Rajasthan @ रामगंज में बिजली सब स्टेशन: Energy Minister भंवर सिंह भाटी ने प्रदेश के दूसरे गैस इन्सूलेटेड आधारित सब-स्टेशन का किया लोकापर्ण, सालाना 50 लाख रुपए की होगी बचत

ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के द्वारा जयपुर के रामगंज में नवनिर्मित विद्युत वितरण निगमों के दूसरे गैस इन्सूलेटेड आधारित 33/11 केवी सब-स्टेशन रामगंज का लोकार्पण किया। इसके बनने से बिजली छीजत में कमी आने से सालाना 50 लाख रुपए की बिजली की बचत होगी।

Energy Minister भंवर सिंह भाटी ने प्रदेश के दूसरे गैस इन्सूलेटेड  आधारित सब-स्टेशन का किया लोकापर्ण, सालाना 50 लाख रुपए की होगी बचत

जयपुर।
Energy Minister भंवर सिंह भाटी (Bhanwar Singh Bhati) ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के द्वारा जयपुर के रामगंज (Ramganj) में नवनिर्मित विद्युत वितरण निगमों के दूसरे गैस इन्सूलेटेड (Gas Insulated) आधारित 33/11 केवी सब-स्टेशन रामगंज का लोकार्पण किया। इस अवसर पर किशनपोल विधान सभा के विधायक अमीन कागजी (Amin Kagzi) एवं आदर्श नगर विधानसभा के विधायक रफीक खान (Rafiq Khan) विशिष्ट अतिथि थे। लोकार्पण समारोह में राजस्थान डिस्कॉम्स के चेयरमैन भास्कर ए. सावंत (Bhaskar A. Sawant), जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक नवीन अरोड़ा(Naveen Arora), जयपुर डिस्कॉम के तकनीकी निदेशक के.पी.वर्मा सहित जयपुर डिस्कॉम के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। पीएफसी के अधिकारी सौरभ कुमार एवं  राजीव फर्लिया वर्चुअल माध्यम से समारोह में उपस्थित रहे।

ऊर्जा मंत्री  भंवर सिंह भाटी ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि आज जयपुर के रामगंज में नवीनतम तकनीक से बने प्रदेश मेें विद्युत वितरण निगमों के दूसरे 33/11 केवी गैस इन्सूलेटेड  आधारित सब-स्टेशन का शुभारम्भ हुआ है। यह सब-स्टेशन केन्द्र सरकार की आईपीडीएस योजना के अन्तर्गत राजस्थान सरकार व पावर फाईनेन्स कॉर्पोरेशन (Power Finance Corporation) द्वारा पोषित है और इसके बनने से बिजली छीजत में कमी आने से सालाना 50 लाख रुपए की बिजली की बचत होगी। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में हमारा प्रयास रहेगा कि प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी इस तरह के सब-स्टेशन बनाए जाएगें, जिससे सभी श्रेणियों के उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता की व्यवधान रहित बिजली की आपूर्ति हो। ऊर्जा मंत्री भाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप बिजली तंत्र को सुदृढ करके प्रदेश के सभी उपभोक्ताओं चाहे वो घरेलू उपभोक्ता हो या कृषि उपभोक्ता अथवा औद्योगिक उपभोक्ता सभी को अच्छी गुणवत्ता की निर्बाध बिजली की आपूर्ति की जाएगी।  उन्होने कहा की इस नई तकनीक पर आधारित जयपुर शहर में चार सब-स्टेशन बनेगें, जिसमें से दूसरे सब-स्टेशन का आज शुभारम्भ हो गया है एवं दो अन्य सब-स्टेशन मीना का नाडा व महेश नगर में भगवती नगर का कार्य प्रगति पर है और ये दोनों सब-स्टेशन भी आगामी माह में शुरू हो जाएंगे।


7.5 करोड़ की लागत से तैयार
राजस्थान डिस्कॉम्स के चेयरमैन भास्कर ए. सावंत ने बताया कि प्रदेश में डिस्कॉम्स के दूसरे गैस इन्सूलेटेड आधारित 33/11 केवी सब-स्टेशन रामगंज के निर्माण पर लगभग  7.5 करोड रूपए की लागत आई है। इससे रामगंज क्षेत्र के ऊंचा कुआ, नगीना मस्जिद, कावंटियो की पीपली, नवाब का चौराहा, भाबू का टीबा, हल्दियाें का रास्ता, सूरजपोल अनाज मण्डी एवं रामगंज चौपड के आस-पास के क्षेत्र के लगभग 4000 उपभोक्ता लाभांवित होगें। जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक नवीन अरोड़ा ने जयपुर शहर में इस नई तकनीक के आधार पर निर्मित 33/11 केवी सब-स्टेशन रामगंज के बारे में प्रजेन्टेशन देते हुए बताया कि यह सब-स्टेशन रिमोट संचालित है तथा इसका सिस्टम स्कॉडा सक्षम है और इसे दूर से केन्द्रीय नियंत्रण कक्ष से भी संचालित किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस सब-स्टेशन के शुरू होने से छीजत में कमी आएगी साथ ही जीआईएस तकनीक के कारण फाल्ट व ट्रिपिंग में कमी होने के कारण  उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता की बिजली आपूर्ति की जा सकेगी। 

Must Read: वर्ष 2020 के सर्वश्रेष्ठ विधायक पुरस्कार से सम्मानित किया संयम लोढ़ा को

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :