायरल हो रहे हैं। इन वीडियो में रेवदर के वार्ड पंच द्वारा ग्राम विकास अधिकारी को मां—बहन की गाली देने, कुर्सियों को फेंकना सामने आया है। 
इतना ही नहीं, टेंडर प्रक्रिया को फेल करने के मकसद से वार्ड पंच टेंडर प्र​क्रिया के लिए बनाए गए बॉक्स तक लेकर भाग गए। 
हालांकि इस घटना के बाद सरपंच की मौजूदगी में समझाइश की गई तथा शांतिपूर्ण टेंडर प्रक्रिया पूरी की गई। लेकिन जनप्रतिनिधियों के द्वारा इस तरह की कार्यशैली लोगों के लिए चर्चा का विषय बन गई।


जानकारी के मुताबिक रेवदर ग्राम पंचायत में 5 अप्रेल का सफाई तथा लाइट व लारी संबंधी टेंडर ​प्रक्रिया पूरी की जानी थी। 
इस टेंडर प्रक्रिया के लिए 31 मार्च से 5 मार्च तक का समय निविदाएं आमंत्रित करने के बाद टेंडर खोलने का तय किया गया था। 
टेंडर खोलने के समय वार्ड पंच गोदाराम चौधरी पंचायत परिसर में पहुंचे तथा वहां मौजूद ग्राम विकास अधिकारी प्रकाश देवासी से अभद्र भाषा का प्रयोग करने लगे। 
वार्ड पंच ने मां—बहन तक की गाली दी। इसके बाद पंचायत में मौजूद अन्य लोगों ने समझाया तो कार्यालय की कुर्सियों को उठा उठाकर फेंकना शुरू कर दिया। 
इस पर भी मन नहीं भरा तो टेंडर प्रक्रिया को रद्द कराने के लिए टेंडर बॉक्स उठाकर भाग गए। इससे पहले वार्ड पंच ग्राम विकास अधिकारी की टेबल पर चढ़कर बैठ गए।


नियमों के मुताबिक वार्ड पंच नहीं ले सकता टेंडर
राज्य सरकार की ओर से विकास कार्यों में पारदर्शिता के लिए टेंडर प्रक्रिया को अपनाया जाता है। ग्राम पंचायत स्तर पर भी अब टेंडर प्रक्रिया अपनाई जा रही। रेवदर सरपंच अजबाराम चौधरी ने बताया कि ग्राम के विकास के लिए नियमानुसार वार्ड पंच टेंडर नहीं ले सकता है। 
लेकिन गोदाराम चौधरी टेंडर लेना चाहता था। इससे पहले भी गोदाराम चौधरी अपने परिचित के नाम से टेंडर ले चुका। 
अब इस बार सफाई और लाइट के इन टेंडरों को भी अपने लिए लेना चाहता था। इसको लेकर गाली गलौज की और पंचायत भवन में माहौल खराब किया।


 

टेंडर प्रक्रिया अपने नाम से लेने के प्रयास में वार्ड पंच
वार्ड पंच गोदाराम चौधरी इस टेंडर प्रक्रिया में टेंडर स्वयं लेने के प्रयास में थे।
लेकिन उनके द्वारा समय पर निविदाएं नहीं डाली गई, ऐसे में उन्होंने ग्राम विकास अधिकारी से गाली गलौज की। पंचायत भवन में कुर्सियों को उठा कर फेंका। 
वार्ड पंच गोदाराम चौधरी किसी मामले में जेल तक जा चुके है। अब राजकार्य में बाधा पहुंचाकर ग्राम विकास अधिकारी से गाली गलौज तक की। 
इस मामले को आलाधिकारियों को अवगत करवाया गया है। फिलहाल इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई गई ,
लेकिन अब ग्राम विकास अधिकारी प्रकाश देवासी द्वारा रिपोर्ट दर्ज करवाई जाएगी। 
अजबाराम चौधरी, सरपंच रेवदर, ​सिरोही।

Must Read: शिक्षा आज की महती आवश्यकता, यह सबसे शक्तिशाली हथियार - सिरोही विधायक संयम लोढ़ा

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :