जयपुर NMMS परीक्षा 2021 का परिणाम जारी: शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने एनएमएमएस परीक्षा 2021 का परिणाम किया जारी, नागौर की संध्या अव्वल

शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने गुरुवार को राजस्थान प्रदेश राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा (एनएमएमएस परीक्षा) 2021 का परिणाम वर्चुअल माध्यम से ज़ारी किया। गत वर्ष 17 नवम्बर को आयोजित हुई इस परीक्षा में प्रथम तीन रैंक पर 5 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। इनके नामों की घोषणा डॉ. कल्ला द्वारा की गई। 

शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने एनएमएमएस परीक्षा 2021 का परिणाम किया जारी, नागौर की संध्या अव्वल

जयपुर।
शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने गुरुवार को राजस्थान प्रदेश राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा (एनएमएमएस परीक्षा) 2021 का परिणाम वर्चुअल माध्यम से ज़ारी किया। 
गत वर्ष 17 नवम्बर को आयोजित हुई इस परीक्षा में प्रथम तीन रैंक पर 5 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। इनके नामों की घोषणा डॉ. कल्ला द्वारा की गई। 
इस परीक्षा में प्रथम स्थान राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय रामपुरा ,जिला नागौर की छात्रा कुमारी संध्या पुत्री राजूराम ने प्राप्त किया। डॉ. कल्ला ने फोन पर कुमारी संध्या को बधाई दी।
शिक्षा मंत्री ने आगे की शिक्षा हेतु छात्रा से वार्तालाप करते हुए श्लोक के माध्यम से बड़ों का सम्मान करने का महत्व बताया तथा उज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की।


इस अवसर पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि राजस्थान में रोज़गारपरक शिक्षा प्रणाली की आवश्यकता है जिससे उच्च माध्यमिक शिक्षा के बाद विद्यार्थी रोजगार की ओर उन्मुख हो सकें।
डॉ. कल्ला ने बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान अब केरल जैसे शिक्षित राज्यों को टक्कर दे रहा है। राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान,उदयपुर की निदेशक प्रियंका जोधावत ने वर्चुअल रूप से जुड़कर शिक्षा मंत्री को इस परीक्षा के आयोजन में किए गए विभिन्न नवाचारों के बारे में जानकारी दी। 
जोधावत ने बताया कि विद्यार्थियों व परीक्षा का आयोजन कर रहे समस्त शिक्षकों व अधिकारियों के लिए सुविधाजनक बनाने हेतु परीक्षा शुल्क ऑनलाइन लिंक के माध्यम से जमा कराने का प्रावधान किया गया। 
इसके साथ ही परीक्षा पैटर्न मैं बदलाव कर परीक्षार्थियों को दो प्रश्न पत्रों के स्थान पर एक प्रश्न पत्र दिया गया। जोधावत ने बताया कि इस वर्ष पहली बार चयनित विद्यार्थियों को अंकतालिका व प्रमाण पत्र दिए जाएंगे।
उल्लेखनीय है कि राजस्थान प्रदेश राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा (एनएमएमएस परीक्षा) कक्षा 8 वीं के विद्यार्थियों के लिए आयोजित होती है। उतीर्ण होने वाले विद्यार्थियों को 9 वीं से 12 वीं कक्षा के लिए छात्रवृत्ति दी जाती है। 

Must Read: विश्व में मच्छरों से सालाना 10 लाख लोगों की होती हैं मौत, अब मच्छरों की आबादी को काबू में करने की तैयारी

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :