अच्छी खबर: भारत में कोरोना मृत्यु दर घटकर 1.5 प्रतिशत हुई

23 राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत से कम दर्ज की गई

भारत में कोरोना मृत्यु दर घटकर 1.5 प्रतिशत हुई

New Delhi | भारत ने इस वैश्विक महामारी (Covid19) के खिलाफ सामूहिक लड़ाई में महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है। कोरोना मृत्यु दर (सीएफआर) घटकर 1.5 प्रतिशत से भी कम हो गई है। लगातार कमी के बाद सीएफआर आज 1.49 प्रतिशत पर पहुंच गई है। भारत में प्रति मिलियन आबादी पर मृतकों की संख्या भी अब काफी कम होकर 88 रह गई है।

केंद्र सरकार की अगुवाई वाली टेस्ट ट्रेस, ट्रैक, ट्रीट की रणनीति ने व्यापक देखभाल के दृष्टिकोण के आधार पर प्रभावी संगरोध रणनीति, आक्रामक परीक्षण और मानकीकृत नैदानिक प्रबंधन प्रोटोकॉल पर ध्यान केंद्रित किया है जिसमें खून को पतला करने वाली दवा और गैर-आक्रामक ऑक्सीजन का उपयोग शामिल है। राज्य/केंद्रशासित प्रदेश सरकारों द्वारा प्रभावी कार्यान्वयन के तहत अस्पताल में भर्ती लोगों की शीघ्र पहचान, त्वरित पृथकवास और समय पर नैदानिक प्रबंधन के द्वारा सकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं। इन कदमों की बदौलत यह सुनिश्चित हो गया है कि भारत में कोविड-19 से  मृत्यु दर बहुत कम है और यह काबू में भी है।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.07 AM.jpeg

भारत में मृत्यु दर विश्व में सबसे कम है। देश में पिछले 24 घंटे के दौरान 551 मरीजों की मौत हुई है।  प्रतिदिन मौत की संख्या में स्थिर और लगातार गिरावट देखा जा रहा है।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.07 AM (2).jpeg

कोविड के प्रबंधन और रोकथाम नीति के तहत, एक अनूठी पहल यह की गई है कि गंभीर मरीजों में मौत की संभावना कम करने की दिशा में नैदानिक प्रबंधन के लिए आईसीयू डॉक्टरों की क्षमता का निर्माण करने हेतु नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में ई-आईसीयू सेवा शुरू की गई है। सप्ताह में दो दिन मंगलवार और शुक्रवार को राजकीय अस्पतालों में आईसीयू डॉक्टरों के लिए जानकारी के आदान-प्रदान हेतु डोमेन विशेषज्ञों द्वारा टेली/वीडियो के जरिए परामर्श सत्र आयोजित किए जा रहे हैं। इन सत्रों की शुरूआत 8 जुलाई 2020 से हो चुकी है।

इसके परिणामस्वरूप, 23 राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों में सीएफआऱ राष्ट्रीय औसत से कम दर्ज हुआ है।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.07 AM (1).jpeg

 

कोरोना से मरने वाले मरीजों में 65 प्रतिशत केवल 5 राज्यों में ही दर्ज हैं। इस महामारी से मरने वालों में सबसे अधिक महाराष्ट्र से 36 प्रतिशत हैं।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.08 AM.jpeg

 

कोविड से मरने वाले 85 प्रतिशत मरीज सिर्फ 10 राज्यों/केन्दर्शासित प्रदेशों से हैं। 

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.34.11 AM.jpeg

 

6 राज्यों / केन्दर्शासित प्रदेशों में संचयी मौत का आंकड़ा 100 से नीचे दर्ज किया गया है जबकि 8 राज्यों / केन्दर्शासित प्रदेशों में मौत का आंकड़ा 1000 से कम देखा गया है।16 राज्यों / केन्दर्शासित प्रदेशों में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 10000 से कम दर्ज की गई है।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.30.54 AM.jpeg

पिछले 24 घंटे के दौरान 59,454 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हुए जिसमें 48,268 नए स्वस्थ होने वाले हैं। इसके बाद कुल स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा 74 लाख (74,32,829) से अधिक हो गया। राष्ट्रीय स्तर पर स्वस्थ होने की दर में निरंतर वृद्धि से एक दिन में स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा भी परिलक्षित होता है, जो वर्तमान में 91.34 प्रतिशत है।

भारत में कोविड-19 के सक्रिय मरीजों में लगातार कमी की प्रवृत्ति दर्ज की जा रही है। वर्तमान में कुल संक्रमित मामलों में सक्रिय मामलों की संख्या सिर्फ 7.16 प्रतिशत है, जो 5,82,649 है। सक्रिय मामले लगातार दूसरे दिन 6 लाख से नीचे है। 

स्वस्थ होने वालों में 79 प्रतिशत सिर्फ 10 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में ही केंद्रित हैं।

कोरोना से प्रतिदिन स्वस्थ होने वाले में कर्नाटक और महाराष्ट्र 8000 से अधिक की संख्या के साथ अग्रणी राज्य हैं और उसके बाद एक दिन में 7000 से अधिक मरीजों के स्वस्थ होने के साथ केरल का स्थान है।

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.06 AM (1).jpeg

 

देश में पिछले 24 घंटे में 48,268 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। नए संक्रमितों में 78 प्रतिशत 10 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में निहित हैं।नए संक्रमितों में 6000-6000 से अधिक संख्या के साथ केरल और महाराष्ट्र में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं वहीं इसके बाद 5000 से अधिक मामले दिल्ली में सामने आए हैं। 

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.05 AM.jpeg

 

पिछले 24 घंटे के दौरान कोराना वायरस महामारी से 551 मरीजों की मौत हुई है। इनमें से करीब 83 प्रतिशत 10 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में अंतर्निहित हैं।

महाराष्ट्र (127 मौत) में मरने वालों का आंकड़ा कुल मरने वालों की संख्या का 23 प्रतिशत से अधिक है। 

WhatsApp Image 2020-10-31 at 10.26.06 AM.jpeg

 

***

एमजी/एएम/पीकेपी