वोट बैंक साधने की मुहिम: चुनाव से पहले 4 लाख 88 हजार किसानों को कृषि कनेक्शन देकर बिजली देगी गहलोत सरकार

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिजली कम्पनियों को युद्ध स्तर पर कृषि कनेक्शन जारी करने को कहा है। किसानों को साधने के लिए बिजली से जुड़े सभी पेंडिंग काम टाइम टेबल बनाकर निपटाने को भी कहा गया है। पहले फेज में 2022-23 के लिए 2 लाख 31 हजार 344 कृषि कनेक्शन जारी किए जाएंगे।

चुनाव से पहले 4 लाख 88 हजार किसानों को कृषि कनेक्शन देकर बिजली देगी गहलोत सरकार

जयपुर। राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले गहलोत सरकार 4.88 लाख पेंडिंग और नए कृषि बिजली कनेक्शन जारी करेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिजली कम्पनियों को युद्ध स्तर पर कृषि कनेक्शन जारी करने को कहा है। किसानों को साधने के लिए बिजली से जुड़े सभी पेंडिंग काम टाइम टेबल बनाकर निपटाने को भी कहा गया है। बिजली विभाग की समीक्षा बैठक में गहलोत ने कहा सरकार प्रदेश में बिना रुकावट बिजली की सप्लाई के साथ किसानों को सस्ती बिजली उपलब्ध कराने के लिए डेडिकेटेड है। अगले दो साल में कुल 4 लाख 88 हजार 625 नए और पेंडिंग कृषि कनेक्शन जारी किए जाएंगे। सरकार ने मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना भी शुरू की है,जिसका मेन मकसद किसानों को आर्थिक तौर पर सहायता देना है।

गहलोत ने बिजली विभाग और बिजली कम्पनियों के अधिकारियों को युद्ध स्तर पर कृषि कनेक्शन जारी करने के साथ बिजली और उपकरणों की क्वालिटी से कोई समझौता नहीं करने को कहा है। साथ ही लेबर रेट कॉन्ट्रेक्ट (CLRC) के ठेकेदारों को जरूरी सामान मुहैया कराने में आ रही कठिनाइयों के जल्द निपटारा के भी निर्देश दिए। पहले फेज में 2022-23 के लिए 2 लाख 31 हजार 344 कृषि कनेक्शन जारी किए जाएंगे। दूसरे फेज में 2023-24 में 2 लाख 58 हजार 625 नए कृषि कनेक्शन जारी करने का टारगेट रखा गया है।

पहले फेज में जयपुर डिस्कॉम को 71207, जोधपुर डिस्कॉम को 90137 और अजमेर डिस्कॉम को 70 हजार कनेक्शन जारी करने का टारगेट दिया गया है। लगभग 50 प्रतिशत कनेक्शन के काम टर्नकी कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर और बाकी 50 फीसदी लेबर लेट कॉन्ट्रैक्ट( सीएलआरसी) के माध्यम से करवाए जाएंगे। टर्नकी में कॉन्ट्रैक्ट के तहत एक कंपनी सभी फैसिलिटी, डिजाइन, कंस्ट्रक्शन, इस्टेब्लिशमेंट, आफ्टर मार्केट सपोर्ट, टेक्नीकल सर्विस और डवलपमेंट सर्विस प्रोवाइड करवाती है। सभी इक्विपमेंट खरीदार फर्म को उपलब्ध करवाती हैं। जिम्मेदार कंपनी कॉन्ट्रैक्ट में सहमति के अनुसार काम करती हैं।

Must Read: भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कांग्रेस पर साधा निशाना, राजस्थान को बताया नकल गिरोह का गढ़, ​डोटासरा दें इस्तीफा

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :