Corona टीकाकरण की पहली वर्षगांठ: National Covid Vaccination अभियान की पहली वर्षगांठ पर भारत सरकार ने जारी किया डाक टिकट

कोरोना टीकाकरण अभियान के एक साल पूरे हो गए। देशभर में इस दौरान  158.12 करोड़ से अधिक की खुराक दी गई।  देश में राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की पहली वर्षगांठ के अवसर पर केंद्र सरकार की ओर से डाक टिकट जारी किया गया। 

National Covid Vaccination अभियान की पहली वर्षगांठ पर भारत सरकार ने जारी किया डाक टिकट

नई दिल्ली, एजेंसी।  
कोरोना टीकाकरण अभियान के एक साल पूरे हो गए। देशभर में इस दौरान  158.12 करोड़ से अधिक की खुराक दी गई।
 देश में राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की पहली वर्षगांठ के अवसर पर केंद्र सरकार की ओर से डाक टिकट जारी किया गया। 
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार और केंद्रीय संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान के साथ स्मारक डाक टिकट जारी किया गया। 
स्मारक डाक टिकट के डिज़ाइन में एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता को कोविड-19 वैक्सीन के साथ एक वरिष्ठ नागरिक को टीका लगाते हुए दिखाया गया है।
इसमें 'कोवैक्सीन' शीशी की छवि भी है और डाक टिकट देश भर में हमारे अग्रिम मोर्चे के स्वास्थ्यकर्मियों और वैज्ञानिक समुदाय द्वारा लोगों को कोविड महामारी से बचाने के लिए किए गए उल्लेखनीय कार्य को दर्शाता है।
इस दौरान डॉ मंडाविया ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के आज एक वर्ष पूरा होने पर डाक टिकट जारी किया जा रहा है।


टीकाकरण अभियान भारत में 16 जनवरी, 2021 को शुरू किया गया था। इस दौरान 158 करोड़ से अधिक कोविड टीके लगाए गए हैं। 
स्वास्थ्य मंत्री मंडाविया ने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम असल में वैश्विक समुदाय के लिए एक आदर्श है। जन भागीदारी के कारण ही भारत यह उपलब्धि हासिल कर सका। 
इसके लिए सभी स्वास्थ्य देख-रेख पेशेवरों, वैज्ञानिक समुदाय, वैक्सीन निर्माताओं और सभी लोगों को कोविड महामारी से लड़ने में उनकी अथक मेहनत और समर्पण के लिए धन्यवाद हैं।
केंद्रीय मंत्री मंडाविया ने कहा कि भारत का टीकाकरण कार्यक्रम देश की अद्वितीय यात्रा की कहानी है। यह हमारे भारतीय मॉडल और देश के नागरिकों की छिपी क्षमता तथा इन क्षमताओं पर प्रधानमंत्री मोदी के अडिग भरोसे से निर्देशित हमारे देश की असाधारण उपलब्धि को प्रदर्शित करता है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने सभी लोगों के सामूहिक प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि भारत का टीका अभियान वास्तव में इस बात का एक उदाहरण है कि यदि देश के नागरिक जन भागीदारी की भावना से एकजुट होते हैं तो भारत कुछ भी हासिल कर सकता है।
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के गतिशील नेतृत्व में भारत सरकार ने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। उन्होंने स्वदेशी टीकों के विकास को प्रमुख चुनौतियों में से एक बताया। 
अब तक कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक लगभग 93% पात्र आबादी और दूसरी खुराक लगभग 69.8% पात्र आबादी को दी जा चुकी है।
केंद्रीय संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान ने कहा कि मैं डाक विभाग द्वारा कोवैक्सिन पर डाक टिकट जारी करने की पहल की सराहना करता हूं। यह हम सभी के लिए ऐतिहासिक​ दिन है। 
इस अवसर पर आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव, डाक विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक  अशोक कुमार पोद्दार, भारत बायोटेक के अध्यक्ष कृष्णा एला और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Must Read: पंडित जी बाल कटवाने गए, नाई ने काट दी चोटी, पंडित जी ने करवा दिया मुकदमा

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :