कोरोना पर WHO की चेतावनी: विश्व में 78 करोड़ वेक्सीनेशन के बावजूद तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने कोरोना महामारी के लंबे समय तक रहने की चेतावनी जारी की है। WHO ने एशिया और मध्य पूर्व के देशों में बढ़ते कोरोना केस पर भी चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि दुनियाभर में लोगों को वैक्सीन के करीब 78 करोड़ डोज दिए जा चुके हैं।

विश्व में 78 करोड़ वेक्सीनेशन के बावजूद तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

नई दिल्ली। 
वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने कोरोना महामारी के लंबे समय तक रहने की चेतावनी जारी की है। WHO ने एशिया और मध्य पूर्व के देशों में बढ़ते कोरोना केस पर भी चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि दुनियाभर में लोगों को वैक्सीन के करीब 78 करोड़ डोज दिए जा चुके हैं। इसके बाद भी कोविड-19 के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। टेड्रोस ने सोशल डिस्टेंसिंग रखने और मास्क पहनने की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि वे एक बार फिर सभी देशों के बीच व्यापार और ट्रैवल होते देखना चाहते हैं। WHO की टेक्निकल लीड मारिया वन कर्खोवे ने बताया कि महामारी का दायरा बढ़ते जा रहा है। अब यह पहलू की तुलना में काफी तेजी से फैल रहा है। दुनियाभर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इसी बीच यूरोप में कोरोना की वजह से मरने वालों का आंकड़ा 10 लाख के पार पहुंच गया। यूरोप के 52 देशों में अब तक 10 लाख 288 लोगों की मौत हो चुकी है। इससे पहले WHO के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस ग्रेब्रेयेसस ने सोमवार को बताया था कि लगातार चौथे हफ्ते में मौतें भी बढ़ी हैं। जनवरी और फरवरी में लगातार 6 हफ्ते केस कम हुए थे। अब स्थितियां बिल्कुल बदल गई हैं। एशिया और मिडिल ईस्ट के कई देशों में हालात बिगड़ रहे हैं। वैक्सीनेशन ड्राइव के बावजूद नए केस बढ़ रहे हैं। इसे रोकने में वैक्सीन सबसे मजबूत हथियार है, लेकिन यह अकेला काफी नहीं है। मास्क पहनना, फिजिकल डिस्टेंस, सफाई, टेस्टिंग, ट्रेसिंग और आइसोलेशन न सिर्फ संक्रमण रोकते हैं, बल्कि जिंदगी भी बचाते हैं। दुनिया में कोरोना का पीक 8 जनवरी को आया था। इस दिन सबसे ज्यादा 8.45 लाख मिले थे। इसके बाद 21 फरवरी को यह संख्या घटकर 3.22 लाख हो गई। यहां से केस बढ़ना शुरू हुआ और 11 अप्रैल को करीब दोगुना बढ़कर 6.32 लाख हो गए।
कोरोना के दुनिया भर में 13 करोड़ केस
जानकारी के मुताबिक दुनिया में अब तक 13.72 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 29.59 लाख मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 11.04 करोड़ लोग ठीक हो गए। 2.38 करोड़ मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। इनमें 2.37 करोड़ मरीजों में संक्रमण का हल्का लक्षण है, जबकि 1.03 लाख मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है।
राजस्थान में फिर मिले 5500 से अधिक मरीज
राजस्थान में मंगलवार को कोरोना के 5,528 नए केस मिले हैं। अप्रैल में लगातार आज तीसरा दिन है, जब संक्रमितों की संख्या 5 हजार के पार गई है। आज एक साथ 28 मौत भी हुई है, जो अब तक एक दिन में हुई मौत की संख्या में सबसे ज्यादा है। पॉजिटिव मामलों में आज जयपुर समेत कई शहरों में जबरदस्त बढ़ोतरी देखने को मिली है। 33 में से 15 जिलों में कोरोना के केस 100 से ऊपर रहे हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, जयपुर में रिकॉर्ड तोड़ 989 केस मिले हैं। इससे एक दिन पहले सोमवार को भी जयपुर में संक्रमित केसों की संख्या 900 के पार गई थी। जयपुर में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने आज शहर के तमाम धर्म गुरूओं की बैठक बुलाकर उनसे 30 अप्रेल तक धार्मिक स्थलों को बंद करने का आग्रह किया, लेकिन बैठक में धार्मिक स्थलों को बंद करने पर कोई सहमति नही बन पाई। अधिकतर धर्मगुरु धार्मिक स्थलों को बंद करने के पक्ष में नजर नहीं आए। कुछ प्रशासन के सहयोग करने की बात कहते रहे तो कुछ धर्मगुरुओं ने एक सिस्टम बनाकर धर्मिक स्थलों को खुले रखने की बात कही। धर्मगुरुओ का कहना है कि एक निश्चित गाइडलाइन धार्मिक स्थलों के लिए जारी कर दी जाए, जिसमें प्रतिदिन आने वाले भक्तों की संख्या भी शामिल हो।

Must Read: भारतीय डोपिंग निरोधक विज्ञान को आत्मनिर्भर बनने के दिशा में एक सराहनीय कदम, केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर नई दुर्लभ रासायनिक संदर्भ सामग्रियों को किया लॉन्च

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :