CBSE परीक्षा पर सरकार का बड़ा फैसला: कोरोना के चलते 10 वीं के स्टूडेंट्स भी होंगे प्रमोट, 12 की परीक्षा 15 जून के बाद कराने की घोषणा

केंद्र ने बुधवार को CBSE स्टूडेंट्स के लिए बड़ा फैसला किया है। सरकार ने 4 मई से शुरू होने वाली 10वीं की परीक्षा रद्द करने का ऐलान कर दिया। वहीं 12वीं की परीक्षा फिलहाल अभी टाल दी गई है। संभावना ऐसी जताई जा रही है कि 12वीं की परीक्षा 15 जून के बाद हो सकती है।

कोरोना के चलते 10 वीं के स्टूडेंट्स भी होंगे प्रमोट, 12 की परीक्षा 15 जून के बाद कराने की घोषणा

नई दिल्ली (New Delhi)। 
कोरोना(Corona) के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र ने बुधवार को CBSE स्टूडेंट्स के लिए बड़ा फैसला किया है। सरकार ने 4 मई से शुरू होने वाली 10वीं की परीक्षा रद्द करने का ऐलान कर दिया। वहीं 12वीं की परीक्षा फिलहाल अभी टाल दी गई है। संभावना ऐसी जताई जा रही है कि 12वीं की परीक्षा 15 जून के बाद हो सकती है। इसका फैसला सरकार जून के प्रथम सप्ताह में कर सकती है। जानकारी के मुताबिक 4 मई से 14 जून तक चलने वाली 12वीं की परीक्षा अभी टाली गई है। ये परीक्षा इसके बाद होगी। बोर्ड 1 जून को हालात की समीक्षा करेगा। तब फैसला किया जाएगा। अगर परीक्षा होती है तो कम से कम 15 दिन पहले छात्रों को इसके बारे में बताया जाएगा। वहीं 10वीं की परीक्षा 4 मई से 14 जून तक होनी थीं। ये पूर्ण रूप से रद्द कर दी गई है। इसका साफ मतलब है कि इस साल इनकी परीक्षा नहीं होंगी। सभी स्टूडेंट्स अगली क्लास में प्रमोट( promoted) किए जाएंगे, लेकिन रिजल्ट के साथ। इस रिजल्ट का आधार क्या होगा, CBSE इसे तय करेगा।
अगर कोई छात्र बोर्ड की ओर से दिए गए मार्क्स से संतुष्ट नहीं होगा तो वो परीक्षा में शामिल हो सकता है, लेकिन ये परीक्षा तब होगी, जब इसके लिए देश में हालात सामान्य होंगे। CBSE की बोर्ड परीक्षाओं में 10वीं और 12वीं को मिलाकर करीब 35.81 लाख स्टूडेंट शामिल होने वाले थे। इनमें 12वीं के 14 लाख से अधिक और 10वीं के 21.50 लाख छात्र थे।

Must Read: दिल्ली के विकासपुरी में शख्स की चाकू मार कर हत्या

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :